loading...

दिल की बीमारियों के घरेलू उपचार


Dil Ki Bimari Image
भारत में हार्ट अटैक या दिल की बिमारियों से हर साल लाखों लोगो की मौत होती है। यह बीमारी तनाव, दूषित खानपान, शूगर, ब्लड प्रैशर या मोटापे की वजह से ज्यादा होती है। इसलिए बीमारी में डाक्टर से तुरंत परामर्श लेना जरूरी हो जाता है। वैसे इस बीमारी से समय रहते थोड़ा ध्यान रख कर भी निश्चित ही बचा जा सकता है। *खाने में सरसों तेल का नियमित इस्तेमाल स्वास्थ्य को बेहतर बना सकता है इसमें आवश्यक फैटी एसिड अनुपात से दिल की बीमारी के जोखिम को 70 प्रतिशत कम किया जा सकता है।

*कच्चा लहसुन रोज सुबह खाली पेट छील कर खाने से खून का संचार ठीक रहता है और दिल को मजबूत बनाता है,इससे कोलेस्ट्रॉल भी कम होता है।

*सेब का जूस और आंवले का मुरब्बा खाने से दिल बेहतर ढंग से काम करता है।

*शहद दिल को मजबूत बनाता है। इसलिए एक चम्मच शहद प्रतिदिन अवश्य ही लें।

*रोज 50 ग्राम कच्चा ग्वारपाठा खाली पेट खाने से भी कोलेस्ट्रॉल कम हो जाता है।

*लौकी उबालकर उसमें धनिया, जीरा व हल्दी का चूर्ण तथा हरा धनिया डालकर कुछ देर पकाकर इस सप्ताह में कम से कम 2-3 बार खाइए। इससे दिल को शक्ति मिलती है।

*अनार के रस में मिश्री मिलाकर हर रोज सुबह-शाम पीने से दिल मजबूत होता है।

*बादाम खाने से दिल सेहतमंद रहता है क्योंकि इसमें विटामिन और फाइबर भरपूर मात्रा में होता है।

*अर्जुन छाल और प्याज को बराबर पीस कर समान मात्रा में तैयार कर प्रतिदिन आधा चम्मच दूध के साथ लेने से हृदय रोगों में बहुत ही लाभ मिलता है।

*खाने में अलसी के तेल का प्रयोग करें । अलसी में ओमेगा-3 फैटी एसिड भरपूर मात्रा में होता है जिससे भी दिल मजबूत होता है ।

*छोटी इलायची और पीपरामूल का चूर्ण घी के साथ खाने से भी दिल मजबूत रहता है।

*दिल को मजबूत बनाने के लिए गुड को देसी घी में मिलाकर नित्य खाने से भी बहुत फायदा होता है।

*गाजर के रस को शहद में मिलाकर पीने से भी दिल मजबूत होता है।

*अलसी के पत्ते और सूखे धनिए का काढ़ा बनाकर पीने से भी ह्रदय की कमजोरी मिटती है।



इस साइट के सभी आलेख शोधो, आयुर्वेद के उपायों, परीक्षित प्रयोगो, लोगो के अनुभवों के आधार पर तैयार किये गए है। किसी भी बीमारी में आप अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य ही लें। पहले से ली जा रही कोई भी दवा बंद न करें। इन उपायों का प्रयोग अपने विवेक के आधार पर करें,असुविधा होने पर इस साइट की कोई भी जिम्मेदारी नहीं होगी ।

अपने उपाय/ टोटके भी लिखे :-----
नाम:     

ई-मेल:   

उपाय:    


  • All Post
  •  
  • Admin Reply
1.
sine me dard
(Nilimasrivatava0@gmail.com)
nilima  

2.
dil danakane lagata hai sas fulane lagata hai mai kya karu
(7040315378)
Suraj   

3.
देल की बीमारियों से बचने का एक रामबाण उपाय है। खाना खाने के बाद एक चम्मच हल्दी में दो चम्मच सरसों के तेल को अच्छी तरह से मिला लें , अब इसे गुनगुना होने से कुछ ज्यादा तक गर्म करें फिर इसे ठंडा होने से पहले ही इसका सेवन करें । इसके एक घंटा बाद तक पानी नहीं पीना है।
इसके सेवन से दिल की बीमारियों से बचा जा सकता है, रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है, पेट की बिमारियों दूर होती है, चेहरे पर कील मुहाँसो नहीं होते है,हड्डियाँ मजबूत बनती है।
(info@memorymuseum.net)
admin memorymuseum.net  

