Free Astro, Vastu & Health-Tips

मांगलिक दोष दूर करने के उपाय
मांगलिक दोष दूर करने के उपाय
यदि कुंडली में हो मांगलिक दोष तो विवाह में विलम्ब, दाम्पत्य जीवन में कलह, स्वास्थ्य एवं आर्थिक समस्याओ का करना पड़ेगा सामना। मांगलिक दोष निराकरण के लिए करे ये उपाय इनसे इस दोष में आएगी कमी, परिवारिक जीवन होगा सुखमय। जानिए मांगलिक दोष दूर करने के उपाय
https://www.memorymuseum.net/hindi/manglik-dosh-ke-upay.html
माघ पूर्णिमा का महत्व
माघ पूर्णिमा का महत्व
माघ पूर्णिमा के दिन सूर्योदय से पूर्व जल में भगवान विष्णु का तेज रहता है जो हर तरह के पाप का नाश करता है। भगवान श्री कृष्ण ने युधिष्ठिïर को बताया था कि इस दिन स्नान-दान, पितरों के तर्पण व सूर्य देव को अर्ध्य देने तथा गर्म वस्त्रों का दान करने से व्यक्ति बैकुण्ठ में जाता है। जानिए माघ पूर्णिमा का विशेष महत्व
https://www.memorymuseum.net/hindi/magh-purnima.php
पुष्य नक्षत्र के उपाय,
पुष्य नक्षत्र के उपाय,
आज अति शुभ पुष्य नक्षत्र है। पुष्य नक्षत्र को नक्षत्रो का राजा कहा जाता है और इस दिन कुछ आसान से उपायों से माँ लक्ष्मी को कर सकते है प्रसन्न। पुष्य नक्षत्र के दिन करे ये उपाय माँ लक्ष्मी का घर कारोबार में रहेगा सदैव वास। जानिए पुष्य नक्षत्र के उपाय,
https://www.memorymuseum.net/hindi/pushya-nakshatra-ke-upay.php
सोमवार का पंचांग
सोमवार का पंचांग
"ॐ नमो शिवाये, हर हर महादेव"।। आज माघ माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी दिन सोमवार है। सोमवार और चतुर्दशी दोनों ही दिन भगवान भोलेनाथ की आराधना, अभिषेक अत्यंत पुण्यदायक है। आज शिव मंदिर में शिवलिंग का दूध, शहद, घी से अभिषेक करने से भगवान शिव की निसंदेह कृपा प्राप्त होगी।जीवन में समस्त सुखो की प्राप्ति हेतु नित्य पंचांग को अवश्य ही पढ़े। जानिए सोमवार का पंचांग आप पर भगवान भोलेनाथ और माँ पार्वती की सदैव कृपा बनी रहे।
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Monday
चंद्र देव को कैसे करें अपने अनुकूल,
चंद्र देव को कैसे करें अपने अनुकूल,
कुंडली में चंद्रमा के शुभ होने पर जातक को सौंदर्य, मानसिक शांति मिलती है, परिवार मे प्रेम, सुख-समृद्धि होती है। जानिए चंद्र देव को कैसे करें अपने अनुकूल, सोमवार के दिन अवश्य करें लाल पेज पर बने चंद्र यंत्र के दर्शन, चंद्रदेव का अचूक मन्त्र
https://www.memorymuseum.net/hindi/chandr-grah-ke-upay.php
कैसे करे सूर्य देव को अपने अनुकूल,
कैसे करे सूर्य देव को अपने अनुकूल,
कुंडली में जब उच्च का सूर्य होता है, तो वह समाज में मान-सम्मान और, नौकरी व कामकाज में स्थायित्व, सुख-समृद्धि दिलाता है, चेहरे में चमक और शरीर रोगों से दूर रहता है राजयोग बनता है। जानिए कैसे करे सूर्य देव को अपने अनुकूल, अवश्य ही देखें सूर्य देव का यंत्र,
https://www.memorymuseum.net/hindi/surya-grah-ke-upay.php?
