Memory Alexa Hindi

स्वप्न फल विचार

Swapn Vichar

आपके सपने आपके जीवन के बारे में क्या कहना चाहते है इसे समझिये के लिए इस साईट पर अवश्य आयें ...


स्वप्न फल, स्वप्न विचार


Swapna phal, Swapna vichar


अंअ: श्र

Tags:- सपने, Sapne, स्वप्न,Swapn, सपनो का रहस्य, स्वप्न का विचार ,शुभ स्वप्न, shubh swapn, अशुभ स्वप्न, Ashubh swapn सपनो का मतलब, सपने क्या कहते है, स्वप्नों का मतलब ,स्वप्न विचार ,swapna vichar,swapna phal, सपनो का अर्थ, Sapno ka arth, स्वप्न फल, swapna phal, सपनों का फल, sapno ka phal ,स्वप्न देखने का फल , swapn dekne ka phal

सपने देखना ( sapne dekhna ) एक स्वाभाविक क्रिया है | जब हम जागते हैं ,विचारों पर हमारा नियंत्रण रहता है, पर जब हम निद्रावस्था में होते हैं तब विचारों पर हमारा नियंत्रण नहीं रह पाता । निद्रावस्था में हमारा स्थूल शरीर सुप्तावस्था में रहता है पर हमारा सूक्ष्म शरीर एवम मस्तिष्क क्रियाशील रहता है और हमें स्वप्नों ( swapno ) के माध्यम से अनेक प्रकार के दृश्य,घटनाएं ,व्यक्ति,वस्तुएं एवम स्थान आदि दिखलाता है । ज्योतिष शास्त्र के अनेकों ग्रंथों एवम हमारे पुराणों में स्वप्नों के शुभा अशुभ फल का वर्णन दिया गया है । कई बार इन स्वप्न के माध्यम से हमें भविष्य में होने वाली घटनाओं का संकेत भी मिलता है ।

इन सपनों ( Swapno ) का भी आपके जीवन में बड़ा महत्‍व है। शास्त्रों में स्वप्न फल ( Swapn Fal ) को विस्तार से बताया गया है| ज्‍योतिष विद्या के अनुसार व्‍यक्ति जो कुछ भी सपने ( Sapne ) में देखता है, उसका प्रभाव उसके जीवन पर जरूर पड़ता है। कई बार आपको याद रहता है कि आज आपने सपने ( sapne ) में क्‍या देखा और कई बार भूल जाते हैं।यदि आपको सपना याद नहीं रहता है या आप चाह कर भी याद नहीं रख पाते हैं, तो उसके लिये आपको सिर्फ एक काम करें। जैसे ही आपकी आंख खुले, बस मनमें दो बातें सोचिये, "मैं कहां हूं और मैं क्‍या कर रहा ?" फिर ईश्वर से अपने पर कृपा बनाये रखने की प्रार्थना अवश्य करें।फिर आप अपना स्‍वप्‍न भूल नहीं सकते।

भारतीय ग्रंथों, ज्योतिष शास्त्रों में स्वप्न देखे जाने के समय, उसकी तिथि व अवस्था के आधार पर स्वप्न परिणाम ( swapn parinam ) का बहुत सूक्ष्मता और सरलता से विश्लेषण किया गया है।

रात के पहले पहर में आने वाले स्वप्न बुरे सपने ( Bure sapne ) अर्थात अशुभ स्वप्न ( Ashubh swapn ) होते है लेकिन आधी रात के बाद आने वाले स्वप्न समान्यता अच्छे सपने ( Achche sapne ) अर्थात शुभ स्वप्न ( shubh swapn ) माने जाते है ।

hand logo शुक्ल पक्ष की षष्ठी, सप्तमी, अष्टमी, नवमी और दशमी तथा कृष्ण पक्ष की चतुर्दशीतथा सप्तमी तिथि को देखा गया सपना ( Sapna ) शीघ्र फल देने वाला होता है।

hand logo पूर्णिमा को देखे गए स्वप्न का फल ( swapn ka fal ) हमें अवश्य ही प्राप्त होता है।

hand logo शुक्ल पक्ष की द्वितीया, तृतीया एवं कृष्ण पक्ष की अष्टमी, नवमी को देखा गए स्वप्न ( swapn ) का हमें विपरीत फल मिलता है।

hand logo शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा और कृष्ण पक्ष की द्वितीया के स्वप्न का हमें देरी से फल प्राप्त होता है।

hand logo शुक्ल पक्ष की चतुर्थी एवं पंचमी को देखे गए सपने ( sapne ) का हमें दो मास से दो वर्ष के भीतर फल प्राप्त हो जाता है।