4.
यदि किसी का दिल घबराता है, दिल की धड़कन तेज होती है तो हल्के हाथो से हाथ के अंगूठे को खींचे, उसका मसाज करें ।
हाथ के अंगूठे का सम्बन्ध हमारे फेफड़ो से जुड़ा होता है, उसको खींचने से मसाज करने से तुरंत आराम मिलता है।
(info@memorymuseum.net)
admin memorymuseum.net  

5.
Sir mere papa ko dil ka dora padta h sardi m bhut problam hoti h pls kuch upay btay sukriya
(mehtabsaifi9230@.com)
mehtab saifi  

6.
Sir hamari ma ko kidney me 10mm ki pathri hai Esake koe gharelu upai hai
(Sugriv.kumar2000@gmail.com )
Sugriv Kumar singh   

7.
Kan Dard
(manoj sharma@15743gmail.com)
manoj sharma  

8.
दिल की बीमारी से पीड़ित हैं
(www.namankapoor@gmail.com )
naman Kapoor   

9.
shubha ke time Yek chamach honey me lahasun 15 minutes bigho kar Khane se heart pasient ko fayada hota hai
(dubeyop678@ gmail.com)
o.p dubey  

10.
Aap log tibb e nabv padhe kabhi beemar nhi honge upar wale ne chaha
(Mohdsaifansari08@Gmail.com )
Mohammad Saif Ansari   

11.
sir mere ko dil m problem hoti h dil me dard hota h dil mera bahut kamjor h kya karu koi upay batye please ap
(avnishkunaryogi777@gmail)
avnish Kumar yogi  

12.
एक शोध के अनुसार जो लोग सोने से पहले 250 ml गुनगुना पानी पीकर सोते है, उन्हें हार्ट / दिल की , पथरी की या लकवा की परेशानी का बहुत ही कम सामना करना पड़ता है ।
इसलिए सोने से 15 - 20 पहले गुनगुने पानी को पीने की आदत अवश्य ही डालनी चाहिए ।
(info@memorymuseum.net)
admin memorymuseum.net  

13.
SIR,MERKO THODA TEJ BOLNE PR,CHILNE PR,DIL KI DHAKAN TEJ HO JATI H,SARIR KAPNE LGTA H,KRIPA UPAYE BTAYE
(DINESH121006@GMAIL.COM)
DINESH   

14.
Dil
(vikasmani91)
vikas mani  

15.
Dil
(vikasmani91)
vikas mani  

16.
Dil
(vikasmani91)
vikas mani  

17.
Namaskar sir mera Naam Amit hai haal hi mai mere papa
(amitgulia501@gmail.com)
Amit  

18.
Hi sir mere ko seene me dard kaafi jada hota aur usi taraf paseena bHi jada nikalta hai dard aur halki si sweling bhi hai hafte bhar se problem ho rahi hai please sir please koi upaay bataye
(pankajdinkar1991@gmail.com)
pankaj singh  

19.
please give some extra sujession
(vikranttailor4@gmail.com)
vikrant tailor  

20.
Hart
(Vikashgi7777@gmail.com)
Vikash kumar  

21.
High B.P KO KAM KARNE KE KUCH उपाय बताएं
(narendr03780@Gmail.com )
Narender Singh Gusain   

22.
hert
(gautamsharma328@gmail.com)
gautam sharma  

23.
दिल को मजबूत करने के लिए नित्य प्रात: शौच - स्नान के बाद खाली पेट लौकी का जूस पीना अत्यंत लाभदायक है । लौकी के जूस में 7-8 पत्ते तुलसी के , 7-8 पत्ते पुदीना के अनुसार सेंधा या काला नमक भी डाल लें ।
अगर आप कच्ची लौकी का जूस ना पी पाएं तो लौकी का सूप बना कर पियें , उसमें 5-6 लहसुन की फांके, हल्दी, टमाटर, सेंधा या काला नमक भी डाल सकते है ।
दोनों ही तरह से लौकी का सेवन करने से इससे सभी रक्त कोशिकाएं खुल जाती है । इससे हार्ट अटैक का खतरा बिलकुल ख़त्म हो जाता है, जीवन में कभी भी बाय पास सर्जरी या एन्जोप्लास्टी तक की जरुरत नहीं पड़ती है ।
(info@memorymuseum.net)
admin memorymuseum.net  