रविवार का पंचांग
रविवार का पंचांग
ॐ घृणि सूर्याय नमः"।।आज माघ माह के शुक्ल पक्ष की द्वादशी तिथि दिन रविवार है। रविवार को सूर्यदेव को ताम्बे के बर्तन से जल में लाल चन्दन, गुड़, अक्षत, लाल पुष्प डाल कर अर्घ्य देने ( जल चढ़ाने ) एवं आदित्य ह्रदय स्त्रोत्रम का पाठ करने से यश और कार्यों में श्रेष्ठ सफलता मिलती है। द्वादशी को भगवान श्री विष्णु जी की पूजा, अर्चना करने से मनुष्य को समस्त सुख और ऐश्वर्यों की प्राप्ति होती है। द्वादशी के दिन तुलसी तोड़ना, यात्रा करना और मसूर की दाल का सेवन करना मना है। नित्य पंचांग को पढ़ने वाले जातको का भाग्य प्रबल होता है, जानिए आज रविवार का पंचांग,
https://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Sunday
शुक्र ग्रह को प्रसन्न करने के उपाय
शुक्र ग्रह को प्रसन्न करने के उपाय
धन-ऐश्वर्य, बड़ा मकान, वाहन और वैवाहिक सुख चाहिए तो शुक्र ग्रह को ऐसे करें अनुकूल, जानिए शुक्र ग्रह को प्रसन्न करने के उपाय, अवश्य ही देखें शुक्र ग्रह का यंत्र
https://www.memorymuseum.net/hindi/shukr-grah-ke-upay.php
गुरुवार का राशिफल
गुरुवार का राशिफल
जानिए कैसा रहेगा आपका आज का दिन, पंडित कृष्ण कुमार शास्त्री जी से जानिए आज आपको गुरुवार के दिन किस तरह के फल प्राप्त होंगे , गुरुवार का सफलता का उपाय, और यह भी अवश्य ही जानिए कि आज कितने प्रतिशत भाग्य आपका साथ देगा
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-rashifal.php
गुरुवार का पंचांग,
गुरुवार का पंचांग,
"ऊँ नारायणाय विद्महे। वासुदेवाय धीमहि। तन्नो विष्णु प्रचोदयात्"।। आज माघ माह के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि दिन गुरुवार है। गुरुवार के दिन भगवान श्री विष्णु जी को शंख से स्नान कराकर उन्हें पीले पुष्प अर्पित करके पूजा करने से समस्त सांसारिक सुखो की प्राप्ति होती है। नवमी तिथि को माँ दुर्गा की आराधना से समस्त भय और संकट दूर होते है। नवमी को लौकी नहीं खाएं। नित्य पंचाग पढ़ने वाले जातको के कुंडली के ग्रह अनुकूल रहते है। जानिए आज गुरुवार का पंचांग,
https://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Thursday
बुधवार का पंचांग
बुधवार का पंचांग
"ऊँ एकदन्ताय विहे वक्रतुण्डाय धीमहि तन्नो दन्तिः प्रचोदयात्॥" आज माघ माह के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि दिन बुधवार 'बुधवारी अष्टमी' है, बुधवारी अष्टमी के दिन किया गया जप, तप, ध्यान, दान, आदि का अक्षय पुण्य मिलता है। बुधवार के दिन गणपति जी की दूर्वा चढ़ाकर, लडडू / गुड़, घी आदि का भोग लगाकर पूजा करने से समस्त विघ्न, संकटो का नाश होता है। अष्टमी तिथि को भगवान शिव की विधिपूर्वक पूजा करने से आरोग्य, घर में सुख-शांति और समृद्धि का वास होता है, लिंक पर क्लिक करके अवश्य पढ़े बुधवार का पंचांग
https://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Wednesday
