Memory Alexa Hindi

कैंसर के उपचार
Cancer ke Upchar


ड्रॉइंग रूम


कैंसर के इलाज
Cancer Ke Ilaj



कैंसर cancer एक जानलेवा बीमारी है जिससे प्रति वर्ष विश्व में लाखो लोगो की अकाल मौत होती है। भारत में भी कैंसर रोग भयावह तरीके से बढ़ता ही जा रहा है। लेकिन यदि समय से कैंसर के उपचार, cancer ke upchar किये जाएँ तो कैंसर का इलाज, cancer ka ilaz निश्चित ही संभव है। जी हाँ कुछ सावधानियाँ रखकर, और कुछ उपायों को करके कैंसर में लाभ लिया जा सकता है। यहाँ पर हम कई परीक्षित / लोगो के अनुभव के आधार पर / आयुर्वेदक, कैंसर के उपचार बता रहे है जिसको करके कैंसर से बचा जा सकता है, कैंसर पर विजय पायी जा सकती है। जानिए कैसे करें, कैंसर के उपचार, cancer ke upchar, कैंसर का इलाज, cancer ka ilaz

hand-logo लाल, नीले, पीले और जामुनी रंग की फल-सब्जियां जैसे टमाटर, जामुन, काले अंगूर, अमरूद, पपीता, तरबूज आदि खाने से कैंसर का खतरा कम हो जाता है। इनको ज्यादा से ज्यादा अपने भोजन में शामिल करें ।

अवश्य पढ़ें :- उत्तम पुत्र प्राप्ति हेतु स्त्री को हमेशा पुरूष के बायें तरफ़ एवं योग्य कन्या प्राप्ति के लिये स्त्री को पुरूष के दाहिनी तरफ सोना चाहिये, जानिए मनचाही संतान प्राप्ति के अचूक उपाय

hand-logo कैंसर के उपचार ( cancer ke upchar ) के लिए हल्दी का अपने खाने में प्रतिदिन सेवन करें । हल्दी ठीक सेल्स को छेड़े बिना ट्यूमर के बीमार सेल्स की बढ़ोतरी को धीमा करती है।

hand-logo कैंसर के इलाज ( Cancer ke ilaj ) के लिए नियमित रूप से ग्रीन टी अर्थात हरी चाय का सावन करें। ग्रीन टी स्किन, आंत ब्रेस्ट, पेट , लिवर और फेफड़ों के कैंसर को रोकने में मदद करती है। लेकिन यदि चाय की पत्ती अगर प्रोसेस की गई हो तो उसके ज्यादातर गुण गायब हो जाते हैं।

hand-logo कैंसर के इलाज ( Cancer ke ilaj ) के लिए सोयाबीन या उसके बने उत्पादों का अधिक से अधिक प्रयोग करें । सोया प्रॉडक्ट्स खाने से ब्रेस्ट और प्रोस्टेट कैंसर की आशंका कम होती है।

hand-logo बादाम, किशमिश आदि ड्राई फ्रूट्स खाने से कैंसर का फैलाव रुकता है।

hand-logo कैंसर के उपचार ( cancer ke upchar ) के लिए नियमित रूप से पत्तागोभी, फूलगोभी, ब्रोकली को अपने आहार में शामिल करें पत्तागोभी, फूलगोभी, ब्रोकली आदि में कैंसर को ख़त्म करने का गुण होता है।

hand-logo ( Cancer ke ilaj ) कैंसर के इलाज / बचाव में लहसुन बहुत ही प्रभावी है । इसलिए रोज लहसुन अवश्य खाएं। इससे शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होती है।

hand-logo कैंसर ( cancer ) में रोज नींबू, संतरा या मौसमी में से कम-से-कम एक फल अवश्य ही खाएं। इससे मुंह, गले और पेट के कैंसर ( cancer ) की आशंका बहुत ही कम हो जाती है।

