Memory Alexa Hindi
loading...

मुख्य द्वार का वास्तु

Rashi Anusaar Rog Nivaran Ke Upay

जानिए भवन के मुख्य द्वार के वास्तु टिप्स...

मुख्य द्वार का वास्तु
Mukhya Dwar ka Vastu


 mukhya dwar vastu

मुख्य द्वार के शुभ वास्तु से लाभ
Mukhya dwar ke shubh vastu se labh





वास्तुशास्त्र के अनुसार किसी भी भवन या ऑफिस के मुख्य द्वार का बहुत महत्व होता है। घर की खुशहाली के लिए परम आवश्यक है कि सबसे पहले उसके मुख्‍य द्वार की दिशा और दशा को बिलकुल ठीक किया जाए।
जैसे मानव शरीर में जो महत्‍ता हमारे मुख की है, वही महत्‍ता किसी भी भवन में मुख्‍य द्वार की होती है। इसलिए मुख्य द्वार को हमेशा अन्य द्वारों की अपेक्षा बड़ा व सुसज्जित रखा जाता है।
भारतीय परम्परानुसार मुख्‍य द्वार को कलश, खूबसूरत बंदनवार, अशोक, केले के पत्तों अथवा ॐ, स्वास्तिक के चिन्हो से सुसज्जित करने की प्रथा चली आ रही है। हम यहाँ पर आपको मुख्य द्वार के कुछ महत्वपूर्ण वास्तु के उपायों के बारे में बता रहे है जिनको अपनाकर आप निश्चय ही अपने जीवन में सुख समृद्धि ला सकते है
जानिए मुख्य द्वार का वास्तु, Mukhya Dwar ka Vastu,मुख्य द्वार के शुभ वास्तु से लाभ, Mukhya dwar ke shubh vastu se labh ।

House मुख्य द्वार Mukhya dwar भवन की जिस दिशा में हो उस दिशा को नौ समान भागों में बाँटकर पाँच भाग दाहिने ओर से और दो भाग बायीं ओर से छोड़कर बीच के शेष भाग में ही मुख्य द्वार बनाना शुभ रहता है ।

House भवन के मुख्य द्वार bhawan ke Mukhya dwar का आकार भवन के अन्य द्वारों की अपेक्षा बड़ा होना चाहिए ।

House भवन के मुख्य द्वार के लिए उत्तर या पूर्व दिशा को काफी अच्छा माना जाता है। मुख्य द्वार को यथासंभव मध्य पश्चिम या दक्षिण में नहीं बनाना चाहिए।

House मुख्य द्वार Mukhya dwar चार भुजाओं की चौखट वाला बनाना चाहिए। अर्थात इसमें दहलीज भी होनी चाहिए हैं। दहलीज युक्त भवन का मुख्य द्वार अति शुभ माना जाता है । यह मान्यता है कि बिना दहलीज़ के भवन में माँ लक्ष्मी प्रवेश नहीं करती है या टिकती नहीं है और ऐसे घर के सदस्य भी संस्कारहीन हो जाते है । यह भी माना जाता है कि दहलीज वाले घर में नकारात्मक उर्जा या किसी के भी द्वारा किया गया बुरा कर्म भवन में प्रवेश नहीं कर पाता ।

House लेकिन ध्यान रहे की ऑफिस में दहलीज नहीं बनानी चाहिए। क्योंकि मान्यता है की इससे कार्यो में अवरोध उत्पन्न होता है।

House आपके घर के प्रवेश द्वार पर सदैव अच्छी रौशनी की व्यवस्था होनी चाहिए। जिससे कि लोग आपके घर के प्रवेश द्वार को अच्छे तरह से देख सकते हैं । प्रवेश द्वार पर कोई चमकदार रोशनी लगाये तो अति उत्तम है ।

House अगर आपके घर के शुरुआत में पर्याप्त जगह हो तो अपने घर में दो दरवाजे लगाएं एक दरवाजा अंदर आने के लिए और दूसरा दरवाजा बाहर जाने के लिए प्रयोग करें ।

