loading...

लाभ पँचमी के उपाय

labh-panchami-ka-mahatv-1

trishuk लाभ पँचमी का महत्व trishuk


labh-panchami-ka-mahatvi


वैसे तो दीपावली पाँच पर्वो का महापर्व माना जाता है जिसका अंतिम पर्व भाई दूज होता है लेकिन देश के बहुत से हिस्सो में कार्तिक शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को लाभ पंचमी / सौभाग्य पँचमी के साथ ही दीपावली का पर्व समाप्त होता है ।
वर्ष 2016 में लाभ पँचमी 5 नवम्बर शनिवार को मनाई जाएगी ।

trishuk सौभाग्य का अर्थ है श्रेष्ठ भाग्य, अत: लाभ पंचमी को भाग्य, लाभ के लिए अति श्रेष्ठ दिन माना जाता है। मान्यता है कि लाभ पंचमी के दिन भगवान श्री गणेश जी की पूजा आराधना करने से जीवन, घर, कारोबार में लाभ, सौभाग्य, और मनवाँछित सफलता प्राप्त होती है। गुजरात में व्यापारियों का यह दिन नया वर्ष होता है इसी दिन लोग दीपावली का पर्व मना कर अपने कार्यो की शुरुआत करते है ।

trishuk लाभ पंचमी के दिन नए कार्यो की शुरुआत करना अति शुभ माना जाता है। इस दिन लोग एक दूसरे को आने वाले वर्ष के लिए, अच्छे समय के लिए बधाई देते है , उपहार देते है ।

trishuk लाभ पंचमी के दिन भगवान गणपति जी की पूजा आराधना से जीवन की समस्त मनोकामनाएँ पूर्ण होती है। इस दिन गणपति जी को प्रसन्न करने से जीवन से सभी विघ्न दूर होते है, परिवार में सुख शांति और समृद्धि आती है । इस दिन भगवान गणेश जी के साथ, भगवान भोलेनाथ एवं माँ लक्ष्मी की आराधना भी विशेष फलदायी होती है, जीवन में धन की कोई भी नहीं होती है, कार्यो की समस्त बाधाएँ, सभी संकट दूर होते है ।

trishuk दीपावली पर बही खातों की पूजा होती है और लाभ पँचमी के दिन बही खातों में लिखना शुरू किया जाता है । इस दीन बही खातों में बायीं ओर शुभ और दायीं ओर लिख कर नया हिसाब लिखा जाता है।

trishuk लाभ पंचमी के दिन किसी शिव मंदिर में जाकर भगवान भोलेनाथ का पंचामृत (गंगाजल, दूध, शहद, दही और घी) से अभिषेक करें, अथवा शिवलिंग पर कच्चा दूध एवं शहद से अभिषेक करके काले तिल, अक्षत चढ़ाएं। इस दिन भगवान भोलेनाथ को बेल पत्र, शमीपत्र, भाँग, धतूरा और सफेद पुष्प अर्पित करें । इससे भगवान की कृपा मिलती है जीवन में अच्छा समय आता है भाग्य प्रबल बनता है, जातक में सभी आकस्मिक आपदाओं से रक्षा होती है।




loading...


दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं .....धन्यवाद ।

Loading...