शास्त्रों के अनुसार रात्रि के प्रथम प्रहर का स्वप्न एक वर्ष में , दूसरे प्रहर का स्वप्न आठ महीने में ,तीसरे प्रहर का स्वप्न तीन मॉस में ,चौथे प्रहर का स्वप्न एक मास में ,ब्रह्म मुहूर्त का स्वप्न दस दिन में तथा सूर्योदय से पूर्व देखे गये स्वप्न का फल उसी दिन प्राप्त की संभावना प्रबल होती है।

धार्मिक ग्रंथों के अनुसार यदि रात में शुभ स्वप्न दिखाई दे और नींद टूट जाय तो स्वप्न देखने के बाद दोबारा नहीं सोना चाहिए। उसी समय स्नानादि करके भगवान की पूजा करके उन्हें धन्यवाद देना चाहिए। शुभ स्वप्न ( Shubh Swapn ) को देखने पर उसके फल प्राप्ति के लिए अपना स्वप्न किसी को नहीं बताना चाहिए।

( Ashubh Swapn ) अशुभ स्वप्न दिखने पर यदि फिर से सो जाएँ तो उसका अशुभ प्रभाव समाप्त हो जाता है |
अशुभ स्वप्न देखने पर प्रात: काल घर के बड़े बुजुर्गो को अथवा पीपल के पेड़ को इस स्वप्न के विषय में बता देना चाहिए। इससे स्वप्न के अशुभफल में कमी आ जाती है। अशुभ स्वप्न आने पर उसकी शान्ति के लिए ईश्वर का पूजन ,,हवन, ब्राह्मण भोजन और दान करने से अशुभ फल समाप्त हो जाते है |


सपनों का फल ( Sapno Ka fal )