मंगलवार का पंचांग
मंगलवार का पंचांग
"श्री राम जय राम जय जय राम।।" आज माघ माह के शुक्ल पक्ष की सप्तमी "अचला सप्तमी" दिन मंगलवार है। मंगलवार को हनुमान जी को लाल गुलाब अर्पित करके सुन्दर कांड, हनुमान चालीसा, बजरंग बाण आदि पढ़ने से समस्त भय और संकट दूर होते है। अचला सप्तमी के दिन ही सूर्य देव ने प्रथम बार ब्रह्माण्ड को अपने प्रकाश से प्रकाशित किया था। आज सूर्य देव को अर्घ्य देने, आदित्य ह्रदय स्रोत्र का पाठ करने से सुख-समृद्धि, यश और निरोगी काया मिलती है। नित्य पंचांग पढ़ने से उस दिन के देवताओं और ग्रह स्वामियों का आशीर्वाद मिलता है। जानिए आज मंगलवार का पंचांग
https://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Tuesday
चंद्र देव को कैसे करें अपने अनुकूल,
चंद्र देव को कैसे करें अपने अनुकूल,
कुंडली में चंद्रमा के शुभ होने पर जातक को सौंदर्य, मानसिक शांति मिलती है, परिवार मे प्रेम, सुख-समृद्धि होती है। लेकिन अशुभ होने पर चिंताएं घेर लेती है, स्वास्थ्य ख़राब हो जाता है, सुखो में कमी, मन में घबराहट, आत्महत्या के विचार आने लगते है। जानिए चंद्र देव को कैसे करें अपने अनुकूल, सोमवार के दिन अवश्य करें लाल पेज पर बने चंद्र यंत्र के दर्शन, चंद्रदेव का अचूक मन्त्र
https://www.memorymuseum.net/hindi/chandr-grah-ke-upay.php
सोमवार का पंचांग
सोमवार का पंचांग
"ॐ पार्वतीपतये नमः।" आज माघ माह के शुक्ल पक्ष की षष्टी तिथि दिन सोमवार है। प्रत्येक सोमवार को भगवान शिव की आराधना, अभिषेक से समस्त संकट दूर होते है, परिवारिक सुख प्राप्त होते है| षष्टी तिथि के स्वामी भगवान शिव के पुत्र कार्तिकेय जी है, षष्टी को इनकी आराधना करने से शक्ति, निर्भयताप्राप्त होती है, राजद्वार, मुकदमो में सफलता मिलती है। पंचाग को पढ़कर अपने दिन की शुरुआत करने से शुभ समाचार मिलते है, जानिए आज सोमवार का पंचांग
https://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Monday
माँ सरस्वती के दिव्य 12 नाम
माँ सरस्वती के दिव्य 12 नाम
माता सरस्वती को विद्या की देवी कहा जाता है। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार अगर किसी के कुंडली में विद्या का योग नहीं है, पढ़ने-लिखने में रुचि कम है तब भी जातक को माँ सरस्वती की कृपा से ज्ञान प्राप्त हो जाता है । माँ सरस्वती की कृपा के लिए माँ के अति शुभ 12 नामों का नित्य उच्चारण बहुत ही फलदायी साबित होता है। बसंत पँचमी को तो इनका कम से कम 11 बार अवश्य ही उच्चारण करना चाहिए । जानिए माँ सरस्वती के दिव्य 12 नाम
https://www.memorymuseum.net/hindi/maa-saraswati-ke-barah-naam.php
बसंत पंचमी का पंचांग
बसंत पंचमी का पंचांग
