Memory Alexa Hindi
गणेश जी की कृपा कैसे प्राप्त करें
Ganesh ji ki kripa kaise prapt karen

ganesh-ji-ki-kripa-kaise-prapt-kare



गणेश जी की कृपा
Ganesh ji ki kripa

Kalash One Image गणेश जी Ganesh ji रक्तवर्ण, लम्बोदर, शूर्पकर्ण तथा रक्त वस्त्रधारी हैं। वह अपने भक्तो पर कृपा करने के लिए शीघ्र ही साकार हो जाते हैं।

Kalash One Image शास्त्रो के अनुसार गणपति जी के कानों में वैदिक ज्ञान, उनकी सूंड में धर्म, उनके दाएं हाथ में वरदान, गणपति जी के बाएं हाथ में अन्न, गणेश जी Ganesh ji के पेट में सुख-समृद्धि, उनके नेत्रों में लक्ष्य, ऊनि नाभि में ब्रह्मांड, उनके चरणों में सप्तलोक और गणेश जी के मस्तक में ब्रह्मलोक होता है।

Kalash One Image मान्यता है कि जो जातक शुद्ध तन-मन से, पूर्ण श्रद्धा से, ध्यानपूर्वक उनके इन सभी अंगों के दर्शन करता है उसको श्रेष्ठ विद्या, धन, संतान और स्वास्थ्य होती हैं। उसे अपने जीवन में आने वाली अड़चनों और समस्त संकटों से निश्चय ही छुटकारा मिलता है।

Kalash One Image गणपति जी के मुख का दर्शन करना अत्यंत मंगलमय माना जाता है लेकिन क्या आप जानते हैं उनका एक अंग ऐसा भी है जिसके दर्शन करने से दरिद्रा आती है।

Kalash One Image जी हाँ शास्त्रों के अनुसार गणपति देव की पीठ के दर्शन नहीं करने चाहिए। मान्यता है की उनकी पीठ में दरिद्रता का निवास होता है, इसलिए यदि अनजाने में पीठ के दर्शन हो जाएं तो पुन: मुख के दर्शन कर लेने से यह दोष समाप्त हो जाता है।

यदि किसी जातक को गणपति जी की पूर्ण कृपा चाहिए हो, उसे अपनी मनोकामनाओं की पूर्ति करनी हो तो उसे गणपति जी ganpati ji की कृपा प्राप्त करने के लिए निम्न उपाय करने चाहिए......

om गणेश उत्सव, चतुर्थी अथवा बुधवार को गणेश जी Ganesh ji पर हल्दी से पीले किए गए 5 गोमती चक्र चढ़ाएं। फिर उन्हें अपनी तिजोरी में रख लें। इससे घर कारोबार में माँ लक्ष्मी Maa Lakshmi की कृपा बनी रहेगी।

om गणेश उत्सव Ganesh Utsav, चतुर्थी अथवा बुधवार को गणेश जी Ganesh ji पर चार लड्डू का भोग लगाकर उन्हें दक्षिणा के साथ किसी ब्राह्मण को दान करें।

om इस उपाय को करने से पारिवारिक सुख शांति रहेगी ,परिवार के सदस्यों के मध्य परस्पर प्रेम और सहयोग बना रहेगा।

om गणेश जी Ganesh ji पर नित्य लाल और पीले फूल चढ़ाएं। इससे धन लाभ होगा, धन की हानि से बचेंगे।

om यदि शत्रुओं का भय हो तो गणेश जी Ganesh ji पर पान के पत्ते पर स्वास्तिक बनाकर अर्पित करें। इससे बल और साहस प्राप्त होता है, शत्रुओं निस्तेज होते है।

om गणेश उत्सव Ganesh Utsav अथवा बुधवार को गणेश जी Ganesh ji पर मक्की के दाने चढ़ाकर उन्हें किसी पीले कपड़े में लपेटकर रसोई घर में छिपा कर रख दें इससे घर में अन्न-धन की कमी नहीं होगी।


pandit-ji

पं मुक्ति नारायण पाण्डेय
( कुंडली, ज्योतिष विशेषज्ञ )


Ad space on memory museum


दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं .....धन्यवाद ।