अपना निरादर देख्ना -   मान सम्मान की प्राप्ति ।

अखरोट देखना -   धन वृद्धि ।

अनाज देखना    चिंता मिले ।

अनार खाना (मीठा) -   धन मिले ।

अजनबी मिलना -   अनिष्ट की सम्भावना ।

अध्यापक देखना -   सफलता मिले ।

अँधेरा देखना -   विपत्ति आये ।

अप्सरा देखना -   धन,यश की प्राप्ति ।

अर्थी देखना -   सफलता / धन लाभ ।

अमरुद खाना -   धन लाभ ।

अदरक खाना -   मान सम्मान की प्राप्ति ।

अलमारी बंद देखना -   धन की प्राप्ति ।

अलमारी खुली देखना -   धन की हानि ।

अंगूर खाना -   स्वस्थ्य लाभ ।

अंग कटा हुआ देखना -   स्वास्थ्य लाभ ।

अंग दान करना -   पुरस्कार, सम्मान की प्राप्ति ।

अंगूठा चूसना -   पैत्रक में विवाद ।

अंतिम संस्कार देखना -   परिवार में मांगलिक कार्य होने की सम्भावना ।

अख़बार पढ़ना, देखना, खरीदना    वाद विवाद की आशंका ।

अट्हास करना -   दुःख के समाचार मिल सकते है ।

अध्यक्ष बनना -   मान हानि की आशंका ।

अध्यन करना -   असफलता मिलने की आशंका ।

अपहरण देखना -   लम्बी उम्र ।

अभिमान करना -   अपमानित होना ।

अगरबत्ती देखना -   धार्मिक अनुष्ठान हो ।

अपठनीय अक्षर पढना -   दुखद समाचार मिले ।

अंगीठी जलती देखना -   अशुभ संकेत ।

अंगीठी बुझी देखना -   शुभ संकेत ।

आग उठाना -   कष्ट मिले ।

अंडे देखना -   झगडा होवे ।

अजगर देखना -   शुभ संकेत ।

अस्त्र देखना -   सभी संकटों से रक्षा ।

अंगारों पर चलना -   शारीरिक कष्ट मिलना |

अपने को आकाश में उड़ते देखना -   सफलता प्राप्त हो ।

अपने पर हमला देखना -   दीर्घ आयु ।

अपने आप को अकेला देखना -   लम्बी यात्रा का योग ।

अपने दांत गिरते देखना -   परिजनों को कष्ट मिले ।

अपने को बीमार देखना -   कष्ट मिले |

अपने को ऊंचाई पर देखना -   अपमानित हो सकते है ।

अपना कद छोटा देखना -   परेशानी उठाना ।

अपना कद बड़ा देखना -   संकटों के आगमन की संभावना ।


आम खाना -   सुंदर स्त्री मिले ।

आग देखना -   परिवार में शान्ति होवे ।

आग लगाना -   दुःख मिले ।

आंसू देखना -   परिवार में मंगल कार्य हो ।

आवाज सुनना -   शुभता का सूचक ।

आंधी देखना -   सफ़र में कष्ट मिले ।

आंधी में गिरना -   सफलता मिले ।

आइना देखना -   इच्छित वास्तु की प्राप्ति ।

आइना में अपना चेहरा देखना -   नौकरी/व्यापार में परेशानी ।

आसमान देखना -   मान सम्मान प्राप्त हो ।

आसमान में स्वयं को देखना -   शुभ योग ।

आसमान से स्वयं को गिरते देखना -   रोज़गार में हानि ।

आग से कपड़े जलना -   दुख मिले ।

आग में स्वय जलना -   मान सम्मान मिले ।

आजाद होते देखना -   चली आ रही परेशानियों से मुक्ति ।

आलू देखना -   इच्छित भोजन की प्राप्ति ।

आंवला देखना -   मनोकामना पूर्ण न होना ।

आंवला खाते देखना -   मनोकामना पूर्ण हो ।

आत्महत्या करना या देखना -   लम्बी आयु मिले ।

आँचल से आंसू पोछना -   शुभ समय का आगमन ।

आँचल में मुँह छिपाना -   मान सम्मान मिले ।

आवेदन करना या लिखना -   लम्बी यात्रा हो सकती है ।

आइसक्रीम खाना -   अच्छा समय का आगमन ।

इश्तहार पढना -   अपयश / धोखा मिले ।

इत्र लगाना -   मान सम्मान की प्राप्ति ।

इमारत देखना ऊँची -   धन यश की प्राप्ति ।

इंजन चलता देखना -   यात्रा का योग ।

इन्द्रधनुष देखना -   संकटों की पूर्व सूचना ।

इनाम मिले -   अपमानित हो सकते है ।

ईंट /पत्थर देखना -   कष्ट मिलने की सम्भावना ।



Loading...



अंअ: श्र

स्वप्न फल के बारे में अपने विचार सुझाव भी लिखे :-----
नाम:     

ई-मेल:   

उपाय:    


  • All Post
  •  
  • Admin Reply
1.
sapne mai ek chandi ka kabuter hai, ek aur kisi ne diya hai lekin uske per ko chaku se godker diaya hai.
avinash tiwari  

2.
Svapna me tulsi ke bij dena
Ka karan kya ho Santa h
C V Singh  

3.
सपने मे साप और विचछु देखना
ललित  

4.
Sapne mai court ka case jitne ka mtlb.plz tel me the ans.
ssachhu  

5.
Sapne mai court ka case jitne ka mtlb.plz tel me the ans.
ssachhu  

6.
spne me sone ki chain guna or kuch der bad chandi ki chain melna lekin kuch der bad sone ki vaps melna
Kailash Chandra Verma  

7.
Sapan me urad roti khana kesa hota hai
pankaj   

8.
Mera naam anjali h mai regular reader hu apk swapn phal aur vicharo ki mai bohot manati hu inn sab bato me
Mera sawal ye hai ki mujhe lagatar 2 sin sapne me ghode k pair ki naal dikh rhi h kya ho sakata hai ?? Kripya jaldi bataye
anjali  