"ॐ नमो सूर्य देवतायै नमः।" आज माघ माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि , बसंत पंचमी का पर्व दिन रविवार है। जीवन में शुभ फलो की प्राप्ति के लिए हर रविवार, नित्य सूर्य देव को जल चढ़ाये एवं आदित्य ह्रदय स्रोत्र का पाठ करे । आज बसंत पंचमी का पर्व है, वसंत पंचमी के दिन ही विद्या की अधिष्ठात्री देवी का अवतरण हुआ था। मान्यता है कि इस दिन बोले गए वाक्य शीघ्र सफल होते है। अतः इस दिन शुभ वचन ही बोले। पंचमी के स्वामी नाग देव है पंचमी के दिन नाग देव का स्मरण करने से काल सर्पदोष दूर होता है, जानिए आज बसंत पंचमी का पंचांग
https://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Sunday
शनि देव को प्रसन्न करने का उपाय
शनि देव को प्रसन्न करने का उपाय
जीवन में निरंतर शुभ समय के लिए, कुंडली के ग्रहो के अशुभ प्रभावों को दूर करने के एक छोटा सा उपाय अपनी दिनचर्या बना लें। प्रत्येक दिन के ग्रह को मजबूत करने के लिए उस दिन के ग्रह के अनुसार स्नान करें, लाल पेज पर बने उस दिन के ग्रह का यंत्र अवश्य देखे। अगर ग्रह के अशुभ प्रभाव है तो उसके मन्त्र का जाप करें उस ग्रह से सम्बंधित कुछ ना कुछ दान भी अवश्य करें। इससे आत्मविश्वास बढ़ेगा, प्रसन्नता आने लगेगी, स्वास्थ्य ठीक रहेगा, कार्यो में अड़चने दूर होंगी । तो याद रखे प्रत्येक दिन की सक्रिय शुरुआत उस दिन के उपाय से करें, देखिये आज न्याय के देवता शनि देव को प्रसन्न करने का उपाय, शनि देव का यंत्र
https://www.memorymuseum.net/hindi/shani-grah-ke-upay.php
शनिवार का पंचांग
शनिवार का पंचांग
"ॐ प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्चराय नम:"।। आज माघ माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि दिन शनिवार है। शनिवार के दिन प्रात: पीपल के पेड़ में दूध मिश्रित मीठे जल का अर्ध्य देने और सांय पीपल के नीचे तेल का चतुर्मुखी दीपक जलाने से शनि देव प्रसन्न होते है। चतुर्थी को गणेश जी की आराधना से सभी कष्ट दूर होते है, कर्ज मिटता है, जीवन में धन, यश और बुद्दि की प्राप्ति होती है। नित्य पंचाग पढ़ने वाले जातको शुभ फल मिलते है। जानिए क्या है आज शनिवार का पंचांग
https://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Saturday
मंगल ग्रह के 21 नाम
मंगल ग्रह के 21 नाम
नित्य / मंगलवार के दिन धरती पुत्र, ग्रहो के सेनापति, बल पराक्रम के प्रतीक "मंगल ग्रह" के 21 नामो का अवश्य ही करे जाप, इससे शत्रु होंगे परास्त, भूमि सम्बन्धी कार्यो में मिलेगी श्रेष्ठ सफलता, मांगलिक दोष हो जाएँगे दूर,परिवार, मित्रो का मिलेगा भरपूर साथ, अवश्य ही पढ़े मंगल ग्रह के 21 नाम
https://www.memorymuseum.net/hindi/mangal-dev-ke-21-naam.html
मंगलवार का पंचांग
मंगलवार का पंचांग
"सुनु सिय सत्य असीस हमारी। पूजिहि मन कामना तुम्हारी"॥ आज माघ माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि दिन मंगलवार है। इस कलयुग में हनुमान जी की आराधना और वह भी मंगलवार के दिन अत्यंत फलदायी बल और निर्भयता को बढ़ाने वाली बताई गयी है। प्रतिपदा को अग्निदेव की उपासना से संकटो का नाश होता है। जीवन में निरंतर शुभ समय के लिए नित्य पंचाग अवश्य ही पढ़े, जानिए आज मंगलवार का पंचांग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Tuesday
