Memory Alexa Hindi

पथरी के उपाय
Pathri ke Upay





Stone Image
पथरी ( Pathri ) अर्थात किडनी में स्‍टोन ( Kidney Me Stone ) की समस्‍या आजकल आम हो चली है। इसकी बड़ी वजह खान-पान की गलत आदतें होती हैं। जब नमक एवं अन्य खनिज (जो हमारे मूत्र में होते हैं) वे एक दूसरे के संपर्क में आते है या अगर किसी कारण से पेशाब गाढा हो जाता है तो किडनी ( Kidney ) के अन्दर छोटे-छोटे पत्थर जैसी कठोर वस्तुएं बन जाती हैं जिन्हे गुर्दे की पथरी ( gurde ke pathri ) के अर्थात किडनी में स्‍टोन ( Kidney Me Stone ) रूप में जाना जाता है,
जानिए, पथरी के उपाय, Pathri ke Upay, पथरी के उपचार, pathri ke upchar, पथरी, pathri, पथरी के उपाय, ( stone, stone treatment, ) ।

गुर्दे की पथरी ( gurde ke pathri ) अलग अलग आकार की हो सकती है| कुछ पथरी ( Pathri ) रेत के दानों की तरह बहुत हीं छोटे आकार के होते हैं तो कुछ बहुत हीं बड़े। आमतौर पर छोटे मोटे पथरी मूत्र के जरिये शरीर के बाहर निकल जाया करते हैं लेकिन जो पथरी ( Pathri ) आकार में बड़े होते हैं वे बाहर नहीं निकल पाते एवं मूत्र के बाहर निकलने में बहुत ही बाधा डालते हैं उससे बहुत हीं ज्यादा पीड़ा उत्पन्न होती है। पथरी का दर्द ( pathri ka dard ) कभी-कभी बर्दाश्त से बाहर हो जाता है।
Kidney Stone Wife



इसमें पेशाब करने में बहुत दिक्कत होती है और कई बार पेशाब रूक जाता है। पथरी होने की कोई उम्र नहीं होती है, यह किसी भी उम्र में हो सकती है।

Kalash One Image पथरी, Pathri ( Stone,Kidney stone,Stone Treatment )
पथरी के उपाय, Pathri ke upay

Kalash One Image पथरी, Pathri ( Stone,Kidney stone,Stone Treatment )
पथरी की दवा, pathri ki dava,

Kalash One Image पथरी, Pathri ( Stone,Kidney stone,Stone Treatment )
पथरी के अचूक इलाज, pathri ke achuk ilaj,

Kalash One Image पथरी, Pathri ( Stone,Kidney stone,Stone Treatment )
पथरी के आयुर्वेदिक उपचार, pathri ke ayurvedic upchar,


अवश्य पढ़ें :- उत्तम पुत्र प्राप्ति हेतु स्त्री को हमेशा पुरूष के बायें तरफ़ एवं योग्य कन्या प्राप्ति के लिये स्त्री को पुरूष के दाहिनी तरफ सोना चाहिये, जानिए मनचाही संतान प्राप्ति के अचूक उपाय

पित्त की थैली में पथरी (गॉल ब्लैडर स्टोन) (Gall bladder stone ) का होना भी एक आम स्वास्थ्य समस्या है। पित्त की थैली पेट के दाएं ऊपरी भाग में लिवर के ऊपर चिपकी होती है। गॉल ब्लाडर में पथरी बनना एक भयंकर पीड़ादायक रोग है। इसे पित्त पथरी कहते हैं। पित्ताशय में दो तरह की पथरी बनती है।

hand logo प्रथम कोलेस्ट्रोल निर्मित पथरी।

hand logo दूसरी पिग्मेन्ट से बननेवाली पथरी।

इसमें से लगभग अस्सी प्रतिशत पथरी कोलेस्ट्रोल तत्व से ही बनती हैं।

वैसे तो पथरी, pathri, पथरी के उपाय, ( stone, stone treatment, ) रोग किसी को भी और किसी भी आयु में हो सकता है लेकिन महिलाओं में इस रोग के होने की सम्भावना पुरुषों की तुलना में कम होती है। पित्त की पथरी को घरेलू उपचार के माध्यम से ठीक किया जा सकता है। गॉल ब्लैडर स्टोन की बीमारी आमतौर पर तीस से साठ वर्ष के उम्र के लोगों में पाई जाती है और स्त्रियों की अपेक्षा पुरूषों में चार गुना अधिक पाई जाती है।
बच्चों और वृद्धों में मूत्राशय की पथरी ज्यादा बनती है, जबकि वयस्को में अधिकतर गुर्दो और मूत्रवाहक नली में पथरी बनती है।