9.
Vo insan jisse m hr pl bat krna chahti hu vo mere pass nahi h bat bhe nahi hoti usse but mujhe spne m vo mere sath dekhai deta h spne m hum dono sath sath hai bahut khush h iska kya mtlb hua...??
Sayra  

10.
M mere ek frnd ko bahut miss krti hu spne m sirf vhe dekhai deta h iska kya mtlb hua please btaye
Binu  

11.
Apne aapko grib aur beghar dekhna iska Kya Matlab hai
Parveen Kumar  

12.
मेरे घूटने मे लकड़ी कीली घुसा हुई थी मेने निकाली थी इसका क्या अर्थ है
रामलाल  

13.
Namaste kanya rashi me kanhi aapne likha ki ghee ka dipak na jalye lal kitab ke upye me likha hai ghee ka dipak jalye kya kare sahi se batye
babita goel  

14.
Namaste kanya rashi me aapne kanhi likha hai green vastu ka daan na kare kanhi likha hai green grass ka or green daal ka daan kare sahi me kya kare
babita goel  

15.
mujhe sapne me bar-bar uci jagah per apneaap ko kaam karte dakhta hoo jhan se mujhe dec. 2016 me nokri se nikal diya hi ye sapna mujhe 4am ke aas-pass dikhai deta hai iska qya matlab hai madat kare
Ganga Ram  

16.
maine aaj subah 5 baje sapna dekha ki mujhe kuch log joote se maar rahe hai
iska kya matlab hai
ANKUSH  

17.
Petrol discharge hote dekhna , bike damage hote dekhna
Ashok  

18.
सपने मे बुजुर्ग महिला से बात करते हुए देखना और फिर मरी हुई सास का घर मे आना और खुद को घर छोड़ के जाते हुए देखना
Sandhya  

19.
गुरूजी मुझे स्वप्न मे गोहटी चबती है पर मे उसे चाब ने के बाद देखता हू और पीछे से वो मुझे सीधे पैर के तल्बे मे चबती है और मे उसे पीछे से हि देख पाता हु
पवन दत्त शुक्ला  

20.
गुरूजी मुझे स्वप्न मे गोहटी चबती है पर मे उसे चाब ने के बाद देखता हू और पीछे से वो मुझे सीधे पैर के तल्बे मे चबती है और मे उसे पीछे से हि देख पाता हु
पवन दत्त शुक्ला  

21.
maine apne bache ko pani me dubthe hu dheka aur maine nikhala.
mere husband ko dusre ladki ki ke sath Romanic karty dekha.pls eska matlab batha dije
jyoti  

22.
Swapna Phal is the english version of Swapna Phal
Bhanu  

23.
Namaskar
Meri nokri 6 manth pahle choot ghayi hi lakin muche bar bar apne purani jagah per he kaam karte sapne me dekhta hoo ye sapna mujhe subhah 3 or 3.30 ke beech dekhai teta hie eska qya matlab hooga pl. madat kare.
Ganaga Ram
Date of birth---05/07/1971.
place--------Amroha dehat U.P
TIME------- NAHI MALOOM
GANGA RAM  

24.
Samudra dekhana sampno uska fal
bhaiyalal Prajapati  

25.
sapne
anita  

26.
kal 4 se 5 baje ke beech me sapne dekha kihaath ke sone ke kangan aadhe kala pad gya is ka kya fal hai please bataye
dilip buwade  

27.
SAPNE ME SUBAH 4 BJE YUDH ME 1 SAINIK KO MARTE DEKHA AUR TOP ,GUN CHALTE DEKHA,AUR BRA LOYER KO DEKHA ,UDGHATAN HOTE HUE DEKHA ,MAI APNI BAHAN AUR JIJA KO DEKHA AUR ME APNI MA KO AAM DETE DEKHA ,LADY KO ROTE DEKHA PLEASE BATYE ISKA KYA MATLAB H
PARAS  

