Memory Alexa Hindi

होली के रंग कैसे बनायें

holi-ke-rang-kaise-banayen

होली के रंग कैसे बनायें

holi-ke-rang-kaise-banayen

Kalash One Image होली के रंग कैसे बनायें Kalash One Image
Kalash One Image Holi Ke Rang kaise Banayen Kalash One Image


holi-ke-rang-kaise-banayen





Kalash One Image होली पर बनाये हर्बल रंग Kalash One Image
Kalash One Image Holi Par Bnayen Herbal Rang Kalash One Image


होली रंगो का उमंगो का हर्ष और प्रेम का पर्व है। होली बसंत ऋतू में आती है जिसमें ना ज्यादा सर्दी होती है और ना ही ज्यादा गर्मी। हममे से हर कोई होली खेलना चाहता है लेकिन बहुत से लोग इस लिए रंगो से होली नहीं खेलते है क्योंकि रंगो में उपयोग किये जाने वाले रसायन अत्यंत हानिकारक होते है । इन रंगो को बहुत गहरा बनाने के लिए बहुत से निर्माता इन रंगो में तरह तरह के रसायन मिला देते है इन खराब रंगों से हमारी त्वचा और बालों को नुकसान पुहंच सकता हैं,

जानिए होली के रंग कैसे बनायें, Holi Ke Rang kaise Banayen, होली पर बनाये हर्बल रंग ,Holi Par Bnayen Herbal Rang ।

गहरे और पक्के रंगो की डिमांड के कारण होली के समय में बाजार में बहुत से ऐसे रासायनिक कलर्स मिलते हैं जो ना सिर्फ गहरे ही होते हैं बल्कि उनका इससे हमारी स्किन, आंखें और बालों को भी हानि पहुँचती हैं।

Kalash One Image जैसे समान्यता काले रंग को बनाने के लिए लेड ऑक्साइड का उपयोग होता है जो कि किडनी के लिए बहुत हानिकारक है।

Kalash One Image लाल रंग को बनाने में मरक्यूरी सल्फाइट का प्रयोग किया जाता है जो त्वचा के लिए हानिकारक है और इससे कैंसर होने का भी खतरा रहता है।

Kalash One Image इसी तरह हरा रंग में कॉपर सल्फेट मिलाया जाता है जो कि आंखों के लिए अच्छा नही है। इससे आंखों में एलर्जी, सूजन इत्यादि होने का खतरा रहता है।

Kalash One Image लाल रंग को मरक्यूरी सल्फाइट से बनाया जाता है जिससे त्वचा कैंसर होने का खतरा रहता है।

Kalash One Image लेकिन अगर लोगो को यह पता चल जाये की आप रासयनिक रंगो से नहीं वरन इको फ्रैंडली रंगो से होली खेलते है, जिनसे किसी भी तरह की हानि नहीं पहुँचती है तो यकीन मानिये की आपके साथ सब लोग होली खेलना पसंद करेंगे । प्राकृतिक रंग आमतौर पर घर में ही तैयार किए जाते हैं या फिर हर्बल कलर्स भी प्राकृतिक रंगों में शामिल होते हैं। प्राकृतिक रंग सामान्य और रासायनिक रंगों से थोड़ा महंगे आते हैं और आसानी से बाजार में उपलब्ध नहीं होते।

Kalash One Image अगर ये प्राकृतिक रंग आप स्वयं बहुत ही आसानी से बना लें तो लोग तो आपकी सराहना करते नहीं थकेंगे। जी हाँ आप होली खेलने के लिए ऐसे कलर्स का चयन करें जो आपकी सेहत का ध्यान रखकर बनाएं गए हो।
प्राकृतिक रंगों के साथ होली खेलने का अपना अलग ही मजा होता है। लेकिन क्या आप जानते है की प्राकृतिक रंग क्या होते है, इन्हे कैसे बनाया जाता है और इन प्राकृतिक रंगों के साथ होली खेलने के फायदे क्या हैं।

Kalash One Image आइये हम आपको बताते है त्वचा के लिए लाभकारी हर्बल रंग आप घर पर ही कैसे तैयार करें :-

