Memory Alexa Hindi

राशिनुसार रत्न

rashi-anusar-ratn

राशि अनुसार रत्न
Rashi anusar ratn

rashi-anusar-ratn

राशि के अनुसार भाग्यशाली रत्न धारण करें
Rashi ke anusar bhagyshali ratn daran karen




इस संसार में सभी लोग चाहते है कि वह जीवन में अधिक से अधिक तरक्की कर सकें, इसलिए आज कल बहुत बड़ी संख्या में लोग अपना लकी रत्न भी धारण करते है । लेकिन इस बात का ध्यान रखना आवश्यक है कि किस रत्न के धारण करने से तरक्की प्राप्त होगी ? रत्न धारण करने के लिए हमेशा कुंडली का सही अध्ययन करना चाहिए । इसके बिना रत्न धारण करना नुक्सान दायक हो सकता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हर रत्न का सम्बन्ध किसी न किसी ग्रह से होता है,
जानिए राशि अनुसार रत्न, Rashi anusar ratn, राशि के अनुसार भाग्यशाली रत्न धारण करें, Rashi ke anusar bhagyshali ratn daran karen ।

यह भी पढ़े :- शरीर के किसी भी हिस्से पर तिल अवश्य ही कुछ कहता है, जानिए तिल विचार

ज्योतिष के अनुसार रत्न अगर किसी के भाग्य को आसमान पर पहुंचा सकते है तो किसी को आसमान से ज़मीन पर भी ले आते है। इसलिए सही प्रकर से ग्रहों की स्थिति की जांच करवाकर ही रत्न को धारण करना चाहिए। यह भी अवश्य ध्यान दे कि रत्न शरीर से टच होते रहने चाहिए । रत्न सूर्य से उर्जा लेकर उसे शरीर में प्रवाहित करते है । हम यहाँ पर आपको राशिनुसार रत्न बता रहे है जिसको उस राशि के जातको को धारण करने से लाभ प्राप्त हो सकता है ।

राशि स्वामी रत्न उपरत्न वजन धारणदिन धातु उंगली
मेष मंगल मूंगा लाल अफिक 6 रती मंगलवार सोना तर्जनी ,
अनामिका
वृष शुक्र हीरा स्फ़टिक 4 रती शुक्रवार हीरा या
प्लैटिनम
मध्यमा ,
तर्जनी ,
अनामिका
मिथुन बुध पन्ना लाल मगराज 3 रती बुधवार चाँदी या सोना कनिष्का
कर्क चद्रमा मोती गोदन्ती 4 रती सोमवार चाँदी अनामिका,
कनिष्का
सिंह सूर्य माणिक्य तामडा 3 रती रविवार सोने की अंगूठी अनामिका
कन्या बुध पन्ना हरा मरगज 3 रती बुधवार सोना कनिष्ठा
तुला शुक्र हीरा स्फ़टिक 4 रती शुक्रवार हीरा या
प्लैटिनम
मध्यमा,
तर्जनी,
अनामिका,
वृश्चिक मंगल मूंगा लान अफ़ीक 6 रती मंगलवार सोना तर्जनी,
अनामिका
धनु बृहस्पति पुखराज सनेहला 5 रती गुरुवार सोना तर्जनी
मकर शनि नीलम कटैला या काले घोड़े की नाल की अंगूठी 4 रती शनिवार पंचधातु मध्यमा
कुम्भ शनि नीलम कटैला या काले घोड़े की नाल की अंगूठी 4 रती शनिवार पंचधातु मध्यमा
मीन बृहस्पति पुखराज सनेहला 3 रती गुरुवार सोना तर्जनी
राहु कन्या गोमेद तुरसावा 6 रती शनि बुध पंचधातु मध्यमा
केतु मीन लहसुनिया गोदंती या लाजवर्त 6 रती शनि बुध पंचधातु मध्यमा



rashi-logo मेष व वृश्चिक राशि :- मेष व वृश्चिक राशि वालों को मूँगा पहनना लाभदायक होता है । लेकिन यदि जन्म के समय मंगल की स्थिति ठीक न हो तब मूँगा नहीं पहनना चाहिए। अन्यथा मूँगा पहनने से आपको नुकसान भी हो सकता है । मूंगा साहस, पराक्रम, ऊर्जा, उत्साह, पुलिस, सेना प्रशासनिक क्षेत्र, आदि में लाभकारी होता है।

मेष और वृश्चिक राशि वालो को कम से कम 6 रत्ती के मूँगे को सोने की अँगूठी में लगवाकर शुक्ल पक्ष के मंगलवार के दिन सूर्योदय से एक घंटे के भीतर "ऊँ भौं भौमाय नमः" की एक माला जपकर धारण करना चाहिए।


Ad space on memory museum


दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं .....धन्यवाद ।