Memory Alexa Hindi

Diwali Diye नाग पंचमी Diwali Diye
Diwali Diye Nag Panchmi
Diwali Diye


nagpanchami-ka-mahatv


Diwali Diye नाग पंचमी के उपाय Diwali Diye
Diwali DiyeNag Panchmi Ka Upay
Diwali Diye

Kalash One Image हिन्दू धर्म में देवताओं के साथ साथ नागों को भी अहम स्थान दिया गया है। भगवान शिव के गले में नाग राज वासुकी ने स्थान पाया है और प्रत्येक पक्ष की पंचमी विशेषकर सावन माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी जिसे "नाग पंचमी" भी कहते है के दिन नागो की पूजा Nagon ki puja का विशेष महत्व है ।

जानिए नाग पंचमी के उपाय, Nag Panchami ke upay

Kalash One Image नाग पंचमी ( nag panchami ) के दिन भगवान शिव का अभिषेक करते हुए चाँदी के नाग नागिन का जोड़ा शिवलिंग पर चढ़ा दें फिर अभिषेक की समाप्ति पर उसे ताम्बे के पात्र में विसर्जित करके , उस पात्र को अभिषेक कराने वाले पंडित को दान में दे दें , इससे काल सर्पदोष (Kaal Sarp Dosh) में बहुत ज्यादा राहत मिलती है ।

Kalash One Image नाग पंचमी ( nag panchami ) के दिन 11 नारियल बहते हुए पानी में प्रवाहित करें , इससे काल सर्प दोष Kaal Sarp Dosh से अवश्य ही मुक्ति मिलती है, कार्यों में सफलता मिलने के योग बनने लगते है, जीवन में चली आ रही अस्थिरतायें दूर होती है।

Kalash One Image नाग पंचमी ( nag panchami ) एवं प्रत्येक माह के दोनों पक्षो की पंचमी के दिन “ॐ कुरुकुल्ये हुं फट् स्वाहा”
मन्त्र का जाप अवश्य ही करें। इससे काल सर्प दोष kaal sarp dosh के दुष्प्रभाव में कमी होती है ।

Kalash One Image नाग पंचमी nag panchami के दिन नागो के 5 पौराणिक "अनंत, वासुकि, तक्षक, कर्कोटक व पिंगल" के नामो का कम से कम 21 बार अवश्य ही उच्चारण करें ।

Kalash One Image नाग पंचमी nag panchami के दिन अधिक से अधिक 'ॐ नागदेवतायै नम:' मन्त्र का जाप करें इससे भगवान शिव और नाग देवता प्रसन्न होते है।

Kalash One Image नाग पंचमी ( nag panchami ) के दिन नागदेव की सुगंधित पुष्प व चंदन से ही पूजा करनी चाहिए क्योंकि नागदेव को सुगंध बहुत प्रिय है, इससे नाग देवता प्रसन्न होते है और काल सर्प दोष kaal sarp dosh में कमी आती है।

Kalash One Image जिस भी जातक पर काल सर्प दोष kaal sarp dosh हो उसे कभी भी नाग की आकृति वाली अंगूठी को नहीं पहनना चाहिए ।

Kalash One Image नाग पंचमी ( nag panchami ) के दिन महामृत्युंज्य मंत्र का जाप करें या उसकी कैसेट सुनें।

Kalash One Image नाग पंचमी ( nag panchami ) के दिन पीपल के वृक्ष के नीचे मिटटी के बर्तन में दूध रखने से नाग देवता ( nag devta ) प्रसन्न होते है, काल सर्प दोष ( kal sarp dosh ) निश्चय ही दूर होता है, जीवन से अस्थिरताएँ दूर होती है।

Kalash One Imageध्यान रहे कि नागपंचमी के दिन धरती पर हल चलाना, धरती खोदना मना है। देश के बहुत से भागों में इस दिन सुई धागे से किसी तरह की सिलाई भी नहीं की जाती है।


pandit-ji

कुंडली एवं वास्तु विशेषज्ञ
पंडित पंडित ज्ञानेंद्र त्रिपाठी जी


Ad space on memory museum


दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं .....धन्यवाद ।