Free Astro, Vastu & Health-Tips

कैसे करे सूर्य देव को अपने अनुकूल
कैसे करे सूर्य देव को अपने अनुकूल
कुंडली में सूर्य के अशुभ होने से पद, प्रतिष्ठा, धन वैभव सबमें आजीवन कमी बनी रहती है, रोग और शत्रु प्रबल हो जाते है। जानिए कैसे करे सूर्य देव को अपने अनुकूल, रविवार को तो अवश्य ही देखे सूर्य देव का यंत्र,
https://www.memorymuseum.net/hindi/surya-grah-ke-upay.php
रविवार का पंचांग
रविवार का पंचांग
"ॐ घृणि सूर्याय नम:"।। आज ज्येष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी तिथि दिन रविवार है। आचार्य मुक्ति नारायण पांडेय जी के अनुसार रविवार को सूर्य देव को प्रात: अर्घ्य देने और आदित्यह्रदय स्रोत्र का पाठ करने से जीवन में सुख-समृद्धि और मान-प्रतिष्ठा की प्राप्ति होती है। चतुर्दशी को भगवान शंकर का अभिषेक करने उनकी आराधना करने से जातक भगवान भोलेनाथ का प्रिय बनता है । रविवार को बिल्ब के पौधे की पूजा अवश्य ही करें । जीवन में मनवाँछित फलो की प्राप्ति के लिए नित्य प्रात: पंचाग को अवश्य ही पढ़े, रविवार का पंचांग पढ़ने के लिए लिंक पर क्लिक करें
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Sunday
शुक्र ग्रह के उपाय
शुक्र ग्रह के उपाय
शुक्र जब उच्च स्थि‍ति में होता है, तो जातक धनवान, सुंदर, जोश से भरा, घूमने-फिरने का शौकीन और सुंदर, घर का स्वामी होता है। वैवाहिक जीवन मधुर होता है, परिवार में प्रेम बना रहता है। जानिए शुक्र ग्रह के उपाय, अवश्य ही देखें शुक्र ग्रह का यंत्र,
http://www.memorymuseum.net/hindi/shukr-grah-ke-upay.php
शुक्रवार का पंचांग,
शुक्रवार का पंचांग,
महालक्ष्मी च विद्महे, विष्णुपत्नी च धीमहि, तन्नो लक्ष्मी: प्रचोदयात्।आज ज्येष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की द्वादशी तिथि दिन शुक्रवार है। शुक्रवार के दिन श्री सूक्त का पाठ करने, माँ अष्ट लक्ष्मी का नाम लेने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं। द्वादशी को भगवान श्री विष्णु जी की पूजा करने, विष्णु सहस्रनाम का पाठ करने से मनुष्य को समस्त सुख और ऐश्वर्यों की प्राप्ति होती है। द्वादशी के दिन तुलसी तोड़ना, यात्रा करना, मसूर की दाल का सेवन करना मना है। जानिए आज शुक्रवार का पंचांग,
https://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Friday
गुरुवार का पंचांग
गुरुवार का पंचांग
ॐ नारायणाय विद्महे। वासुदेवाय धीमहि। तन्नो विष्णु प्रचोदयात्"।। आज ज्येष्ठ माह की शुक्ल पक्ष की एकादशी, निर्जला एकादशी दिन गुरुवार है। एकादशी के दिन जल में आँवले / आँवले का रस डालकर स्नान करने से बहुत पुण्य प्राप्त होता है, समस्त पाप नष्ट हो जाते हैं। एकादशी के दिन किसी भी विष्णु मंदिर / कृष्ण मंदिर में पानी वाला नारियल और बादाम चढ़ाएं इससे आर्थिक पक्ष मजबूत रहता है कार्यो में विघ्न भी नहीं आते है। एकादशी के दिन चावल खाने, दूसरे का अन्न खाने से समस्त पुण्यों का नाश होता है, जानिए आज गुरुवार का पंचांग,
https://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Thursday
मंगल ग्रह के शुभ फलो के उपाय
मंगल ग्रह के शुभ फलो के उपाय
कुंडली में मजबूत मंगल होने पर अच्छे दोस्तों का साथ, योग्य जीवन साथी, बड़ा भवन, जमीन जायदाद, उच्च पद, राजद्वार से मिलती है सफलता। मंगलवार के दिन अवश्य देखे मंगल यंत्र, जानिए मंगल ग्रह के शुभ फलो के उपाय
