Memory Alexa Hindi


Kalash One Image चंद्र ग्रहण 2018 Kalash One Image
Kalash One Image Chandra grahan 2018 Kalash One Image



chandra-grahan-me-vishesh



Kalash One Image चंद्र ग्रहण में विशेष Kalash One Image
Kalash One Image Chandra grahan me vishesh Kalash One Image


शास्त्रों के अनुसार चंद्रग्रहण chandra grahan का बहुत अधिक धार्मिक महत्व है , इस समय किये गए जप, तप, दान से अनंत गुना पुण्य मिलता है वहीँ पर यदि ग्रहण काल में कुछ गलत किया जाय जो शास्त्रों में मना किया गया है तो उसके गंभीर परिणाम होते है , व्यक्ति को पाप का भागी होना पड़ता है। अत: यह जानना आवश्यक है कि चंद्रग्रहण chandra grahan में क्या करें और क्यां ना करे।
यहाँ पर हम कुछ बातो को बता रहे है जिनका ग्रहण काल में अवश्य ही पालन करना चाहिए ।
जानिए चंद्र ग्रहण में विशेष, chandra grahan men vishesh, चंद्र ग्रहण में क्या करे क्या ना करें, chandra grahan men kya karen kya na karen

अवश्य पढ़ें :- इन उपायों से मिलेगा योग्य और मनचाहा जीवन साथी, जानिए शीघ्र विवाह के उपाय,

hand-logo ग्रहण के विशेष सिद्ध मन्त्र hand-logo


hand-logo शास्त्रों के अनुसार ग्रहण के समय किया गया जप-तप लाखो गुना फलदाई होता है , उसका पुण्य अक्षय हो जाता है, अभीष्ट देवी-देवता की कृपा बनती है ।
आप यदि नित्य जो भी पाठ करते हो, किसी भी प्रयोजन / संकल्प के लिए जिस किसी भी देवी-देवता की आराधना, मन्त्र का जाप करते हो,
ग्रहण के समय उसका अधिक से अधिक पाठ-जाप करने से वह सिद्ध हो जाता है, अन्यथा वह मलिनता को प्राप्त होता है अर्थात अन्य दिनों में उससे शुभ फलो की प्राप्ति में बहुत समय लगता है।

hand-logo पूर्णिमा तिथि माँ लक्ष्मी को अत्यंत प्रिय है अतः सुख समृद्धि और ऐश्वर्य प्राप्ति के लिए ग्रहण के समय श्री सूक्तम की 16 ऋचाओं का अधिक से अधिक पाठ अवश्य ही करें। शास्त्रों के अनुसार ग्रहण के समय श्री सूक्त का पाठ करने से माँ लक्ष्मी की उस जातक एवं उसके वंश पर सदैव कृपा बनी रहती है।

अवश्य पढ़ें :- ऐश्वर्य प्राप्ति के लिए करें श्री सूक्त का पाठ हिंदी में मात्र 5 मिनट में

hand-logo जीवन में सर्व कार्य सिद्धि, समस्त सुखो के लिए ग्रहण के समय गायत्री मंत्र के जाप का विशेष महत्व है।

hand-logo गायत्री मंत्र :- ॐ भूर्भुव: स्व: तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो
देवस्य धीमहि धियो यो न: प्रचोदयात्।


hand-logo चंद्र देव भगवान महादेव के माथे पर विराजमान है। पुराणों के अनुसार भगवान शंकर जी ने चंद्रमा को रोगमुक्‍त किया था, जिसके बाद चंद्रदेव ने स्वयं गुजरात के सोमनाथ में भगवान शंकर का विश्व प्रसिद्द मंदिर था। सोम चंद्रदेव का ही नाम है। ऐसे में चंद्र ग्रहण के समय महादेव एवं चंद्र देव के मन्त्र का जाप अति विशेष माना गया है।

hand-logo शास्त्रों के अनुसार चंद्र ग्रहण के दिन विशेषकर ग्रहण के समय इन मंत्रो के जाप से चंद्र देव अति प्रसन्न होते है, उसे समस्त संकटो से छुटकारा मिलता है एवं जातक की सभी मनोकामनाएँ अवश्य ही पूर्ण होती है।

hand-logo चन्द्र ग्रहण के समय चन्द्र देव के इन मंत्रो का जाप परम फलदाई है, इन मंत्रो के जाप से सुख सम्रद्धि, मानसिक शांति एवं आत्म बल की प्राप्ति होती है । —–”””ऊँ श्रां श्रीं श्रौं सः चंद्रमसे नमः “””या “””ऊँ सों सोमाय नमः “”

hand-logo आरोग्य और दीर्घ आयु के लिए विशेषकर रोगी जनों को ग्रहण काल में महामृत्युंजय मंत्र का जाप करना परम् फलदाई है।

hand-logo महामृत्युंजय मंत्र :- ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्।
उर्वारुकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्॥


अवश्य जानें :- मिल गया, मिल गया सदा जवान रहने का नुस्खा, जवानी का उपाय

hand-logo गर्भ की सुरक्षा और योग्य संतान के लिए गर्भवती महिलाएं हनुमान जी के अमोघ मन्त्र "हं हनुमते रुद्रात्मकाय हूं फट" का जप करें।

hand-logo जो लोग कर्जे में हो, जिनका धन रुका हो या धन कही फँसा हो उन जातको को "ॐ गणेश ऋणं छिन्दि वरेण्यम हूं नम: फट स्वाहा" का जाप करने से इच्छित फलो की प्राप्ति होती है।

hand-logo हनुमान जी का मंत्र- ऊं रामदूताय नम:

hand-logo भगवान विष्‍णु का मंत्र- ऊं नमो भगवते वासुदेवाय नम:

hand-logo महादेव का जाप: ऊं नम: शिवाय

hand-logo श्रीकृष्‍ण मंत्र- क्‍लीं कृष्‍णाय नम:

अवश्य पढ़ें :- इन उपायों से परीक्षा में मिलेगी श्रेष्ठ सफलता,



pandit-ji

पं मुक्ति नारायण पाण्डेय
( कुंडली, ज्योतिष विशेषज्ञ )

Ad space on memory museum


दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं .....धन्यवाद ।