Memory Alexa Hindi
rasoi-ghar-ke-vastudosh-ke-upay

जानिए रसोईघर के वास्तु टिप्स

रसोई घर के वास्तु दोष के उपाय
Rasoi Ghar ke vastudosh ke upay


                         rasoi-ghar-ke-vastudosh-ke-upay

किचिन के वास्तु दोष के उपाय
Kitchen ke vastudosh ke upay


रसोई घर में अगर वास्तु दोष ( Vastu dosh ) हो तो उसका सीधा असर भवन में रहने वाली स्त्रियों पर पड़ता है । उनका स्वास्थ्य ख़राब हो सकता है, उनका सम्बन्ध घर के बाकी सदस्यों से ख़राब रह सकता है विशेषकर अपने पति और अपनी सास से ।
इसके अतिरिक्त अगर उनका स्वास्थ्य ख़राब हुआ तो रसोई में बनने वाला भोजन भी उत्तम नहीं होगा जिससे भवन के अन्य सदस्य भी प्रभावित हो जाते है । रसोई घर के वास्तु दोष ( Rasoi ghar ke vastu dosh ) होने पर भवन के निवासियों को आर्थिक समस्याएँ भी लगी ही रहती है । उस भवन में कमाई जितनी भी हो धन टिकता नहीं है । सामान्यता: यह देखा जाता है कि रसोई घर में वास्तु दोष ( Rasoi ghar ke vastu dosh ) विधमान ही रहते है अत: उनका उपाय अनिवार्य रूप से करना चाहिए ।

जानिए, रसोई घर के वास्तु दोष के उपाय, Rasoi Ghar ke vastu dosh ke upay, किचिन के वास्तु दोष के उपाय, Kitchen ke vastu dosh ke upay

 

यदि आपका रसोईघर Rasoi ghar भवन में अग्निकोण में न होकर किसी ओर दिशा में बना है तो रसोई की दक्षिण दिशा की दीवार पर यज्ञ करते हुए ऋषियों का चित्र लगाएं। इससे आपकी रसोई के वास्तु दोष का निवारण हो जायेगा एवं आर्थिक समस्याएँ भी नहीं आएगी ।

 

यदि आपकी रसोई आग्नेय दिशा की जगह किसी और दिशा में हो तो आप रसोई घर के आग्नेय कोण में लाल रंग का बल्ब लगा कर उस दोष को दूर कर सकते है ।

 

यदि आपके घर में रसोई घर Rasoi ghar में कोइ वास्तुदोष हो तो पंचररत्न को तांबे के कलश में डालकर उसे अपनी रसोई के ईशान्य कोण यानी उत्तर-पूर्व के कोने में स्थापित करें।

 

यदि रसोई का सिंक उत्तर दिशा या ईशान कोण में न हो और उसे बदलना भी मुश्किल हो तो अपने सिंक के उपाय एक लकड़ी या बांस का पाँच राड वाला विण्ड चिम लगाएं।

 

अगर आपके घर में रसोई घर आग्नेय दिशा के स्थान पर किसी और दिशा में बनी हो तो उसकी दक्षिण और आग्नेय दिशा की दीवार को लाल रंग से रंगकर कर उसका दोष दूर किया जा सकता हैं।

 

चूल्हा मुख्य द्वार से नहीं दिखना चाहिए। यदि ऐसा हो और चूल्हे का स्थान बदलना संभव नहीं हो तो पर्दा लगा सकते हैं।

 

अत: इससे स्पष्ट है कि उत्तम स्वास्थ्य और घर के सदस्यों के मध्य परस्पर प्रेम और सौह्र्द्य के लिए सभी को रसोई घर के वास्तु के सिद्दांतो का अवश्य ही पालन करना चाहिए ।




Published By : Memory Museum
Updated On : 2020-11-24 06:00:55 PM

Ad space on memory museum



अपने उपाय/ टोटके भी लिखे :-----
नाम:     

ई-मेल:   

उपाय:    


  • All Post
  •  
  • Admin Post
No Tips !!!!
Access denied for user ''@'localhost' (using password: NO)