https://www.memorymuseum.net/hindi/mangal-grah-ke-upay.php
मंगलवार का पंचांग
मंगलवार का पंचांग
"जाकी रही भावना जैसी, रघु मूरति देखी तिन तैसी"।। आज ज्येष्ठ माह केशुक्ल पक्ष की नवमी तिथि दिन मंगलवार है। मंगलवार को हनुमान जी को लाल पुष्प अर्पित करके हनुमान चालीसा , बजरंग का पाठ करने एवं मंदिर में हनुमान जी के दर्शन करके उन्हें गुड़ - चने अथवा बूँदी / लड्डुओं / लाल पेड़े का भोग लगाने से हनुमान जी की कृपा मिलती है। नवमी तिथि को माँ दुर्गा जी की आराधना से समस्त संकट दूर होते है। नित्य पंचाग पढ़ने वालो का भाग्य चमकने लगता है, जानिए आज मंगलवार का पंचांग
https://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Tuesday
भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग
भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग
भगवान शिव के अति पवित्र 12 ज्योतिर्लिंग देश के विभिन्न स्थानों में फैले हुए है। बहुत ही भाग्यशाली है वह लोग जिन्होंने सभी ज्योतिर्लिंगों के दर्शन किये है। इनके दर्शन / नाम लेने से समस्त पाप कट जाते है। जानिए कहाँ कहाँ पर है ये ज्योतिर्लिंग, आज अवश्य ले इन ज्योतिर्लिंगों का नाम सिर्फ 5 मिनट में,
https://www.memorymuseum.net/hindi/Davadash-Jyotirling.php
सोमवार का पंचांग
सोमवार का पंचांग
"ॐ नम: शिवाये"।। आज ज्येष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि दिन सोमवार है। सोमवार, अष्टमी दोनों ही दिन भगवान शिव के शिवलिंग का अभिषेक करने से समस्त सांसारिक सुख मिलते है, रोग दूर रहते है। लिंक पर क्लिक करके पढ़े सोमवार का पंचांग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Monday
बुधवार का पंचांग
बुधवार का पंचांग
आज बैसाख माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी मोहिनी एकादशी दिन बुधवार है। बुधवार के दिन गणेश जी की दूर्वा, लड्डुओं या गुड़ से भोग लगाकर पूजा समस्त विघ्न दूर होते है। एकादशी के दिन भगवान श्री विष्णु जी की पीले फूलो से आराधना करने से समस्त सांसारिक सुखो की प्राप्ति होती है। एकादशी के दिन चावल एवं दूसरे का अन्न वर्जित है। नित्य पंचांग पढ़ने से जीवन सुखमय होता है, क्लिक करके पढ़े बुधवार का पंचांग https://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Wednesday https://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Wednesday
https://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Wednesday
बुद्ध ग्रह के उपाय
बुद्ध ग्रह के उपाय
कुंडली में बुध ग्रह शुभ हो तो धन, वैभव, सुख-समृद्धि, ज्ञान, बुद्धि, वाकपटुता, कार्यक्षेत्र में निरंतर श्रेष्ठ सफलता मिलती है। जानिए बुद्ध ग्रह से शुभ फल प्राप्त करने के उपाय, अवश्य देखें बुध ग्रह का यंत्र,
https://www.memorymuseum.net/hindi/budh-grah-ke-upay.php
मंगलवार  का पंचांग
मंगलवार का पंचांग