Kalash One Image गाढ़ा जामुनी रंग बनाने के लिए एक किलो चुकंदर को कद्दूकस करके एक लीटर पानी में डालकर ढककर रात भर छोड़ दें। सुबह इसको उबाल लें और छानकर इसका रस निकाल लें। इससे बहुत ही अच्छा गाढ़ा जामुनी रंग तैयार हो जाएगा।

Kalash One Image लाल रंग बनाने के लिए रात में टमाटर या गाजर को पीसकर उसका रस निकाल लें। फिर उसको अच्छी तरह से पानी में घोलकर रख दें ( टमाटर और गाजर का गुदा भी पानी में मिला दें ) सुबह इसे छान ले, आपका नैचरल होली का लाल रंग तैयार हैं।

Kalash One Image गीला लाल रंग बनाने के लिए एक लीटर पानी में दो चम्मच हल्‍दी मिला कर उसमें दो नींबू निचोड़ कर उसे छान ले। आपको बढ़िया लाल रंग तैयार मिलेगा।

Kalash One Image नारंगी रंग बनाने के लिए 12 बड़े प्‍याजों को छिलके सहित चार चार टुकड़ो में काटकर एक लीटर पानी में अच्छी तरह से उबाल लें । आपका नारंगी रंग तैयार हो जायेगा।

Kalash One Image हरे रंग को बनाने के लिए एक किलो पालक, धनिया, पुदीना, आदि हरी पत्‍तियों का मिक्सी में अच्छी तरह से पीस कर उसे कम से कम दो लीटर पानी में घोलकर रात भर के लिए छोड़ दें । सुबह इसे छान लें आपका बढ़िया हरा रंग तैयार है।

Kalash One Image चार चम्‍मच मेंहदी को दो लीटर पानी के साथ रात भर भिगो दें, सुबह इसे छान लें आपका बढ़िया हरा रंग तैयार है।

Kalash One Image पीला रंग बनाने के लिए हल्दी पाउडर और बेसन को बराबर मात्रा में मिलाकर पानी में डालकर गाढ़ा गाढ़ा घोल ले। फिर इस घोल को किसी सूती कपडे में बांध ले। उसमे से जो भी कलर निकलेगा उसे आप इस्तेमाल कर सकते हैं।
40-50 गेंदे के फूलो को मसल कर रात भर एक बाल्टी थोड़े गर्म पानी में भिगो दें इसमें 4 चम्मच हल्दी भी मिला दें फिर सुबह इसे छान ले, इससे भी बढ़िया पीला रंग तैयार मिलेगा ।

Kalash One Image अच्छा सूखा हरा रंग बनाने के लिए दो बड़े चममच हाथों में लगाने वाली मेहंदी में दो चम्मच बेसन या आटा मिलाकर उसे बहुत ही अच्छी तरह से मिला लें की वह पूरी तरह से हरे रंग में नज़र आने लगे। इस हरे गुलाल से किसी भी तरह की हानि नहीं होगी।

Kalash One Image केसरिया रंग बनाने के लिए दो चम्मच लाल चन्दन पाउडर में दो चम्मच बेसन और मैदा मिला लें, आपका केसरिया गुलाल तैयार है।

Kalash One Image इसी में थोड़ी से रोली और आधा चम्मच लाल खाने वाला रंग मिलाने से बढ़िया लाल गुलाल रंग प्राप्त हो जायेगा ।

Kalash One Image हल्दी को उसके दुगुने मात्रा में बेसन एवं एक चम्मच पीले खाने वाले रंग के साथ मिलाकर पीले रंग का गुलाल तैयार हो जायेगा, जो त्वचा के लिए गुणकारी है।

Published By : Memory Museum
Updated On : 2018-02-23 02:45:55 PM


pandit-ji

ज्योतिषाचार्य डॉ० अमित कुमार द्धिवेदी
कुण्डली, हस्त रेखा, वास्तु
एवं प्रश्न कुण्डली विशेषज्ञ


Ad space on memory museum


दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं .....धन्यवाद ।