Memory Alexa Hindi

माइग्रेन, आधा सिरदर्द
Migraine , Adha sirdard





Migrain Image
माइग्रेन Migraine एक सिरदर्द का रोग है। इसमें सिर के आधे भाग में भीषण दर्द होता है। मान्यता अनुसार इसका कोई इलाज नहीं है, किंतु इससे असरदार तरीके से निपटा जा सकता है। इस रोग में कभी कभी सिर के एक हिस्से में बुरी तरह धुन देने वाले मुक्कों का एहसास होता है और लगता है कि सिर अभी फट जाएगा। उस समय अत्यंत साधारण काम करना भी मुश्किल हो जाता है। यह एहसास होता है कि किसी अंधेरी कोठरी में पड़े हैं। चिकित्सकीय निगरानी में रहकर और जीवन-शैली में बदलाव करके इस रोग से निपटा जा सकता है।

एक अध्ययन के अनुसार माइग्रेन Migraine पुरुषों की तुलना में महिलाओं को तीन गुना अधिक प्रभावित करता है। अधिकांश लोगों को माइग्रेन का पता तब चलता है, जब वे कई साल तक इस तकलीफ को झेलने के बाद इसके लक्षणों से परिचित हो जाते हैं।
कई बार यह दर्द साइनोसाइटिस का भी हो सकता है। किसी कठोर चीज से सिर के एक हिस्से में जोर-जोर से वार करने का एहसास होता है, खून की धमनियां फूलने लगती हैं, या उनमें जलन होने लगती है।
जबकि अन्य प्रकार के सिरदर्द sir dard में आमतौर पर दर्द सिकुड़ी हुई धमनियों या सिर और गर्दन की मांसपेशियों के सख्त हो जाने के कारण होता है। विख्यात न्यूरोलॉजिस्ट कहते है कि माइग्रेन का दर्द बहुत जबर्दस्त होता है।
इसमें रोजमर्रा के आम काम भी नहीं कर पाते। यहां तक कि चलना फिरना भी दूभर हो जाता है और लगता है कि शरीर टूट चुका है।


hand logo माइग्रेन Migraine के साथ अक्सर जी मिचलाता है और उल्टी भी हो जाती है। माइग्रेन का अटैक होने पर मरीज को रोशनी, आवाज या किसी तरह की गंध नहीं सुहाती। माइग्रेन का हमला अचानक होता है। कई बार यह शुरू में हल्का होता है, लेकिन धीरे-धीरे बहुत तेज दर्द में बदल जाता है।
अधिकतर यह सिरदर्द के साथ शुरू होता है और कनपटी में बहुत तीव्रता से टीस उठती है या ऐसा लगता है कि कोई कनपटी पर प्रहार कर रहा है। प्रायः यह दर्द आधे सिर में होता है, लेकिन एक तिहाई मामलों में दर्द सिर के दोनों ओर भी होता पाया गया है।
एक तरफ होने वाला दर्द अपनी जगह बदलता है और यह ४ से ४८ घंटों तक रह सकता है।माइग्रेन का दर्द प्रायः पर सिर के एक सिरे से, या कभी-कभी बीचों-बीच से या पीछे की तरफ से उठता है। कभी यह रह-रहकर कई हफ्तों या महीनों तक, या फिर सालों तक खास अंतराल में उठता है।
कई बार एक ही समय में यह बार-बार हथौड़ों की बारिश का एहसास कराता है। इसकी अनुभूति कई बार वास्तविक दर्द से दस मिनट से लेकर आधे घंटे पहले ही शुरू हो जाती है। इस दौरान सिर में बिजली फट पड़ने, आंखों के आगे अंधेरा छा जाने, बदबू आने, सुन्न पड़ जाने या दिमाग में झन्नाहट का एहसास होता है। किसी-किसी मरीज को अजीब-अजीब सी छायाएं नजर आती हैं। किसी को चेहरे और हाथों में सुइयां या या पिनें चुभने का एहसास होता है।

hand logo इस समय उबकाई आना, उल्टी, फोनोफोबिया और प्रकाश से भय आदि समस्याएं भी पैदा हो सकती है। माइग्रेन का हमला किसी भी आयु में हो सकता है, माइग्रेन के ज्यादातर रोगी वे होते हैं, जिनके परिवार में ऐसा इतिहास रहा है। इसके कुल रोगियों में ७५ प्रतिशत महिलाएं होती हैं।

