Memory Alexa Hindi

रसोई घर का वास्तु

Rasoi Ghar Ka Vastu

rasoi-ke-vastu-tips

जानिए रसोईघर के वास्तु टिप्स

रसोई घर का वास्तु

Rasoi Ghar Ka Vastu

                       rasoi-ke-vastu-tips

Tags :- रसोई घर का वास्तु, Rasoi Ghar Ka Vastu, Rasoi Ghar Ka Vastu in Hindi, किचन का वास्तु, Kitchen Ka vastu in Hindi, रसोईघर की दिशा, रसोईघर के वास्तुदोष, Rrasoi Ghar Ke vastu Dosh, Vastu Tips For Kitchen in Hindi

रसोईघर में इलेक्ट्रॉनिक् उपकरण जैसे फ्रिज, टोस्टर, माइक्रोवेव, मिक्सी, आटा चक्की आदि दक्षिण दीवार, अग्नेय, पश्चिम दीवार के पास रखने चाहिए, लेकिन नैत्रत्य में नहीं, क्योंकि इस दिशा में रखने पर यह ज्यादातर ख़राब ही रहते है ।

 

रसोई घर में खिड़कियाँ और हवा वाहर फेखने वाला पंखा एक्जास्ट फैन पूर्व अथवा उत्तर दिशा होना चाहिए।

 

यदि भोजन करने की व्यवस्था भी रसोई घर में ही हो तो यह रसोई के पश्चिम दिशा में होनी चाहिए ।

 

घर में भोजन बनाने वाली महिला को रसोई घर में कभी भी भोजन नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से घर में दरिद्रता का वास होता है ।

 

भोजन करते समय पूर्व अथवा उत्तर दिशा की तरफ मुख करके भोजन करना चाहिए। दक्षिण में मुख करके भोजन करने से यथासंभव बचना चाहिए ।

 

रसोई घर में मंदिर / पूजा का स्थान बिलकुल भी नहीं होना चाहिए.अन्यथा देवता नाराज़ हो जाते है, घर के सदस्यों को रोग एवं दरिद्रता का सामना करना पड़ता है ।

 

भवन की रसोई में बनने वाली पहली 3 रोटियाँ गाय, चिड़ियों और कुत्ते के लिए निकालनी चाहिए, इसके बाद भी वहाँ के निवासियों को भोजन करना चाहिए ।

 

मान्यता है कि जिस भवन में रात में खाना बनाने के बाद चूल्हा साफ कर दिया जाता है और रसोई घर में कोई भी झूठे बर्तन नहीं रहते है वहाँ पर माँ अन्नपूर्णा की सदैव कृपा बनी रहती है ।

 

रसोई घर साफ सुधरी होनी चाहिए अस्त व्यस्त नहीं । फैली हुई रसोई वहाँ के निवासियों के लिए नाना प्रकार की मुसीबतें लाती है। अगर हमारे भवन की रसोई अच्छी है तो हमारे शनि , रहू , केतु , और गुरु अच्छे रहते है ।

 

रसोई में कभी भी बिना नहाये अथवा बिना हाथ पैर धोये प्रथम बार प्रवेश न करे, यानी प्रात उठ कर अगर आपको रसोई में कुछ काम है तो सबसे पहले आप नहा कर या हाथ पैर धो कर ही रसोई में प्रवेश करे ।

 

भवन का मालिक या मालकिन बिना नहाये अथवा बिना हाथ पैर धोये रसोई में बिलकुल न जाए, अन्यथा राहू और शनि से पीड़ा मिलती है, लेकिन रसोई घर में स्वच्छ होकर जाने से उनका प्रभाव काफी हद तक कम हो जाता है ।

 

रसोई घर मंदिर की तरह साफ और पवित्र होना चाहिए अत: इस बात का ध्यान रखें कि उसमें कोई भी जूते चप्पल पहन कर प्रवेश ना करें कम से कम घर का मालिक या मालकिन तो इसका पालन अवश्य ही करें ।

 


Published By : Memory Museum
Updated On : 2020-11-24 06:00:55 PM

Ad space on memory museum




  • All Post
  •  
  • Admin Post
No Tips !!!!
Access denied for user ''@'localhost' (using password: NO)