पथरी का यदि समय पर इलाज ना किया जाय तो इसका रक्तचाप और ह्रदय पर बुरा असर पड़ता है,लिवर के ख़राब होने का खतरा भी बढ़ जाता है| अत: पथरी होने पर लापरवाही ना करें इसका सही और प्रभावी इलाज करे जिससे भविष्य में फिर से पथरी बन भी ना सके |
यहाँ पर हम आपको पथरी के कुछ आसान घरेलू नुस्खे के बारे में जानकारी देते हैं


Ad space on memory museum


इस साइट के सभी आलेख शोधो, आयुर्वेद के उपायों, परीक्षित प्रयोगो, लोगो के अनुभवों के आधार पर तैयार किये गए है। किसी भी बीमारी में आप अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य ही लें। पहले से ली जा रही कोई भी दवा बंद न करें। इन उपायों का प्रयोग अपने विवेक के आधार पर करें,असुविधा होने पर इस साइट की कोई भी जिम्मेदारी नहीं होगी ।

यहाँ पर आप अपनी समस्याऐं, अपने सुझाव , उपाय भी अवश्य लिखें |
नाम:     

ई-मेल:   

उपाय:    


  • All Post
  •  
  • Admin Reply
1.
Stonil capsule delivers long term effects to get rid of kidney stone.
ranjeet  

2.
Remove kidney stone with herbal kidney stone treatment.
pankaj  

3.
Sex problam .
Paramjeet singh   

4.
Treat kidney stone naturally and safely with the use of stonil capsule.
anurag  

5.
Get rid of the kidney stone pain and get it moved out instantly with stonil capsule.
vinod  

6.
Herbal treatment for kidney stone like stonil capsule gives instant results.
pankaj  

7.
Eradicate stones in kidney with the use of natural stonil capsule.
anil  

8.
It is also worth to try out natural kidney stone stonil capsule.
Naved  

9.
Stonil capsule is very effective herbal kidney stone treatment.
Arvind  

10.
9925096733
Pathri  

11.
Stonil capsule removes kidney stone safely and naturally.
Sakshi  

12.
Kidney stone is painful. Get rid of it once and for all with the help of stonil capsule.
Vinod  

13.
किडनी में पथरी ,और पित्त में पथरी
Mohd iftekhar  

14.
natural kidney stone treatment is very safe and effective to deal with kidney stone issues.
manjeet  

15.
Get kidney stone dissolved through natural ways like stonil capsule.
Nikita  

16.
Pit ki Thili me or Right Cedni Me pathri hai
Azizul Mustafa   

17.
गुर्दे में पथरी
साइज
7-8 mm
राजकुमार  

18.
Thanks for sharing your post. Natural kidney treatment like stonil capsule is both safe and effective.
amit  

19.
Natural kidney stone supplement like stonil capsule is very safe and effective.
Piyush  

20.
Kidney stone herbal medicine like stonil capsule dissolves stone safely. It has no ill health effects.
Vijay  

21.
Herbal treatment such as stonil capsule is both safe and effective.
sameer  

22.
Herbal treatment like stonil capsule increases height within few days.
sanjay  

23.
Herbal supplement like hashmi stonil capsule is very effective for kidney stone.
Ajay  

24.
Hashmi stonil capsule bhi best hai.
vikas  

25.
पथरी से छुटकारा सिर्फ 10 दिनों में
पथरी का इलाज आयुर्वेद से करवाने के लिए कॉल या whatsapp करे 9099987585
jinesh chheda  

26.
पथरी
Sonia sharma  

27.
पथरी का इलाज 10 दिन में आयुर्वेदिक तरीके से
कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं २० साल से प्रसिद्ध आयुर्वेदिक चूर्ण
कॉल और whatsapp करे 9099987585
JINESH CHHEDA  

28.
kidny ston broken which?
Rajendrasinh Rathod  

29.
3
Vinod kumar tiwari  

30.
किडनीतील मुतखड़ा उपाय
विजय माधवराव गायकवाड  



1.
पथरी के लिए एक बहुत ही आजमाया हुआ उपाय है जो पुराने समय से चला आ रहा है |
नित्य प्रात: दो चम्मच प्याज के रस को पिसी मिश्री के साथ मिलाकर पीने से केवल 20-25 दिन में ही पथरी गल कर निकल जाती है|
admin memorymuseum.net  