hand logo माइग्रेन Migraine के प्रमुख कारणों में तनाव होना, लगातार कई दिनों तक नींद पूरी न होना, हार्मोनल परिवर्तन, शारीरिक थकान, चमचमाती रोशनियां, कब्ज़, नशीली दवाओं व शराब का सेवन आते हैं।
कई मामलों में ऋतु परिवर्तन, चाय / कॉफी का अत्यधिक सेवन किसी प्रकार की गंध और सिगरेट का धुआं आदि कारण भी माइग्रेन की समस्या का कारण देखे गये हैं।
आजकल डिब्बाबंद पदार्थों और जंक फूड का काफी चलन है। इनमें मैदे का बड़ी मात्रा में प्रयोग होता है, यदि आपको माइग्रेन की शिकायत है तो आप इन पदार्थों का सेवन कतई न करें।
पनीर, चाकलेट, चीज, नूडल्स, पके केले और कुछ प्रकार के नट्स में ऐसे रासायनिक तत्व पाए जाते हैं जो माइग्रेन को बढ़ा सकते हैं।

hand logo माइग्रेन Migraine का निवारण योगासन द्वाआ सुलभ है। इसके लिए रात्रि को बिना तकिए के शवासन में सोएं। सुबह-शाम योगाभ्यास में ब्रह्म मुद्रा, कंध संचालन, मार्जरासन, शशकासन के पश्चात प्राणायाम करें। इसमें पीठ के बल लेटकर पैर मिलाकर रखें। श्वास धीरे-धीरे अंदर भरें, तब तक दोनों हाथ बिना मोड़े सिर की तरफ जमीन पर ले जाकर रखें और श्वास बाहर निकालते वक्त धीरे-धीरे दोनों हाथ बिना कोहनियों के मोड़ें व वापस यथास्थिति में रखें। ऐसा प्रतिदिन दस बार करें। अंत में कुछ देर शवासन करके नाड़िशोधन प्राणायाम दस-दस बार एक-एक स्वर में करें।

hand logo इस दर्द में यदि सिर, गर्दन और कंधों की मालिश की जाए तो यह इस दर्द से आराम दिलाने बहुत सहायक सिद्ध हो सकता है। इसके लिए हल्की खुश्बू वाले अरोमा तेल का प्रयोग किया जा सकता है।पुदीना, नीलगिरी के कुछ आम इत्र माइग्रेन के केस में कारगर साबित हो सकते हैं।

hand logo रोगी साँस की गति को थोड़ा धीमा करके, लंबी साँसे लेने की कोशिश करें। यह तरीका दर्द के साथ होने वाली बेचैनी से राहत दिलाने में सहायता करेगा।

hand logo एक तौलिये को गर्म पानी में डुबाकर, उस गर्म तौलिये से दर्द वाले हिस्सों की मालिश करें। कुछ लोगों को ठंडे पानी से की गई इसी तरह की मालिश से भी आराम मिलता है। इसके लिए बर्फ के टुकड़ों का उपयोग भी कर सकते हैं।

hand logo अरोमा थेरेपी माइग्रेन के दर्द से काफ़ी आराम पहुंचाता है। इस तरीके में हर्बल तेलों के एक तकनीक के माध्यम से हवा में फैला दिया जाता है या फिर इसको भाप के द्वारा चेहरे पर डाला जाता है। इसके साथ हल्का संगीतक भी चलाया जाता है जो दिमाग को आराम पहुँचाता है।

hand logo माइग्रेन का सिरदर्द Migraine ka sirdard कम करने के लिए एक सबसे सरल उपचार है अपने सिर पर आइस पैक रखें। आइस पैक मस्तिष्क में रक्त के प्रवाह को नियंत्रित करने में मदद करता है और दर्द को कम कर देता है। प्रभावित क्षेत्र, कनपटी और गर्दन पर प्रभावी राहत के लिए आइस पैक को धीरे-धीरे रगड़ें।

hand logo मैगनीशियम ( बादाम )अक्सर माइग्रेन के मरीजों के लिए रामबाण माना जाता है। मैग्नीशियम प्रभावी ढंग से विभिन्न माइग्रेन सक्रियताओं का मुकाबला कर सकता है क्योंकि यह रक्त शर्करा और रक्तचाप के स्तर को नियंत्रित करता है। अपने आहार में 500 मिलीग्राम मैग्नीशियम की खुराक आपको माइग्रेन के दौरों का प्रभावी ढंग से इलाज करने में मदद कर सकती है।

hand logo माइग्रेन से आराम Migraine se aram के लिए आप ठंडे पानी में अपने पैर रख दें और अपने सिर के पीछे गरम पानी की बोतल रख सकते हैं।

hand logo माइग्रेन Migraine होने पर आप बिस्तर पर लेटकर दर्द वाले हिस्से को बेड के नीचे लटका दीजिए। सिर के जिस हिस्से में दर्द हो रहा हो उस तरफ वाले नाक में सरसों के तेल की कुछ बूंदें डाल दीजिए, उसके बाद जोर से सांसों को ऊपर की तरफ खींचिए इससे सिरदर्द से राहत मिलेगी।