मंगल देव को अनुकूल करने के उपाय
मंगल देव को अनुकूल करने के उपाय
चाहिए श्रेष्ठ सफलता तो ग्रहो के सेनापति मंगल देव को करें मजबूत। क्योंकि कुंडली में अगर मंगल ग्रह हो कमजोर तो आएगा क्रोध,ऋण, मुकदमा, शत्रु करेंगे परेशान, विवाह में विलम्ब, दाम्पत्य जीवन में अस्थिरता, भूमि, भवन और वाहन के सुख में रहेगी कमी। जानिए मंगल को अनुकूल करने के उपाय, मंगलवार के दिन अवश्य देखे मंगल यंत्र,
https://www.memorymuseum.net/hindi/mangal-grah-ke-upay.php
कैसे करे सूर्य देव को अपने अनुकूल
कैसे करे सूर्य देव को अपने अनुकूल
कुंडली में जब सूर्य मजबूत होता है, तो वह समाज में मान-सम्मान और नौकरी व कामकाज में स्थायित्व, सुख-समृद्धि दिलाता है। सरकारी कार्यों में बाधा या परेशानी नहीं आती, राजयोग बनता है, कार्यो में श्रेष्ठ सफलता मिलती है। जानिए कैसे करे सूर्य देव को अपने अनुकूल, अवश्य देखें सूर्य भगवान का यंत्र
https://www.memorymuseum.net/hindi/surya-grah-ke-upay.php
रविवार का पंचांग
रविवार का पंचांग
"ॐ घृणि सूर्याय नम:"।। आज माघ माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि दिन रविवार है। रविवार को सूर्य देव को प्रात: अर्घ्य देने और आदित्यह्रदय स्रोत्र का पाठ करने से जीवन में सुख-समृद्धि, मान-प्रतिष्ठा की प्राप्ति होती है। चतुर्दशी को भगवान शंकर की आराधना करने से जातक भगवान भोलेनाथ का प्रिय बनता है । रविवार को बिल्ब के पौधे की पूजा अवश्य ही करें । पढ़िए आज रविवार का पंचांग
https://www.memorymuseum.net/hindi/surya-grah-ke-upay.php
शुक्र ग्रह को अनुकूल कैसे करें
शुक्र ग्रह को अनुकूल कैसे करें
कुंडली में शुक्र जब अशुभ होता है तो धन-ऐश्वर्य की कमी, स्त्री सुख में बाधा, परिवार में कलह, भवन, वाहन में कमी, मधुमेह, मूत्राशय, गर्भाशय संबंधी रोग और गुप्त रोगों की संभावना बढ जाती है। जानिए शुक्र ग्रह को अनुकूल कैसे करें, अवश्य ही देखें शुक्र ग्रह का यन्त्र
http://www.memorymuseum.net/hindi/shukr-grah-ke-upay.php
शुक्रवार का पंचांग
शुक्रवार का पंचांग
"महालक्ष्मी च विद्महे, विष्णुपत्नी च धीमहि, तन्नो लक्ष्मी: प्रचोदयात्"। आज माघ माह के कृष्ण पक्ष की द्वादशी तिथि दिन शुक्रवार है। शुक्रवार के दिन श्री सूक्त का पाठ करने, माँ अष्ट लक्ष्मी का नाम लेने से मां लक्ष्मी जल्दी प्रसन्न हो जाती हैं। द्वादशी को भगवान श्री विष्णु जी की पूजा करने, विष्णु सहस्रनाम का पाठ करने से मनुष्य को समस्त सुख और ऐश्वर्यों की प्राप्ति होती है। द्वादशी के दिन तुलसी तोड़ना, यात्रा करना मना है। जानिए आज शुक्रवार का पंचांग,
https://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Friday
गुरुवार का पंचांग
गुरुवार का पंचांग