28.
धन सबकी किस्मत में है। सबके लिये विष्णु-लक्ष्मी जी, संपत्ति से भरी तिजोरी भेजते हैं। बस उस तिजोरी की चाबी उनके पास होती है। धनी बनने के लिए इसी तिजोरी की चाबी को खोजना है। चाबी कैसे मिलेगी यह बड़ा सवाल है। तो इसके लिए करने होंगे लक्ष्मी जी के उपाय। वैसे भी महालक्ष्मी व्रत 29 August से शुरू होंगे। लक्ष्मी जी आपके घर में, उत्तर दिशा से आयेंगी। तो धन संपत्ति पाने के लिये, लक्ष्मी जी को उत्तर दिशा से पुकारें। 15 दिन लक्ष्मी की आराधना से जन्म-जन्म की कंगाली दूर होगी। my email is [email protected]

If you want to do MAHALAXMI VRAT then email me. Mahalaxmi vrat 16 days every year fast for 16 years fast will be observed and you will get everything which you really deserved then no need to depend on any other Vrat or Upvas, just contact me for full Mahalaxmi Vrat details in brief. Mahalaxmi Vrat will start from August 29, 2017 Tuesday to September 12, 2017 Tuesday till midnight (total 15 days). my email is [email protected]
Amit shah  

29.
Raja ke hath se dan paisaa lena
sushil upadhyay  

30.
kisi dusare ka makan ko girte huye dekhne ka fal kya hota hai
raj yadav  



1.
अपने अशुभ सपनों के दुष्प्रभाव को समाप्त करने के लिए पीपल के पेड़ पर जाकर पीपल को अपना देखा हुआ सपना सुनाकर उनसे कृपा बनाने का निवेदन करें ।
admin memorymuseum.net  

2.
यदि आपको लगता है कि आपने जो स्वप्न देखा है उसका परिणाम अनिष्टकारी हो सकता है तो उसके निवारण का उपाय अवश्य ही करना चाहिए।

शास्त्रों के अनुसार चित्रकूट वास के समय भगवान श्री राम ने भी एक स्वप्न देखा था जिसके अनिष्ट फल को दूर करने हेतु उन्होंने भगवान शंकर की पूजा की थी। कहते है उचित उपाय करने से बुरे स्वप्न से होने वाला दुष्प्रभाव समाप्त हो जाता है। यदि बुरा स्वप्न रात्रि 12 से 2 बजे के बीच देखा गया है और नींद खुल जाय तो तुरंत भगवान भोलेनाथ का स्मरण करते हुए "ऊँ नमः शिवाय" का जप करते हुए फिर से सो जाएं। सुबह ब्रह्ममुहूर्त में उठकर स्नानादि करके किसी शिवमंदिर में जाकर शिवलिंग पर जल, कच्चा दूध चढ़ाकर पूजा करें व मंदिर में पुजारी को कुछ दान दें । इससे स्वप्न का बुरा फल नष्ट हो जाता है।

यदि बुरा स्वप्न प्रात: 4 बजे के बाद देखा गया है तो प्रातः उठकर बिना किसी से कुछ कहे अपना स्वप्न तुलसी के पौधे से कह डालें। इससे स्वप्न का दुष्प्रभाव दूर हो जाता है। फिर स्नान के बाद " ऊँ नमः शिवाय " की एक माला का जप अवश्य करें।

हनुमान जी सब प्रकार का अनिष्ट दूर करने वाले हैं। बुरा स्वप्न देखने पर उसका अनिष्ट दूर करने के लिए नित्य हनुमान चालीसा का पाठ करें । सुंदरकांड, बजरंग बाण, संकटमोचन स्तोत्र का पाठ करने से भी जातक कोई कोई भी भय नहीं रहता है । यदि आपने बुरा स्वप्न देखा है और आपके घर में तुलसी का पौधा नहीं है, तो सुबह उठकर एक सफेद कागज पर अपने स्वप्न को लिखकर उसे जला दें फिर उसकी राख को नाली में पानी डाल कर बहा दें। फिर स्नान करने के बाद एक माला " ऊँ नमः शिवाय " का जाप करें। इससे भी स्वप्न का दुष्प्रभाव नष्ट हो जाता है।
admin memorymuseum.net  


दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं .....धन्यवाद ।