Memory Alexa Hindi

सास बहु के सम्बन्ध

saas-bahu-ke-sambandh

सास-बहु
sas bahu



                    sas-bahu

सास बहु में लड़ाई दूर करने के उपाय |
sas bahu me ladai dur karne ke upay



hand logo सास बहु (sas bahu ) में अच्छे सम्बन्ध बनाने के लिए दोनों की एक साथ में हँसती मुस्कुराती तस्वीर को खूबसूरत फ्रेम में लगवा ले। फिर इसे घर के नैत्रत्य कोण अथवा पश्चिम दिशा में लगा ले , दोनों के बीच में कभी भी मतभेद नहीं होंगे, आपस में प्रेम बना रहेगा ।

hand logo यदि घर में रसोई / किचेन गलत जगह में बना है तो भी सास-बहु में मतभेद ( sas bahu me matbhed ) होने ही है । रसोई में यह ध्यान दें कि आग और पानी पास पास ना हो , जल सम्बन्धी कार्य रसोई की उत्तर दिशा में और गैस, रसोई की आग्नेय दिशा ( पूर्व दक्षिण ) में रखनी चाहिए ।
अगर रसोई में दोष हो तो रसोई की दक्षिण दिशा में यज्ञ करते हुए ऋषियों की तस्वीर लगा ले । इस उपाय को करने से सास बहु में मतभेद बिलकुल भी नहीं होंगे ।

hand logo यदि घर में सास बहु के मध्य टकराव रहता है तो मंगलवार को सूजी का हलवा बनाकर उसको मंदिर के बाहर बैठे गरीबों में बाँटना चाहिए । इससे सास बहु के मध्य सम्बन्ध मधुर होते है ।


hand logo अगर घर में सास बहु में कलह ( sas bahu me kalah ) रहती हो तो घर के मुख्य द्वार पर बाहर की ओर श्वेतार्क (सफेद आक के गणेश) लगाये इससे घर में सुख-शांति बनी रहेगी।

hand logo घर में सुख शांति के लिए बहू को चाहिए की सूर्योदय से पहले घर में झाडू लगाकर कचड़े को घर के बाहर फेंके, यह किसी काम वाली बाई से भी करा सकते है ।

hand logo ग्रहस्थ जीवन में पत्नी को हमेशा पति के बायीं और ही शयन करना चाहिए इससे पति और पत्नी के मध्य प्रेम बना रहता है ।

hand logo यदि किसी महिला की सास या ससुर उससे नाराज रहता हो तो वह महिला प्रतिदिन जल में गुड़ मिलाकर सूर्यदेव को अध्र्य दे तो उसकी यह समस्या दूर हो जाती है।

hand logo यदि किसी परिवार में सास बहु में झगड़ा ( sas bahu me jhagda ) होता रहता हो तो बहु पूर्णिमा की रात में खीर बनाकर चंद्रमा की किरणों में रखे और फिर वह खीर अपनी सास को खिला दे। इससे सास-बहू में बनने लगेगी। ( यह उपाय अगर बहु ना करे तो सास भी कर सकती है । )

hand logo कहते है जो सास अपनी बहु को अपनी बेटी मानती है , उसे अपनी बेटी की तरह ही लाड़ प्यार करती है उसकी स्वयं की बेटी का भी दाम्पत्य जीवन सदैव सुखमय रहता है। उससे देवता भी प्रसन्न रहते है , उसका और उस घर के बुजुर्गो का स्वास्थ्य ठीक बना रहता है। वह जीवन के अंतिम समय तक भी बिस्तर पर रोगी बनकर नहीं रहते है अर्थात उनका शरीर उनका साथ देता है।

hand logo इसी तरह जो बहु अपने सास ससुर की अपने माता पिता के तरह सेवा करती है उसके स्वयं के माता पिता को कोई भी कष्ट नहीं उठाना पड़ता है। उनका बुढ़ापा बहुत आसानी से हँस खेल कर कट जाता है ।

hand logo जो बहु अपने सास ससुर और ससुराल वालो के साथ मिल कर रहती है उनका ध्यान रखती है उनका दिल नहीं दुखाती है, अर्थात घर में प्रेम और हर्ष के बीज को लगाकर उसकी देखभाल करती है उसे पौधे और वृक्ष का रूप देती है उसके पति - बच्चो पर कोई भी आकस्मिक विपदा नहीं आती है, उस परिवार में धन की कोई भी कमी नहीं होती है और उस स्त्री और उसके पति से रोग दूर दूर ही रहते है।
उस परिवार के बच्चे भी उस प्रेम और सदभाव के वृक्ष की छावं में बड़े होकर अपने माता पिता के आज्ञाकारी होते है, उनकी सेवा करते है, अंत तक उनके साथ रहते है और उन्हें कोई भी कष्ट नहीं होने देते है।