2.
स्नेहा ही पथरी में सहजन बहुत उपयोगी है |
आप पथरी में 25 ग्राम सहजन की जड़ की छाल को लगभग 250 ग्राम पानी में उबालें फिर छान लें । फिर इसे थोड़ा गर्म रहने पर ही अपनी माता जी को पिलायें । इसको पीने से कैसी भी पथरी हो, वह कट के गल के 20-25 दिनों में ही निकल जाती है ।
admin memorymuseum.net  

3.
एक पानी से भरा गिलास में दो चम्‍मच मेथी दाना डाल कर उसे रात में भिगो दें। सुबह इस पानी को छानकर खाली पेट पी जाएं और उन मेथी के दानो को चबा चबा कर खा लें | रात भर पानी में मेथी भिगोने से पानी में एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटी ऑक्‍सीडेंट गुण बढ जाते हैं।
इसका एक महीने तक नित्य सेवन करने से शरीर की पथरी गल कर निकल जाती है और पथरी होने के कारणों पर प्रहार होता है अर्थात भविष्य में पथरी बनने नहीं पाती है |
admin memorymuseum.net  

4.
6 ग्राम पपीते की जड़ पीस कर इसे 50 ग्राम पानी में अच्छी तरह से घोल कर साफ़ कपडे से छान ले और पथरी के मरीज़ को पीला दे।
इस घोल को लगातार 21 दिन तक रोगी को पिलाने से पथरी गल कर पेशाब के रास्ते बाहर निकल जाती है।
admin memorymuseum.net  

5.
पथरी के मरीज़ो के लिए तरबूज़ की गिरी ( मिंगी ) रामबाण का काम करती है । तरबूज के बीजों का छिलका निकालकर सुबह सुबह उसकी 15 ग्राम गिरी को सिलबट्टे पर थोड़े से पानी के साथ अच्छी तरह से पीस / घोट लें फिर इसमें आधा लीटर पानी मिलाकर थोड़ी सी पिसी हुई मिश्री भी मिलाएं जिससे इसका स्वाद मीठा हो जाये फिर खाली पेट ही इसे धीरे धीरे पी लें ।

इस उपाय को सुबह शाम दोनों समय लगभग 11 दिन करें । इससे गुर्दे और मूत्राशय की पथरी आसानी से गल कर निकल जाती है , ह्रदय को बल मिलता है , ह्रदय के रोगों में भी लाभ मिलता है । यह बहुत ही आसान, परीक्षित, और बहुत कम खर्चे का इलाज है ।
admin memorymuseum.net  

6.
लगातार 15 दिन तक दिन में दो बार 100 ग्राम चुकंदर का जूस और 100 गाजर का जूस ( एक बार में 200 ग्राम ) बराबर मात्रा में मिलाकर पीने से गाल ब्लाडर और किडनी दोनों ही जगह की पथरी नष्ट हो जाती है ।
इसको लेने के बाद एक घंटे तक कुछ भी ना लेंवे ।
admin memorymuseum.net  

7.
गॉल ब्लैडर अर्थात पित्त की थैली में पथरी को दूर करने के लिए सुबह खाली पेट पचास मिली लीटर नींबू का रस पिएं इससे 10 से 12 दिन में ही आराम मिलता है,गॉल ब्लैडर की पथरी गलने लगती है ।
admin memorymuseum.net  

8.
कई लोगो को पथरी का ऑपरेशन कराने के बाद भी पथरी हो जाती है, या आपको पथरी नहीं है और आप चाहते है कि आपको कभी ना हो तो आप होमियोपेथी दवा है CHINA 1000 की दो-दो बूंद सीधे जीभ पर एक ही दिन 3 बार सुबह-दोपहर-शाम डाल दीजिए |
यह दवा इतनी कारगर है की फिर जीवन मे कभी भी स्टोन नहीं बनेगा।
admin memorymuseum.net  