यह भी जाने:- तुलसी ऐसी अचूक रामबाण औषधी है इसे घर का वैद्य भी कहा गया है। जानिए तुलसी के चमत्कारी औषधीय गुण

hand-logo कैंसर के उपचार ( cancer ke upchar ) के लिए ऑर्गेनिक फूड का ज्यादा से ज्यादा उपयोग करें ,ऑर्गेनिक यानी वे दालें, सब्जियां, फल जिनके उत्पादन में पेस्टीसाइड और केमिकल खादें इस्तेमाल नहीं हुई हों।

hand-logo कैंसर ( cancer ) में पानी पर्याप्त मात्रा में पीएं, रोज सुबह उठकर रात को ताम्बे के बर्तन रखा 3-4 गिलास पानी अवश्य ही पियें ।

hand-logo रोज 15 मिनट तक सूर्य की हल्की रोशनी में बैठें।

hand-logo नियमित रूप से व्यायाम करें।

hand-logo कैंसर का पता लगने पर दूध या दूध के बने पदार्थों का उपयोग बंद कर दें । इनसे व्यक्ति को नहीं वरन कैंसर के बैक्टीरिया को ताकत मिलती है ।

hand-logo कैंसर के उपचार ( cancer ke upchar ) के लिए नियमित रूप से गेंहू के पौधे के रस का सेवन करें ।

hand-logo कैंसर के उपचार ( cancer ke upchar ) में तुलसी और हल्दी का महत्वपूर्ण योगदान है। तुलसी और हल्दी से मुंह में होने वाले इस जटिल रोग का इलाज संभव है।वैसे तो तुलसी और हल्दी में कुदरती आयुर्वेदिक गुण होते ही हैं मगर इसमें कैंसर रोकने वाले महत्वपूर्ण एंटी इंफ्लेमेटरी तत्व भी होते हैं। तुलसी इस रोग में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ा देती है। घाव भरने में भी तुलसी मददगार होती है।

hand-logo एक से अधिक साथी से यौन सम्बन्ध न रखने से भी मासाने व गर्भास्य के कैंसर से बचा जा सकता है।

जरुर पढ़ें :- पेट साफ ना होना अर्थात कब्ज होना यह बहुत सी बिमारियों की जड़ है। इस उपाय से कब्ज से हमेशा के लिए मिलेगा छुटकारा

hand-logo अनार का ज्यादा से ज्यादा उपयोग करें अनार कैंसर के इलाज ( Cancer ke ilaj ) खासकर स्तन कैंसर में बहुत ही प्रभावी माना गया है ।

hand-logo कैंसर ( Cancer ) होने पर आधी बड़ी चम्मच कलौंजी के तेल को एक गिलास अंगूर के रस में मिलाकर दिन में तीन बार लें । कैंसर के मरीज को लहसुन भी खुब खाना चाहिए ।

  hand-logo कैंसर के मरीज को 2 किलो गेहूँ और 1 किलो जौ के मिश्रित आटे की रोटी लगातार कम से कम 40 दिन तक खिलाएं। यह कैंसर के उपचार ( cancer ke upchar ) में बहुत सहायक सिद्ध होता है। इसके साथ आलू, अरबी और बैंगन से परहेज़ करें।

hand-logo ( Cancer ke ilaj ) कैंसर के इलाज में हल्दी बहुत ही लाभदायक है । हल्दी में कर्कुमिन नाम का एक प्राकर्तिक रूप से पाया जाने वाला कैमिकल पाया जाता है जो कैंसर कोशिकायों को मार सकता है।

hand-logo इसी तरह देशी गाय के मूत्र में भी कर्कुमिन होता है । आधा कप देशी गाय का मूत्र और आधा चम्मच हल्दी दोनों को मिलाके गरम करें और जब उबाल आ जाये तो उसको उतार कर रोगी को धीरे धीरे चाय की तरह पिलाना है। इससे कैंसर में आराम ( Cancer me aram ) मिलता है
यह प्रयोग कम से कम 3 माह तक सुबह शाम लगातार करना है । ( गोमूत्र अर्थात देशी गाय के शरीर से निकला हुआ मूत्र जिसे सूती के आठ परत की कपड़ों से छाना गया हो। )

hand-logo आजकल महिलाओं में गर्भाशय और स्तनों का कैंसर काफी तेजी से बड़ रहा है। यह पहले गांठ होती है जो बाद में कैंसर में तब्‍दील हो जाती है।
लेकिन यदि महिलाएं थोड़ी सी जागरूक हो जाएँ तो इस गांठ के बनने की सम्भावना नहीं के बराबर हो जाती है या इसे समय रहते ही गलाया जा सकता है।
( वैसे सभी गाँठ कैंसर नहीं होती है केवल 4-5 प्रतिशत ही कैंसर में बदलती है । )