House अगर आप दो दरवाजे बनवाते है तो एक बात का अवश्य ध्यान दें कि मुख्य प्रवेश द्वार से बाहर जाने वाला दरवाज़ा थोड़ा छोटा अवश्य ही होना चाहिए।



Published By : Memory Museum
Updated On : 2019-11-24 06:00:55 PM

Ad space on memory museum


अपने उपाय/ टोटके भी लिखे :-----
नाम:     

ई-मेल:   

उपाय:    


  • All Post
  •  
  • Admin Post
1.
अगर ईशान दिशा मे दोष है तो ईशान कोनो मे तीन डबी मे कुमकुम हळदी और कमलगट्टा रखे
गजानन धनस्कर  

2.
अगर ईशान दिशा मे दोष है तो ईशान कोनो मे तीन डबी मे कुमकुम हळदी और कमलगट्टा रखे
गजानन धनस्कर  

3.
DEAR SIR OP ELECTRONICS mera dukan darwaja south me hai.mera dukan nhi chalta hai.kripya upay batay
om prakash prasad  

4.
Paschim mukhi makan hetu naksha kaisa ho ?
Regards- RAJ
Contact No- 9451632722
Rajkumar Vishwakarma  

5.
Paschim mukhi makan hetu naksha kaisa ho ?
Regards- RAJ
Contact No- 9451632722
Rajkumar Vishwakarma  

6.
Paschim mukhi makan hetu naksha kaisa ho ?
Regards- RAJ
Contact No- 9451632722
Rajkumar Vishwakarma  

7.
Mera mukha dvar west/ North me karna hai Kai o sahi hai Plz Ripley
Kishor rikame  

8.
Mera mukha dvar west/ North me karna hai Kai o sahi hai Plz Ripley
Kishor rikame  

9.
Mera mukha dvar west/ North me karna hai Kai o sahi hai Plz Ripley
Kishor rikame  

10.
mera ghar ka main gat south disha me hai
koi upay btaiy
ARVIND KUMAR  

11.
Paschim mukhi front 20 fit wide 50 long ghar ke liye map bhejen.two bedroom,one dining hall,one kitchen,one guest room ,one bathroom plus latrin room.one stairs main gate west me kis direction me ho na chahiye.
Amit kumat  

12.
Paschim mukhi front 20 fit wide 50 long ghar ke liye map bhejen.two bedroom,one dining hall,one kitchen,one guest room ,one bathroom plus latrin room.one stairs main gate west me kis direction me ho na chahiye.
Amit kumat  

13.
west-30 east-30.1f n-60 s-60 west facing plot pl. give me the drawing of this plot
radhey shyam  

14.
पश्चिममुखी गृह निर्माण हेतु भवन का नक्शा व कमरे की संख्या ,नाम जैसे रसोई,पूजा घर,अतिथि कक्ष सहित नामित नक्शा भेजने की दया करें।
Jitendra Kumar tripathi  

15.
पश्चिममुखी गृह निर्माण हेतु भवन का नक्शा व कमरे की संख्या ,नाम जैसे रसोई,पूजा घर,अतिथि कक्ष सहित नामित नक्शा भेजने की दया करें।
Jitendra Kumar tripathi  

16.
भवन में जिस दिशा में मुख्य द्वार बनाना हो, उस ओर मकान की लंबाई को नौ बराबर बराबर भागों में बांटकर दाएं से पांच भाग और बाएं से दो भाग छोड़कर शेष (बाईं ओर से तीसरे और चौथे) भाग में मुख्य द्वार बनाना चाहिए। दायां और बायां भाग का अर्थ है जो आपके घर से बाहर निकलते समय हो।
admin memorymuseum.net  

17.
Ghar banane me dosoke upaya.
Tribhuban kumar  

1.
भवन में जिस दिशा में मुख्य द्वार बनाना हो, उस ओर मकान की लंबाई को नौ बराबर बराबर भागों में बांटकर दाएं से पांच भाग और बाएं से दो भाग छोड़कर शेष (बाईं ओर से तीसरे और चौथे) भाग में मुख्य द्वार बनाना चाहिए। दायां और बायां भाग का अर्थ है जो आपके घर से बाहर निकलते समय हो।
admin memorymuseum.net  

दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं .....धन्यवाद ।