आज बैसाख माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि, अक्षय तृतीया दिन मंगलवार है। अक्षय तृतीया के दिन ही भगवान परशुराम जी का जन्‍म हुआ था। आज ही राजा भागीरथ की घोर तपस्या के बाद मां गंगा स्वर्ग से धरती पर अवतरीत हुई थीं, इस दिन से सतयुग और त्रेतायुग का आरंभ माना जाता है। आज ही श्री बद्रीनारायण के पट खुलते हैं। आज गीता के 18 वें अध्‍याय का पाठ करने से अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है। आज ही के दिन कुबेर देव को अतुल ऐश्वर्य की प्राप्ति हुई थी वह देवताओं के कोषाध्यक्ष बने थे। आज माँ गौरी, लक्ष्मी जी और कुबेर जी की आराधना परम फलदाई है, अक्षय तृतीया के दिन श्री सूक्त का पाठ करने से माँ लक्ष्मी अत्यंत प्रसन्न होती है। जानिए आज मंगलवार का पंचांग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Wednesday
कैसे करें कुबेर देव को प्रसन्न
कैसे करें कुबेर देव को प्रसन्न
अक्षय तृतीया के दिन कुबेर जी देवताओं के कोषाध्यक्ष बने थे। कार्य क्षेत्र में निरन्तर श्रेष्ठ सफलता और स्थाई धन लाभ के लिए अक्षय तृतीया से शुरू करके पूर्ण श्रद्धा और विश्वास से नित्य कुबेर देव के इस मन्त्र का जाप अवश्य ही करना चाहिए, इससे घर में अपार धन-सम्पदा, ऐश्वर्य का वास होता है। ज्योतिषाचार्य अखिलेश्वर पांडेय जी से जानिए कैसे करें कुबेर देव को प्रसन्न
https://www.memorymuseum.net/hindi/kuber-dev-ki-kripa.php
अक्षय तृतीया पर अक्षय पुण्य प्रदान करने वाले क्या करें दान
अक्षय तृतीया पर अक्षय पुण्य प्रदान करने वाले क्या करें दान
दान करने से जाने-अनजाने हुए पापों का बोझ हल्का होता है। अक्षय तृतीया के दिन किया गया दान खर्च नहीं होता है, वरन यह अनंत गुणा आपके अलौकिक कोष में जमा हो जाता है। इस कोष में जमा पुण्य के कारण धरती पर समस्त भौतिक सुख एवं अंत में स्वर्ग की प्राप्ति होती है। जानिए अक्षय तृतीया पर अक्षय पुण्य प्रदान करने वाले क्या करें दान
http://www.memorymuseum.net/hindi/akshay-tritiya-par-daan.php
चंद्र देव को अनुकूल करने के उपाय,
चंद्र देव को अनुकूल करने के उपाय,
कुंडली में चंद्रमा के शुभ होने पर जातक को सौंदर्य, प्रसन्नता और मानसिक शांति मिलती है, परिवार मे प्रेम, सुख-समृद्धि होती है। जानिए चंद्र देव को अनुकूल करने के उपाय, सोमवार के दिन अवश्य करें चंद्र यंत्र के दर्शन, चंद्रदेव का अचूक मन्त्र
https://www.memorymuseum.net/hindi/chandr-grah-ke-upay.php
रविवार का पंचांग
रविवार का पंचांग
"ॐ घृणि सूर्याय नम:"।। आज बैसाख माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि दिन रविवार है। रविवार को भगवान सूर्य को प्रात: ताम्बे के बर्तन से अर्घ्य देने, एवं आदित्यहृदयस्तोत्रम्‌ का पाठ करने से यश और सफलता की प्राप्ति होती है। स्कंद पुराण के अनुसार रविवार के दिन बिल्ववृक्ष का पूजन नियम पूर्वक अवश्य करें। प्रतिपदा तिथि को अग्नि देव का स्मरण करने से समस्त संकटो का नाश होता है। शास्त्रों के अनुसार जो लोग नित्य स्नान-पूजा के बाद नियमपूर्वक पंचाग को पढ़कर अपने दिन की शुरुआत करते है उनके कुंडली के अशुभ ग्रह भी शुभ फल देने लगते है। रविवार का पंचांग पढ़ने के लिए लिंक पर क्लिक करे
https://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Sunday
जानिए कैसे करे सूर्य देव को अपने अनुकूल
जानिए कैसे करे सूर्य देव को अपने अनुकूल
कुंडली में सूर्य के अशुभ होने से पद, प्रतिष्ठा, धन वैभव सबमें आजीवन कमी बनी रहती है, रोग और शत्रु प्रबल हो जाते है। जानिए कैसे करे सूर्य देव को अपने अनुकूल, रविवार को तो अवश्य ही देखे सूर्य देव का यंत्र,
https://www.memorymuseum.net/hindi/surya-grah-ke-upay.php
श्री सूक्त का पाठ
श्री सूक्त का पाठ