hand logo शास्त्रों के अनुसार जब सुहागिन स्त्री का निधन होता है तो उसकी सास और उसकी सास की सास ( वहाँ पर बहु के मायके से कोई भी नहीं होता है ) उसे वैतरणी नदी ( शास्त्रों के अनुसार वैतरणी नदी में बहुत भयानक जीव जंतु होते है जो मृतात्मा के शरीर को नोच नोच कर खाते है ) से पार कराने के लिए आती है और उस समय उस बहु के सारे कर्म वहीँ पर खुल कर सामने आते है।
अगर बहु का व्यवहार अच्छा है तो वह अपनी सास और उनकी सास के साथ आसानी से वैतरणी को पार कर लेती है अन्यथा उसे घोर कष्ट मिलते है ।

hand logo अत: यह स्पष्ट है कि सास और बहु दोनों को ही आपस में मिलकर रहना चाहिए , एक दूसरे की कमियों को नहीं देखना चाहिए , गलतियाँ नहीं निकालनी चाहिए, अगर कोई परेशानी हो भी तो आपसे में मिलकर या यहाँ पर बताये हुए उपायों को चुपचाप करते हुए सम्बन्ध अच्छे बना कर रखना चाहिए ।

hand logo यदि सास और बहु में पटती नहीं है तो बहु सास को 12 लाल और 12 हरी काँच की चूड़ियाँ प्रसन्न मन से भेंट करें , इस उपाय से सास का मन बदल जायेगा और सास अपनी बहु की सहेली बन जाएगी।

hand logo अगर बहु को सास की तरफ से समस्या है तो बहु सास से मधुर सम्बन्ध बनाने के लिए एक भोज पत्र पर लाल चन्दन की स्याही से सास का नाम लिखकर उसे शहद में डिबो कर उसे रविवार को छोड़कर किसी भी दिन सूर्यास्त से पहले पीपल के पेड़ के नीचे गाड़ दें और पीपल देवता से अपनी सास से सम्बन्ध अच्छे हो जाने के लिए प्रार्थना करें। इस उपाय से आपकी सास आपकी तरफ प्रेम भाव रखने लगेगी ।

hand logo यदि किसी घर में सास बहु के बीच में झगड़ा बना रहता है तो बहु को माँ दुर्गा अथवा माँ गौरी को सुनहरी जरी वाली लाल साड़ी चढ़ा कर उसे अपनी सास को भेंट करना चाहिए , इससे दोनों के बीच सम्बन्ध मधुर होंगे । यह उपाय सास भी अपनी बहु से कर सकती है ।




Ad space on memory museum


दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यह साइट या इस साईट से जुड़ा कोई भी व्यक्ति, आचार्य, ज्योतिषी किसी भी उपाय के लिए धन की मांग नहीं करते है , यदि आप किसी भी विज्ञापन, मैसेज आदि के कारण अपने किसी कार्य के लिए किसी को भी कोई भुगतान करते है तो इसमें इस साइट की कोई भी जिम्मेदारी नहीं होगी । यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं .....धन्यवाद ।।

यहाँ पर आप अपनी समस्याऐं, अपने सुझाव , उपाय भी अवश्य लिखें |
नाम:     

ई-मेल:   

मोबाइल: 

उपाय:    


  • All Post
  •  
  • Admin Reply
1.
Patni or meri maa ka jagda kaise katam ho
Ashok kumar  

2.
Mera Naam Mukesh Hai, Mare patni ka naam Manu hai, maire saadi ko 4 saal ho chukai hai or mera ak 4 saal ka baita bhi hai, abhi Nov mai diwali kai aglai di mare pita ji ka daihant hua hai,
hamhaare ghar mai mare chotai bhai, choti bahan, mare patni kai bich itnai man mutaaw hai ho chukai hai ki vo dec mai apnai ghar chale gyi or waapas aane ka naam nahi lai rhai hai, uskai maa, paa or bhai hum logo ko gaaliya or battimiji sai bat kartai hai, sirf maire matni ki wajhai sai, ghar ka pura maahol kharaab ho rakkaha hai, or ab hamhaare bich bhai,bahan,maa kai bhi sambandhan thik nahi chal rhe hai. maire patni or uskai gharwaale boltai hai ki is ghar sai alag rahengai. abhi mare pitaji ka daihant hua hai or dono chotai bhai bahan abhi unmarried mai. mera maansik santulan bigad chuka hai kisi bhi kaam mai man nahi hai or hamesha aatmhatya ka khyaal dimaag mai aata raihta hai.
Mukesh Sharma  



No Tips !!!!

सास बहु के सम्बन्ध

saas-bahu-ke-sambandh