hand logo माइग्रेन होने पर दालचीनी को पानी के साथ महीन पीसकर माथे पर पतला लेप कर लगा लीजिए। लेप सूख जाने पर उसे हटा लीजिए। 3-4 लेप लगाने पर सिरदर्द होना बंद हो जाएगा।

hand logo मुलहठी को कूट-पीसकर महीन चूर्ण बना लीजिए। इस चूर्ण को नाक के पास ले जाकर सूंघने से सिरदर्द या माइग्रेन में राहत मिलती है।

hand logo माइग्रेन में दर्द Migraine me dard होने पर कपूर को घी में मिलाकर सिर पर हल्के हाथों से मालिश कुछ देर तक मालिश कीजिए।

hand logo बटर में मिश्री को मिलाकर चबा चबा करखाने से भी माइग्रेन में राहत मिलती है।

hand logo नींबू के छिलके को पीसकर, इसका लेप माथे पर लगाने से भी माइग्रेन ठीक होता है।

hand logo माइग्रेन में सिर दर्द Migraine me sirdard होने पर धीमी आवाज में संगीत सुनना बहुत फायदेमंद होता है। दर्द से राहत पाने के‍ लिए बंद कमरे में हल्की आवाज में अपने पसंदीदा गानों को सुनिए, सिरदर्द कम होगा और रोगी को राहत भी मिलेगी।

hand logo नियम से सुबह खाली पेट महीन महीन काट कर सेब खाने से भी माइग्रेन में शीघ्र ही लाभ मिलता है ।

hand logo चौथाई चम्मच तुलसी के चूर्ण को शहद के साथ सुबह शाम चाटने से भी माइग्रेन में लाभ मिलता है ।

hand logo बीस ग्राम सौंठ के चूर्ण को 100 ग्राम गुड के साथ मिलाकर उसकी छोटी छोटी गोलियॉं बना लें । 4-5 गोलियाँ सुबह शाम चूसने से भी माइग्रेन में लाभ मिलता है ।

hand logo माइग्रेन के रोगी को अधिक प्रोटीन चिकनाई युक्त भोजन से दूर रहना चाहिए । इन्हे फल,सब्जियाँ और अकुंरित अनाज नियमित रूप से ज्यादा ज्यादा सेवन करना बहुत ही लाभकारी होता है ।

hand logo 12 ग्राम गुड़ को 6 ग्राम देशी घी के साथ खाएं माइग्रेन से लाभ मिलता है ।

hand logo 6-7 कालीमिर्च चबा चबा कर खाएं ऊपर से दो चम्मच देशी घी पीएं, माइग्रेन धीरे धीरे ठीक होता जाता है ।

hand logo गाजर और पालक का रस दोनों करीब 300 मि.ली. मात्रा में पीएं। यह इस रोग काफी गुणकारी है।

Ad space on memory museum


इस साइट के सभी आलेख शोधो, आयुर्वेद के उपायों, परीक्षित प्रयोगो, लोगो के अनुभवों के आधार पर तैयार किये गए है। किसी भी बीमारी में आप अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य ही लें। पहले से ली जा रही कोई भी दवा बंद न करें। इन उपायों का प्रयोग अपने विवेक के आधार पर करें,असुविधा होने पर इस साइट की कोई भी जिम्मेदारी नहीं होगी ।

यहाँ पर आप अपनी समस्याऐं, अपने सुझाव , उपाय भी अवश्य लिखें |
नाम:     

ई-मेल:   

उपाय:    


  • All Post
  •  
  • Admin Reply
1.
Hamesa sat darad hona
Namrata Singh   

2.
Get relief from migraine headache with natural migraine supplement.
Piyush  

3.
It is worth to try natural supplement for migraine.Migrokill capsule is awesome.
Rohit  

4.
Meri left eyes me roz subh 12 bje se lekar shaam 6 bje tak zabrdast drd hota hai . kuchh log isko ardhkari bol rahe hai . eyes spacialist doctor bhi kuchh ilaj sahi nahi kar pa raha hai . chasme lagane se bhi thik nahi hua . please mujhe bataye ki ye ardhkapri hai ya wakai me koi bahut badi problem hai . aur sirf din me hi kyo hoto 12 to 6 same time every day .
Faisal  

5.
Consider taking natural supplement for migraine attack. Migrokill
vinod  

6.
नींद नहीं आती है,
संजय कुमार  

7.
try out herbal supplement in the form of pills for sage migraine treatment.
pintu  