श्री सूक्त का पाठ यश, सुख-समृद्धि ऐश्वर्य प्राप्ति का अचूक उपाय है । शास्त्रों के अनुसार नित्य इसका पाठ कारने से कितनी भी विपरीत परिस्थितियां क्योँ ना हो, सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है। अवश्य पढ़िए श्री सूक्त सिर्फ 5 मिनट में हिंदी में,
https://www.memorymuseum.net/hindi/shri-sukt.php
शुक्रवार के पंचांग
शुक्रवार के पंचांग
"ॐ श्री महालक्ष्म्यै नम:"।। आज बैसाख माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि दिन शुक्रवार है। जीवन में सुख-समृद्धि और ऐश्वर्य के लिए प्रत्येक शुक्रवार को माँ लक्ष्मी को लाल पुष्प अर्पित करके श्री सूक्त का पाठ एवं माँ अष्ट लक्ष्मी के मंत्रो का जाप करे। चतुर्दशी के दिन शिव जी की पूजा, अर्चना एवं रुद्राभिषेक करने से भगवान शिव समस्त मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं। शास्त्रों के अनुसार नित्य पंचांग पढ़ने वाले जातक को जीवन में सभी सुख और श्रेष्ठ सफलता मिलती है। शुक्रवार के पंचांग के लिए यहाँ दिए गए लिंक पर क्लिक करें
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Friday
शुक्र ग्रह के उपाय
शुक्र ग्रह के उपाय
कुंडली में शुक्र जब शुभ होता है, तो जातक सुंदर, जोश से भरा, घूमने-फिरने का शौकीन और सुंदर, घर का स्वामी होता है, ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है। वैवाहिक जीवन, परिवार में सुख शान्ति, प्रेम भी बना रहता है। जानिए शुक्र ग्रह के उपाय, अवश्य ही देखें शुक्र ग्रह का यंत्र,
http://www.memorymuseum.net/hindi/shukr-grah-ke-upay.php
अक्षय तृतीया के उपाय
अक्षय तृतीया के उपाय
अक्षय तृतीया के दिन से सतयुग और त्रेतायुग का आरंभ माना जाता है। इसी दिन श्री बद्रीनारायण के पट खुलते हैं। आज ही के दिन कुबेर देव देवताओं के कोषाध्यक्ष बने थे। जानिए अक्षय तृतीया का और क्या क्या है महत्व, अक्षय तृतीया के उपाय
https://www.memorymuseum.net/hindi/akshay-tritiya-ka-mahatwa.php
गुरु ग्रह को अनुकूल करने के उपाय
गुरु ग्रह को अनुकूल करने के उपाय
बृहस्पति ग्रह जब कुंडली में उच्च के हो, तो व्यक्ति को जीवन में सुख समृद्धि, मान सम्मान, पारिवारिक सुख, प्रसिद्धि, ज्ञान, आरोग्य मिलता है। जानिए गुरु ग्रह को अनुकूल करने के उपाय, देखें बृहस्पति देव का यंत्र, जल में यह डाल कर करें स्नान,
http://www.memorymuseum.net/hindi/guru-grah-ke-upay.php
गुरुवार का पंचांग
गुरुवार का पंचांग
"ऊँ नारायणाय विद्महे। वासुदेवाय धीमहि। तन्नो विष्णु प्रचोदयात्"।। आज बैसाख माह के कृष्ण पक्ष की त्रियोदशी तिथि दिन गुरुवार है। गुरुवार के दिन भगवान श्री विष्णु जी को शंख से स्नान कराकर उन्हें पीले पुष्प अर्पित करके विष्णु मंत्र का जाप करने से समस्त सांसारिक सुखो की प्राप्ति होती है। त्रियोदशी तिथि को कामदेव जी का स्मरण करने से मनवाँछित जीवन साथी मिलता है, दाम्पत्य जीवन सुखमय होता है। नित्य पंचाग को पढ़ने वाले जातक पर समस्त देवताओं की कृपा बनी रहती है। लिंक पर क्लिक करके पढ़ें गुरुवार का पंचांग,
https://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Thursday
बुद्ध ग्रह के उपाय
बुद्ध ग्रह के उपाय