"ऊँ नारायणाय विद्महे। वासुदेवाय धीमहि। तन्नो विष्णु प्रचोदयात्"।।आज षष्टशिला एकादशी दिन गुरुवार है। एकादशी के दिन भगवान विष्णु की पीले फूल, पीले फल, पीले मिष्ठान, आँवले आदि से पूजा करने से जीवन के संकट दूर हो जाते है।इस एकादशी के दिन तिल का सेवन, दान बहुत पुण्यदायक है।एकादशी को चावल का सेवन करने से रोग और शत्रु बढ़ते है। गुरुवार को जल में हल्दी डालकर नहाने, पीला भोजन करने, पीले वस्त्र धारण करने से गुरु ग्रह अनुकूल होते है। जानिए आज गुरुवार का पंचांग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Thursday
बुद्ध ग्रह को अपने अनुकूल करने के उपाय,
बुद्ध ग्रह को अपने अनुकूल करने के उपाय,
कुंडली में यदि बुध ग्रह ख़राब हो बहुत से संकट खड़े जो जाते है। व्यापार, दलाली, नौकरी आदि कार्यों में नुकसान, रोजगार का संकट, धन अटकना, शिक्षा, आत्मविश्वास में कमी, पागलखाना, जेलखाना या दवाखाना में भी जाना पड़ सकता है। जानिए बुद्ध ग्रह को अपने अनुकूल करने के उपाय, अवश्य देखे बुध ग्रह का यन्त्र
http://www.memorymuseum.net/hindi/budh-grah-ke-upay.php
बुधवार का पंचांग
बुधवार का पंचांग
"ॐ श्री महागणपते नम:"।। आज माघ माह के कृष्ण पक्ष की दशमी तिथि दिन बुधवार है। बुधवार को गणेश जी की आराधना से बुध्दि तेज होती है, कार्यो में विघ्न भी नहीं आते है। बुधवार के दिन बाल- दाढ़ी कटवाने, तेल लगाने से धन लाभ के योग बनते है। दशमी तिथि के देवता यमराज जी हैं। दशमी को इनकी पूजा करने, इनसे अपने पापो के लिए क्षमा माँगने से जीवन की समस्त बाधाएं दूर होती हैं, नरक के दर्शन नहीं होते है। जानिए बुधवार का पंचांग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Wednesday
मंगलवार का पंचाग
मंगलवार का पंचाग
"हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट्"।। आज माघ माह के कृष्ण पक्ष की नवमी तिथि दिन मंगलवार है। जीवन में समस्त भय और संकटो को दूर करने के लिए प्रत्येक मंगलवार को हनुमान जी को लाल पुष्प और लाल मिष्ठान अथवा गुड़ चना अर्पित करके सुन्दर काण्ड, हनुमान चालीसा, बजरंग बाण आदि का पाठ करें। नवमी को माँ दुर्गा को लाल गुलाब / गुड़हल अर्पित करके माँ के सिद्ध मन्त्र का जाप करने से बल, तेज की प्राप्ति होती है। नवमी को लौकी ना खाएं । नित्य पंचांग पढ़ने वाले जातक का भाग्य बहुमूल्य हीरे की तरह चमकने लगता है, मंगलवार का पंचाग पढ़ने के लिए लिंक पर क्लिक करें
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Tuesday
सूर्य देव के 21 नाम
सूर्य देव के 21 नाम
सूर्य देव की कृपा से सुख-समृद्धि, यश और निरोगी काया मिलती है। शास्त्रों में सूर्य देव के अति पुण्य प्रदान करने वाले 21 नाम बताये गए है नित्य / रविवार को इनका प्रात: पाठ करने से मनुष्य के जन्म-जन्मांतर के पाप नष्‍ट हो जाते हैं, रविवारीय सप्तमी के दिन अवश्य ही पढ़े सूर्य देव के 21 नाम
https://www.memorymuseum.net/hindi/surya-dev-ke-naam.html