Memory Alexa Hindi


डेंगू के अचूक उपाय , डेंगू के घरेलु नुस्खे


डेंगू


hand-logo डेंगू से बचने के लिए विटामिन सी ( आँवला , नींबू पानी आदि ) का अधिक से अधिक प्रयोग करें ।

hand-logo डेंगू का मच्छर अधिकतर दिन में काटता है इसलिए फुल आस्तीन की ही पैंट शर्ट,महिलाएँ फुल आस्तीन की सलवार कमीज़ पहनें और घर में यथासंभव मच्छर भगाने की कोई भी अगरबत्ती, मच्छर भगाने का स्प्रे का उपयोग करें जिससे मच्छर ना हो ।

hand-logo डेंगू एक ऐसा वायरल रोग है जिसका मेडिकल चिकित्सा पद्धति में कोई कोई ठोस इलाज नहीं है परन्तु आयुर्वेद में इसका बहुत ही सरल और सस्ता इलाज है जिसे कोई भी कर सकता है।

hand-logo डेंगू बुखार के दौरान रोगी को विटामिन-सी से भरपूर चीजें जैसे आंवला, संतरा या मौसमी अधिक से अधिक मात्रा में लेनी चाहिए। इसके साथ ही हल्दी का भी ज्यादा से ज्यादा प्रयोग करें।
हल्दी को सुबह और रात को आधा आधा चम्मच पानी या दूध के साथ लें । किन्‍तु यदि रोगी को जुकाम भी हो, तो दूध का सेवन न करें।

hand-logo इसके अलावा तुलसी के पत्तों को उबालकर शहद के साथ उसका सेवन करें । इन सभी उपायों से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता सुदृढ़ होती है और शरीर डेंगू की बीमारी से आसानी से लड़ता है ।

hand-logo यदि डेंगू का रोग आपके किसी भी जानने वाले को हो और उसमे ऊपर बताये गए लक्षण दिखें , उसके खून में प्लेटलेट की संख्या कम होती जा रही हो तो यहाँ पर बताई गई चार चीज़ें रोगी को शीघ्र से शीघ्र दें:--

hand-logo 1. अनार जूस

hand-logo 2. गेहूं घास रस / सेब का रस

hand-logo 3. पपीते के पत्तों का रस

hand-logo 4. गिलोय/अमृता/अमरबेल सत्व

hand-logo डेंगू के मरीज को दिन में 3 - 4 बार अनार का जूस देना चाहिए । अनार के जूस से रोगी के शरीर में खून बनता है तथा रोगी की रोग से लड़ने क्षमता बढ़ती है । अनार जूस ताजा निकाल कर दे ही देना चाहिए । डेंगू के मरीज को दिन में अनार कई बार खिलाना चाहिए , इससे खून में प्लेटलेट्स की मात्रा कम नहीं होने पाती है ।

hand-logo डेंगू होने पर ठोस पदार्थों का सेवन ना करें ज्यादा से ज्यादा तरल पदार्थों का सेवन करें ।

hand-logo डेंगू के मरीज को नारियल पानी का ज्यादा से ज्यादा सेवन करना चाहिए ।

hand-logo गेहूं घास के रस के लिए गेंहूँ उगाना पड़ता है जिसमे 7 - 8 दिन लगते है यदि यह उपलब्ध ना हो तो रोगी को उसके स्थानं पर सेब का रस भी दिया जा सकता है l सेब का रस भी ताजा ही निकाल कर देना चहिये। डिब्बे बंद रस से यथासंभव दूर ही रहना चाहिए । डेंगू के मरीज को दिन में सेब भी कई बार खिलाएं इससे शरीर में ताकत आती है ।





इस साइट के सभी आलेख शोधो, आयुर्वेद के उपायों, परीक्षित प्रयोगो, लोगो के अनुभवों के आधार पर तैयार किये गए है। किसी भी बीमारी में आप अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य ही लें। पहले से ली जा रही कोई भी दवा बंद न करें। इन उपायों का प्रयोग अपने विवेक के आधार पर करें,असुविधा होने पर इस साइट की कोई भी जिम्मेदारी नहीं होगी ।