श्री यन्त्र के सम्पूर्ण पुण्य, व्यक्तिगत आर्शीवाद की प्राप्ति और सुख समृद्धि के कुछ खास अचूक उपायों को जानने के लिए इस साईट पर लॉग इन करके अपने श्री यन्त्र के पेज पर जायें ।


श्री यन्त्र


स्थाई धन सम्पति, मान प्रतिष्टा, सफलता हेतु


                    Shri yantra Hindi

श्री यन्त्र


ॐ द्रां द्रीं द्रौं सः शुक्राय नमः ।।

ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीदं प्रसीदं ।

ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं महालाक्ष्माये नमः ।।

श्री यन्त्र को त्रिपुरसुंदरी माता लक्ष्मी का सबसे प्रिय यन्त्र माना जाता है । इसे पवित्र यंत्र को यंत्र राज की संज्ञा दी गयी है ,जिसकी कृपा से व्यक्ति को सुख सम्रद्धि और अतुल ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है । श्री यंत्र का रोज नियम से ध्यान और दर्शन करने से जीवन में चमत्कारी परिवर्तन आ जाता है उस व्यक्ति पर माता लक्ष्मी की सदैव कृपा बनी रहती है ।यदि कोई व्यक्ति आर्थिक संकटों से जूझ रहा हो, भारी व्यावसायिक ऋण के बोझ से दबा हो , हमेशा आमदनी से ज्यादा खर्चे हो , धन उधार फँस गया हो , रोजगार में हमेशा अस्थिरता रहती हो , हमेशा मन मस्तिष्क में चिंताएं सवार रहती हो , जिम्मेदारियों को पूरा करने के लिए धन की कमी रहती हो , उनके लिए श्रीयंत्र का नित्य दर्शन और आराधना किसी वरदान से कम नहीं है ।श्री यंत्र की नित्य पूजा से अभीष्ट लाभ की सिद्धि अवश्य ही होती है , इसमें किसी भी प्रकार का संदेह नहीं है अगर घर या व्यापारिक स्थल में स्वयं स्थापित करना हो तो स्फटिक का श्रीयंत्र अति उत्तम होता है लेकिन फिर उसकी रोज नियम से सुगन्धित धूप अगरबत्ती से पूजा आराधना करना अनिवार्य है। यदि श्रीयंत्र को घर या दुकान में कमलगट्टे की माला पर स्थापित किया जाय तो चमत्कारी रूप से सफलता प्राप्त होती है । वैसे श्रीयंत्र को लाल कपडा बिछाकर चावल की ढेरी पर भी स्थापित कर सकते है लेकिन उन चावलों को हर पूर्णिमा में बदलते रहे ।

यहाँ पर स्थापित अति पवित्र श्री यंत्र योग्य ब्राह्मणों से जाप कराके, हवन कराके सिद्ध किया गया है जिस पर आपके नाम से व्यक्तिगत रूप से आपके कल्याण के लिए प्रार्थना की जाती है ।

इस यंत्र पर अपने व्यक्तिगत नाम से आशीर्वाद, शुभकामनाओं और यंत्र राज श्री यंत्र की स्थाई कृपा हेतु कुछ खास उपायों को जानने के लिए तुरंत ज्वाइन करें ...


yantra   Magical Yantra

जीवन में कई बार ऐसा भी समय आता है जब व्यक्ति बहुत परिश्रम करता है , धर्म में भी उसकी आस्था होती है , कोई बुरे कार्य भी नहीं करता है फिर भी उसे उचित फलप्राण नहीं होते है , जीवन में लगातार संघर्ष बना रहता है , ऐसे समय में हम यंत्रों और पूजा पाठ का सहारा लेते है । मनुष्य की हर परेशानी के हल के लिए, हर इच्छा की पूर्ति के लिए अलग - अलग यंत्रों की सहायता ली जाती है । किसी भी मनुष्य के लिए इस तमाम यंत्रों की स्वयं स्थापना और शास्त्रानुसार रखरखाव कर पाना नामुमकिन सा है । लेकिन अब विश्व में पहली बार इस साईट में अनेकों दुर्लभ सिद्ध यंत्रों की प्राण प्रतिष्ठा की गयी है । इस साईट पर दिए गए सभी यंत्रों को योग्य ब्राह्मणों द्वारा शास्त्रानुसार पूर्ण विधि विधानुसार इस तरह से जप , यज्ञ , द्वारा सिद्ध करके प्राण प्रतिष्ठित किया गया है जिससे सभी व्यक्तियों को ( चाहे वह किसी भी धर्म को मानने वाले हो) निश्चित ही अभीष्ट लाभ की प्राप्ति हो । तो अब आप भी इन अत्यंत दुर्लभ यंत्रों का अवश्य ही लाभ उठायें ।

User Name

Password