24.
for heart problem
(vijay100ni@yahoo.co.in)
VIJAY SONI  

25.
हॉट
(Rajukumarjaiswal1233422@gmail.com)
Raju jaiswal  

26.
ज्यादा धबकारे की क्या वजह हो सकती हे
(sarhanbandi@gmail.com)
sarhan bandi  

27.
सब रोगों का एक सबसे सरल उपाय व्ययाम
(Cljat143@gmail. com)
Cljat  

28.
HART
(SUSHIL2BAGPATGMALL@.COM)
SUHHIL KUMAR  

29.
दिल की बिमारियों से मुक्ति पाने के लिए नित्य सुबह शाम एक नींबू को पानी में निचोड़कर उसका सेवन करें। एैसा करने से शरीर / दिल में जमी हुई सारी गंदगी भी दूर हो जाती है।
(info@memorymuseum.net)
admin memorymuseum.net  

30.
aapka bahut bahut dhanyavad, aapki kripa bani rahe.
(guptanc2008@yahoo.com)
N.C.Gupta  





1.
दिल को मजबूत करने के लिए नित्य प्रात: मिश्री और सूखा आंवला को बराबर मात्रा में पीसकर एक चम्मच सेवन करना चाहिए , इससे दिल की बिमारियों से बचाव होता है।
(info@memorymuseum.net)
admin memorymuseum.net  

2.
दिल की कमजोरी दूर करने के लिए रात को एक बर्तन में 50 ग्राम उड़द की दाल भिगों लें फिर सुबह इसको पीसकर आधा गिलास मिश्री युक्त दूध में घोलकर नित्य पियें । इससे दिल को दौरे पड़ने की संभावना भी बहुत ही कम ना के बराबर हो जाती है।
(info@memorymuseum.net)
admin memorymuseum.net  

3.
दिल की बिमारियों से मुक्ति पाने के लिए नित्य सुबह शाम एक नींबू को पानी में निचोड़कर उसका सेवन करें। एैसा करने से शरीर / दिल में जमी हुई सारी गंदगी भी दूर हो जाती है।
(info@memorymuseum.net)
admin memorymuseum.net  

4.
दिल को मजबूत करने के लिए नित्य प्रात: शौच - स्नान के बाद खाली पेट लौकी का जूस पीना अत्यंत लाभदायक है । लौकी के जूस में 7-8 पत्ते तुलसी के , 7-8 पत्ते पुदीना के अनुसार सेंधा या काला नमक भी डाल लें ।
अगर आप कच्ची लौकी का जूस ना पी पाएं तो लौकी का सूप बना कर पियें , उसमें 5-6 लहसुन की फांके, हल्दी, टमाटर, सेंधा या काला नमक भी डाल सकते है ।
दोनों ही तरह से लौकी का सेवन करने से इससे सभी रक्त कोशिकाएं खुल जाती है । इससे हार्ट अटैक का खतरा बिलकुल ख़त्म हो जाता है, जीवन में कभी भी बाय पास सर्जरी या एन्जोप्लास्टी तक की जरुरत नहीं पड़ती है ।
(info@memorymuseum.net)
admin memorymuseum.net  

5.
एक शोध के अनुसार जो लोग सोने से पहले 250 ml गुनगुना पानी पीकर सोते है, उन्हें हार्ट / दिल की , पथरी की या लकवा की परेशानी का बहुत ही कम सामना करना पड़ता है ।
इसलिए सोने से 15 - 20 पहले गुनगुने पानी को पीने की आदत अवश्य ही डालनी चाहिए ।
(info@memorymuseum.net)
admin memorymuseum.net  

6.
यदि किसी का दिल घबराता है, दिल की धड़कन तेज होती है तो हल्के हाथो से हाथ के अंगूठे को खींचे, उसका मसाज करें ।
हाथ के अंगूठे का सम्बन्ध हमारे फेफड़ो से जुड़ा होता है, उसको खींचने से मसाज करने से तुरंत आराम मिलता है।
(info@memorymuseum.net)
admin memorymuseum.net  

7.
देल की बीमारियों से बचने का एक रामबाण उपाय है। खाना खाने के बाद एक चम्मच हल्दी में दो चम्मच सरसों के तेल को अच्छी तरह से मिला लें , अब इसे गुनगुना होने से कुछ ज्यादा तक गर्म करें फिर इसे ठंडा होने से पहले ही इसका सेवन करें । इसके एक घंटा बाद तक पानी नहीं पीना है।
इसके सेवन से दिल की बीमारियों से बचा जा सकता है, रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है, पेट की बिमारियों दूर होती है, चेहरे पर कील मुहाँसो नहीं होते है,हड्डियाँ मजबूत बनती है।
(info@memorymuseum.net)
admin memorymuseum.net  


दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं .....धन्यवाद ।