9.
पथरी की होमियोपेथी मे एक अचूक दवा है, उसका नाम हे BERBERIS VULGARIS ये MOTHER TINCHER है । यह दवा होमियोपेथी की दुकान से ले आएं, इस दवा की 10-15 बूंदों को एक चौथाई कप गनगुने पानी मे मिलाकर सुबह,दोपहर,शाम और रात अर्थात दिन में 4 बार लें । इसको लगातार डेढ़ महीने तक लेना है ,दो महीने भी लग जाते है |
इससे कही भी स्टोन हो चने हो गोलब्लेडर मे हो या फिर किडनी मे हो, या फिर मुत्रपिंड मे , यह दवा सभी स्टोन को पिघलाकर निकाल देती है ।
आप दो महीने बाद चैक करवा लीजिए आपको पता चल जायेगा कि पथरी पूर्णतया ख़त्म हो गयी है अथवा उसका कुछ अंश बचा भी है। यह दवा का साइड इफेक्ट नहीं है | यही दवा से पित की पथरी gallbladder stones भी ठीक कर देती है ।
admin memorymuseum.net  

10.
गलबलेडर की पथरी का अचूक उपाय :-
गलबलेडर अर्थात पित्त की पथरी में नित्य पाँच दिन तक दिन में चार गिलास सेब का ताजा निकाला हुआ जूस पियें और 5, 6 सेब भी खाएं । छठवें दिन रात में भोजन ना करें वरन शाम को एक गिलास गर्म पानी में एक चम्मच सेंधा नमक लें , उसके दो घंटे बाद पुन: एक गिलास गर्म पानी में एक चम्मच सेंधा नमक लें , उसके और दो घंटे बाद रात को सोने से पहले आधा कप जैतून या तिल के तेल का आधे कप नींबू के रस में अच्छी तरह से मिला कर सेवन करें , पथरी अवश्य ही निकल जाएगी , प्रात: शौच में आपको हरे रंग की पथरी नज़र आ जाएगी ।
admin memorymuseum.net  

11.
पथरी का होमियोपेथी इलाज !
______________

होमियोपेथी मे किसी भी होमियोपेथी के दुकान पर BERBERIS VULGARIS की देव का MOTHER TINCHER ! लेना है ये उसकी पोटेंसी हे|
अब इस दवा की 10-15 बूंदों को एक चौथाई (1/ 4) कप गुनगुने पानी मे मिलाकर दिन मे कम से कम तीन बार और अधिक से अधिक चार बार (सुबह,दोपहर,शाम और रात) लेना है । इसको लगातार एक से डेढ़ महीने तक लेते रहने से जितनी भी कही भी हो गोलब्लेडर ( gall bladder ) ,किडनी या फिर मुत्रपिंड मे हो यह दवा उन सभी पथरी को गलाकर निकल देती है ।
99% केस मे डेढ़ से दो महीने मे ही सब टूट कर निकाल देता हे कभी कभी हो सकता हे तीन महीने भी हो सकता हे लेना पड़े। तो आप दो महीने बाद सोनोग्राफी करवा लीजिए आपको पता चल जायेगा कितना टूट गया है कितना रह गया है | अगर रह गया हहै तो थोड़े दिन और ले लीजिए । यह दवा का साइड इफेक्ट नहीं है |
पथरी दोबारा भविष्य मे ना बने उसके लिए एक और होमियोपेथी दवा CHINA 1000 का उपयोग करें । इस दवा की एक ही दिन सुबह-दोपहर-शाम मे दो-दो बूंद सीधे जीभ पर डाल दीजिए । सिर्फ एक ही दिन मे तीन बार ले लीजिए फिर भविष्य कभी भी पथरी की शिकायत नहीं होगी ।
admin memorymuseum.net  

12.
गुर्दे में पथरी होने पर 15 दिन तक लगातार 5 - 6 ग्राम कच्चा पपीता और इतना ही गुड लेकर उसमें 4 बूंद कलौंजी का तेल मिलाकर सुबह शाम खाली पेट लें , इस दौरान पालक, टमाटर आदि का सेवन ना करें । 15 दिन के बाद पथरी चैक कराएं , पूरी सम्भावना है कि पथरी निकल चुकी होगी ।
admin memorymuseum.net  

13.
सदैव भोजन भोजन के बाद पेशाब करने की आदत डालें। इससे पथरी का डर बिलकुल भी नहीं रहता है।
admin memorymuseum.net  


दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं .....धन्यवाद ।

पथरी के उपाय | पथरी के उपचार

Pathri Ke Upay

पथरी की कैसी भी समस्या के आसान उपचारों के लिए इस साइट का अवश्य ही विज़िट करें ।