अवश्य जाने :- प्राचीन सुश्रुत संहिता से जानिए कैसे होगी कुल का नाम रौशन करने वाली, योग्य एवं संस्कारी संतान की प्राप्ति,

hand-logo कैंसर के उपचार ( cancer ke upchar ) में प्रमुख है की जैसे ही आपको आपके शरीर के किसी भी हिस्से में रसोली या गांठ का पता चले तो आप पान में खाने वाला चूना ले आइये ।
फिर उस चुने को गेहूँ के दाने के बराबर पानी में घोल के, दही में घोल के , लस्सी में घोल के , अथवा दाल या सब्जी में मिलाकर उसका नियमित रूप से सेवन करें।

hand-logo आपके शरीर में जैसी भी गाँठ होगी वह गल जाएगी । परन्तु ध्यान दें कि चूने का सीमित मात्रा में ही प्रयोग करना है और पथरी के रोगी चूने का बिलकुल भी प्रयोग ना करें ।
इस प्रयोग से बहुत ले लोगो ने फायदा होने की बात कही है ।

यह भी देखें :- प्रत्येक दिन में शुभ और अशुभ दोनों ही चौघड़ियाँ होती है, जिससे हम अपने कार्यो में श्रेष्ठ सफलता प्राप्त कर सकते है जानिए अपने लिए प्रतिदिन के अनुकूल समय

hand-logo कैंसर / ब्लड कैंसर में दालचीनी बहुत ही प्रभावी मानी जा रही है । कैंसर के मरीज नित्य एक चम्मच शहद में एक चम्मच दालचीनी मिलाकर दिन में तीन बार चाटें इससे कैंसर में बहुत ज्यादा लाभ मिलता है ।
जिनको कैंसर के साथ मधुमेह भी है उन्हें दो लीटर पानी में 4 चम्मच दालचीनी पाउडर डालकर उसे धीमी आँच में उबालकर जब वह 1.5 लीटर रह जाय तो उस जल को दिन में पानी की जगह थोड़ा थोड़ा पीना चाहिए। यह जल किसी भी तरह के कैंसर में रामबाण का काम करता है ।

hand-logo नित्य प्रात: या भोजन के आधा या एक घण्टे के बाद एक या दो लहसुन की कली कच्चा छीलकर चबाया करे, इससे कैंसर नही होता कैंसर हो भी गया है तो आराम मिलता है । कैंसर होने पर लहसुन की एक दो कली पीसकर पानी में घोलकर नित्य खाने के बाद लगातार दो माह तक पीने से पेट के कैंसर में बहुत आराम मिलता है ।

hand-logo नित्य प्रात: दो चम्मच अदरक के रस में एक चम्मच नींबू का रस और आधा चम्मच शहद मिलाकर पीने से कैंसर दूर रहता है| यह प्रयोग दिन में तीन बार सुबह दोपहर रात को खाना खाने से एक घंटा पहले करने से कैंसर रोग में भी बहुत लाभ मिलता है|



Ad space on memory museum


इस साइट के सभी आलेख शोधो, आयुर्वेद के उपायों, परीक्षित प्रयोगो, लोगो के अनुभवों के आधार पर तैयार किये गए है। किसी भी बीमारी में आप अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य ही लें। पहले से ली जा रही कोई भी दवा बंद न करें। इन उपायों का प्रयोग अपने विवेक के आधार पर करें,असुविधा होने पर इस साइट की कोई भी जिम्मेदारी नहीं होगी ।

कैंसर से बचने के घरेलू उपचार

Cancer Se Bachne Ke Upay

कैंसर के क्या है लक्षण, कैसे करे उसकी जाँच , कैसे हो उससे बचाव जानने के लिए इस साइट पर अवश्य ही विज़िट करें ।

.