कुंडली में बुध ग्रह शुभ हो तो धन, वैभव, सुख-समृद्धि, ज्ञान, बुद्धि, वाकपटुता की क्षमता प्राप्त होती है। कार्यक्षेत्र में श्रेष्ठ सफलता मिलती है। जानिए बुद्ध ग्रह के उपाय, बुधवार को अवश्य देखें बुध ग्रह का यंत्र, https://www.memorymuseum.net/hindi/budh-grah-ke-upay.php https://www.memorymuseum.net/hindi/budh-grah-ke-upay.php
https://www.memorymuseum.net/hindi/budh-grah-ke-upay.php
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Wednesday
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Wednesday
"ॐ गण गणपते नाम:"।। आज बैसाख माह के कृष्ण पक्ष की द्वादशी तिथि दिन बुधवार है। बुधवार को गणपति जी को रोली का तिलक लगाकर, दूर्वा अर्पित करके आराधना करने से जीवन से विघ्न दूर होते है। द्वादशी तिथि को भगवान श्री विष्णु जी की पूजा, अर्चना करने से मनुष्य को समस्त सुख और ऐश्वर्यों की प्राप्ति होती है, द्वादशी के दिन तुलसी तोड़ना, यात्रा करना, मसूर का सेवन करना वर्जित है। अपने दिन को शुभ बनाने के लिए क्लिक करके पढिए बुधवार का पंचांग
बुधवार का पंचांग
रविवार का पंचांग
रविवार का पंचांग
ॐ ह्रां ह्रीं ह्रौं सः सूर्याय नमः"।।*आज बैसाख माह के कृष्ण पक्ष की सुबह 7.34 मिनट तक नवमी तत्पश्चात दशमी तिथि दिन रविवार है। कार्यो में श्रेष्ठ सफलता के लिए नित्य, रविवार को तो विशेष रूप से उगते हुए सूर्यदेव को जल से अर्घ्य दे, एवं आदित्यह्रदय स्त्रोत्रम का पाठ करें। रविवार को अदरक, मसूर की दाल एवं आंवले का सेवन ना करें। रविवार का पंचांग पढ़ने के लिए लिंक पर अवश्य क्लिक करे
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Sunday
जानिए कैसे करे सूर्य देव को अपने अनुकूल
जानिए कैसे करे सूर्य देव को अपने अनुकूल
कुंडली में सूर्य के अशुभ होने से पद, प्रतिष्ठा, धन वैभव सबमें आजीवन कमी बनी रहती है, रोग और शत्रु प्रबल हो जाते है। जानिए कैसे करे सूर्य देव को अपने अनुकूल, रविवार को अवश्य ही देखे सूर्य देव का यंत्र,
https://www.memorymuseum.net/hindi/surya-grah-ke-upay.php
भगवान सत्यनारायण जी की कथा
भगवान सत्यनारायण जी की कथा
कलयुग में भगवान सत्यनारायण जी की कथा अत्यंत फलदाई है। विशेषकर पूर्णिमा के दिन भगवान सत्यनारायण की कथा सुनने, उनकी नारियल, तुलसी, आँवला, पीले पुष्पों से पूजा करने से कोई भी संकट निकट भी नहीं आता है, इस संसार में सभी सुखो की प्राप्ति होती है, पितृ प्रसन्न होते है। पूर्णिमा के दिन अवश्य ही पढ़ें / सुने एवं सुनाएँ भगवान सत्यनारायण जी की कथा
https://www.memorymuseum.net/hindi/satyanarayan-ki-vrat-katha.html
गुरु ग्रह को अनुकूल करने के उपाय,
गुरु ग्रह को अनुकूल करने के उपाय,
बृहस्पति ग्रह जब कुंडली में उच्च के हो, तो व्यक्ति को जीवन में सुख समृद्धि, मान सम्मान, पारिवारिक सुख, प्रसिद्धि, ज्ञान, आरोग्य की प्राप्ति होती है। जानिए गुरु ग्रह को अपने अनुकूल करने के उपाय, गुरुवार को अवश्य देखें बृहस्पति देव का यंत्र,
http://www.memorymuseum.net/hindi/guru-grah-ke-upay.php
हनुमान जयंती
हनुमान जयंती
19 अप्रैल शुक्रवार को चैत्र पूर्णिमा के दिन हनुमान जयंती अर्थात हनुमान जन्मोत्सव है। माना जाता है की इसी दिन हनुमान जी का जन्म हुआ था। प्रसिद्द नीम करौली के हनुमान सेतु मंदिर के आचार्य डाक्टर उमाशंकर जी से जानिए कैसे हुआ हनुमान जी का जन्म, हनुमान जी के कितने भाई है, इनका नाम हनुमान कैसे पड़ा,
http://www.memorymuseum.net/hindi/hanuman-jayanti.php