8.
Migraine can be treated effectively with the help of herbal supplement such as migrokill capsule
vicky  

9.
Thanks for sharing your post. You can try herbal supplement like Migrokill capsule to treat migraine headache.
Rajat  

10.
मेरे आधे सर मे दरद होता है कभी दाए कभी वाए कभी पूरे सर मे होता है कोई उपाए वताऐ
आयशा  

11.
Sir mere sir tab dard hota hai jab dhoop nikalti hai adhe sir me hota hai ankh ke paas
Ajeet Kumar  

12.
सर मेरे आधा सीसी का दर्द होता है वो भी सर के पिछले हिस्से में कोई उपाय बताए
Shokeen Khan   

13.
Adhasisi
kishan lal sharma   

14.
My garen
kishan lal sharma   

15.
Uopay
bheru lal rathor  

16.
Sir mere Ser ki Nasho mi dard hora h kuch upay batao plz
ramangoyal  

17.
Aada sir fatna.or ges banna.
aakash  

18.
Aada sir fatna.or ges banna.
aakash  

19.
माइग्रेन / आधे सीसी सर दर्द में 100 ग्राम देसी घी की जलेबी खा कर उसके ऊपर दूध पी लें ।
ऐसा लगातार 10 दिन तक करने से माइग्रेन बिलकुल सही हो जाता है । इस उपाय को हर 6 माह में दोहराते रहे ।
admin memorymuseum.net  

20.
Migren hone par nicip tablet Ka peryog kare sirf 3 din tak subh sam migren thik ho jayega
Rajan kumar  

21.
सर मेरे आधे सिर मे बहुत जोर से दर्द होता हैं कुछ उपाय बताओ
sanjay sharma  

22.
Mere sir m dard kai sal se h us karan ankh ki roshni kam hogi h
Ronaque  

23.
mera ik side se bahut sar dard hota hai always
ayesha  

24.
Sir ji mere sar Mein ek side bhut jyada dard hota h.bhut medicine bhi li lekin koi aaram nhi Hoya.please muje kuch advise dejiye.meri study bhi nhi Ho rhi h.please help me phone no.7210869227
RAVI KUMAR   

25.
अगर किसी को माइग्रेन रहता है तो नित्य 2 बून्द बादाम रोगन नाक में डालें इससे माइग्रेन , पुराने से पुराना सर दर्द भी दूर होता है ।
admin memorymuseum.net  

26.
guruji mujhe 8 sal se maigren ki problame hai, maigren hone par sar dard se fatne lagta hai, ankh ke samne andhera sa cha jata hai, kuch bhi bolne / khane ki sthithi nahi hoti hai koi upay batayen.
rashmi chaurasia  

27.
nice tips
arushi bhalla  

28.
माइग्रेन / आधे सिर के हिस्से के दर्द में यदि दर्द ज्यादा हो तो रोगी को आधा चम्मच शहद में आधा चम्मच नमक मिलाकर चटाएं, शीघ्र ही आराम प्राप्त हो जायेगा ।
admin memorymuseum.net  

29.
तुलसी के पत्तो को छावं में सुखा कर उसका चूर्ण बना लें फिर इनमें से एक चौथाई चम्मच चूर्ण को सुबह शाम खाली पेट शहद के साथ चाटने से माइग्रेन में शीघ्र ही आराम मिलता है ।
admin memorymuseum.net  

30.
Ghar ke logo ka liye baat nahi syne nahi he bar ka logo ki baat dunt he
savita Gupta   





1.
तुलसी के पत्तो को छावं में सुखा कर उसका चूर्ण बना लें फिर इनमें से एक चौथाई चम्मच चूर्ण को सुबह शाम खाली पेट शहद के साथ चाटने से माइग्रेन में शीघ्र ही आराम मिलता है ।
admin memorymuseum.net  

2.
माइग्रेन / आधे सिर के हिस्से के दर्द में यदि दर्द ज्यादा हो तो रोगी को आधा चम्मच शहद में आधा चम्मच नमक मिलाकर चटाएं, शीघ्र ही आराम प्राप्त हो जायेगा ।
admin memorymuseum.net  

3.
अगर किसी को माइग्रेन रहता है तो नित्य 2 बून्द बादाम रोगन नाक में डालें इससे माइग्रेन , पुराने से पुराना सर दर्द भी दूर होता है ।
admin memorymuseum.net  

4.
माइग्रेन / आधे सीसी सर दर्द में 100 ग्राम देसी घी की जलेबी खा कर उसके ऊपर दूध पी लें ।
ऐसा लगातार 10 दिन तक करने से माइग्रेन बिलकुल सही हो जाता है । इस उपाय को हर 6 माह में दोहराते रहे ।
admin memorymuseum.net  


दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं .....धन्यवाद ।