Memory Alexa Hindi

राशी अनुसार नवरात्री पूजा
Rashi Anusar Navratri Pooja


Durga Ji
हिन्दु धर्म शास्त्रों के अनुसार प्रत्येक वर्ष में दो बार नवरात्री का पवित्र पर्व आता है। नवरात्रों में माता दुर्गा के नौ रुपों की पूजा की जाती है। नवरात्री का प्रथम पर्व चैत्र शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से शुरु होकर नवमी तिथि तक एवं नवरात्री का दितीय पर्व आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से शुरु होकर नवमी तिथि तक मनाया जाता है। दोनों ही नवरात्रों में देवी का पूजन किया जाता है । चैत्र नवरात्रो को बसंत नवरात्र एवं अश्विन नवरात्र को शारदीय नवरात्र भी कहते है। ये नौ दिन मां दुर्गा की साधना कर सिद्धियां प्राप्त करने, अपनी सभी मनोकामनाओं को पूर्ण करने के लिए बहुत ही विशेष माने जाते हैं।

हिन्दु धर्म शास्त्रों के अनुसार इन नौ दिनों तक अगर कोई व्यक्ति अपनी राशि अनुसार कुछ विशेष उपाय करे, तो उसकी किस्मत चमक जाती है उसकी हर मनोकामना पूरी हो जाती है ।

आइये जानिए अपनी राशि अनुसार उपाय-

Mesh Vyapar Rashi
Kalash One Image मेष राशि : इस राशि के जातकों को माता स्कंदमाता की विशेष उपासना करनी चाहिए। माँ स्कंदमाता करुणामयी हैं, जो वात्सल्यता का भाव रखती हैं।मेष राशि के लोग दुर्गा सप्तशती या दुर्गा चालीसा का पाठ करें माँ की विशेष कृपा प्राप्त होगी।
मेष राशि के जातक दुर्गा मां को छुआरे, लाल मिष्ठान का भोग लगाकर लाल पुष्प चढ़ाएं।

Kalash One Image वृष राशि : वृषभ राशि के लोगों को महागौरी स्वरूप की उपासना से विशेष फल प्राप्त होते हैं। इस राशि के जातक ललिता सहस्रनाम का पाठ करें। इससे मन शांत रहेगा अविवाहित कन्याओं को आराधना से उत्तम वर की भी प्राप्ति होती है।
वृषभ राशि के जातक दुर्गा मां को नित्य मिश्री, पंचमेवा का भोग लगाकर सफेद पुष्प चड़ाएं ।

Vrash Vyapar Rashi











Mithun Vyapar Rashi
Kalash One Image मिथुन राशि : इस राशि के लोगों को मां ब्रह्मचारिणी की उपासना करनी चाहिए साथ ही तारा कवच का रोज पाठ करें। मां ब्रह्मचारिणी ज्ञान प्रदाता व विद्या के अवरोध दूर करती हैं।मिथुन राशि के लोगो को शीघ्र ही इच्छित फलों की प्राप्ति होगी ।
मिथुन राशि के जातक मां दुर्गा को नित्य पान, केले का भोग लगाएं।

Kalash One Image कर्क राशि :कर्क राशि के लोगों को शैलपुत्री की पूजा-उपासना करनी चाहिए। आप लोग लक्ष्मी सहस्रनाम का पाठ करें। माँ भगवती की वरद मुद्रा अभय दान प्रदान करती हैं जातक को किसी भी चीज़ का भय नहीं रहता है ।
कर्क राशि के जातक मां शेरा वाली को नारियल और दही में मिश्री मिलाकर उसका प्रशाद अर्पण करें एवं सफेद पुष्प चड़ाए।

Dhatu Vyapar Rashi











krishn-kumar-shastri

पं० कृष्णकुमार शास्त्री

Published By : Memory Museum
Updated On : 2019-11-03 11:43:00 PM

Ad space on memory museum


दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं .....धन्यवाद ।