Free Astro, Vastu & Health-Tips

आज गुरुवार का पंचाँग
आज गुरुवार का पंचाँग
"ॐ नमो भगवते वासुदेवाये नमः"॥ आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की द्वादशी तिथि दिन गुरुवार है । गुरुवार को शंख से भगवान विष्णु को स्नान करा के उन्हें पीले चन्दन का तिलक करके पीले फूल चढ़ाते हुए नारियल, आँवले, लौंग, इलाइची , पान आदि चढ़ाकर पूजा करने से आरोग्य और दीर्घ आयु की प्राप्ति होती है।....द्वादशी तिथि के स्वामी श्री हरि विष्णु जी हैं । द्वादशी को इनकी पूजा , अर्चना करने से मनुष्य को समस्त सुख और ऐश्वर्यों की प्राप्ति होती है, उसे समाज में सर्वत्र आदर मिलता है। इस दिन विष्णु सहस्रनाम का पाठ करना अत्यन्त श्रेयकर होता है। .... द्वादशी के दिन तुलसी तोड़ना निषिद्ध है। द्वादशी के दिन यात्रा करने से धन हानि एवं असफलता की सम्भावना रहती है। गुरुवार के दिन तेल का मर्दन करने ( तेल लगाने ) से धनहानि होती है ।जानिए आज गुरुवार का पंचाँग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Thursday
जानिए आज बुधवार का पंचाँग
जानिए आज बुधवार का पंचाँग
"ॐ श्री महा गण गणपतये नमः"॥ आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की एकादशी दिन बुधवार है । बुधवार के दिन तेल का मर्दन करने से अर्थात तेल लगाने से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती है धन लाभ मिलता है। बुधवार का दिन विघ्नहर्ता गणेश का दिन हैं। इस दिन गणेशजी की पूजा अर्चना से, उन्हें रोली का तिलक लगाकर दूर्वा अर्पित करते हुए लड्डुओं का भोग लगाने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।.एकादशी के दिन जल में आँवले का रस डालकर स्नान करने से पुण्य प्राप्त होता है, समस्त पाप नष्ट होते हैं, सभी सुख और ऐश्वर्य प्राप्त होते है। ....एकादशी के दिन किसी भी विष्णु मंदिर / कृष्ण मंदिर में पानी वाला नारियल और बादाम चढ़ाएं इससे आर्थिक पक्ष मजबूत रहता है कार्यो में विघ्न भी नहीं आते है। ...एकादशी के दिन चावल नहीं खाने चाहिए ,जानिए आज बुधवार का पंचाँग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Wednesday
जानिए आज मंगलवार का पंचाँग
जानिए आज मंगलवार का पंचाँग
"प्रेम प्रतीतहि कपि भजै, सदा धरैं उर ध्यान। तेहि के कारज सकल शुभ, सिद्घ करैं हनुमान"॥ आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की दशमी तिथि दिन मंगलवार है। मंगलवार को हनुमान जी की आराधना करने से समस्त संकट दूर होते है । मंगलवार के दिन क्षौरकर्म अर्थात बाल, दाढ़ी काटने या कटाने से उम्र कम होती है । अत: इस दिन बाल और दाढ़ी नहीं कटवाना चाहिए। ...दशमी तिथि के देवता यमराज जी हैं। इस दिन इनकी पूजा करने, इनसे अपने पापो के लिए क्षमा माँगने से जीवन की समस्त बाधाएं दूर होती हैं, निश्चित ही सभी रोगों से छुटकारा मिलता है, नरक के दर्शन नहीं होते है अकाल मृत्यु के योग भी समाप्त हो जाते है। मंगलवार को घर से गुड़ खाकर जाने से कार्यो में सफलता मिलती है , जानिए आज मंगलवार का पंचाँग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Tuesday
जानिए शिव परिवार में भगवान भोले शंकर की बहन, बहुओं, पौत्रो आदि के नाम
जानिए शिव परिवार में भगवान भोले शंकर की बहन, बहुओं, पौत्रो आदि के नाम
भगवान शिव देवो के देव है। हिन्दू धर्म के प्रमुख देवताओं में से हैं। वेद में इन्हें रुद्र तथा तंत्र साधना में इन्हे भैरव के नाम से भी जाना जाता है। उनकी पूजा शिवलिंग तथा मूर्ति दोनों रूपों में की जाती है। भगवान शिव को भोलेनाथ, शंकर, महेश, शिव शम्भु, महादेव, रुद्र और नीलकंठ के नाम से भी जाना जाता है। लेकिन क्या आप जानते है कि शिव परिवार में कौन कौन और देवी देवता है ? जानिए शिव परिवार में भगवान भोले शंकर की बहन, बहुओं, पौत्रो आदि के नाम http://www.memorymuseum.net/hindi/shiv-pariwar.php
http://www.memorymuseum.net/hindi/shiv-pariwar.php
जानिए आज सोमवार का पंचाँग
जानिए आज सोमवार का पंचाँग
"ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्। उर्वारुकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्"॥ आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की नवमी तिथि दिन सोमवार हैं। जीवन में शुभ फलो, परिवारिक सुखो की प्राप्ति के लिए हर सोमवार को शिवलिंग पर पंचामृत या मीठा कच्चा दूध एवं काले तिल चढ़ाएं , इससे भगवान महादेव की कृपा बनी रहती है परिवार से रोग दूर रहते है। ....नवमी तिथि की स्वामिनी माँ दुर्गा हैं। नवमी तिथि में माँ दुर्गा को गुड़हल या लाल गुलाब अर्पित करते हुए दुर्गा जी के किसी भी सिद्द मन्त्र का जाप करने से जीवन के सभी मनोरथ पूर्ण होते है ।..... नवमी तिथि एक रिक्ता तिथि भी है इसलिए इस दिन कोई भी नए और मांगलिक कार्यों की शुरुआत नहीं करें,....नवमी तिथि में लौकी और कद्दू का सेवन नहीं करना चाहिए । ...जानिए आज सोमवार का पंचाँग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Monday
जानिए आज रविवार का पंचाँग
जानिए आज रविवार का पंचाँग
"ॐ घृणि सूर्याय नमः"॥ "जय सूर्य देव-जय सूर्य देव "॥ आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि दिन रविवार है। रविवार को भगवान सूर्य को प्रात: ताम्बे के बर्तन में लाल चन्दन, गुड़, और लाल पुष्प डाल कर अर्घ्य देना चाहिए, एवं आदित्यहृदयस्तोत्रम्‌ का पाठ करना चाहिए। रविवार को यदि संभव हो तो नमक ना खाएं रविवार को मीठा खाना श्रेयकर होता है।......स्कंद पुराण के अनुसार रविवार के दिन बिल्ववृक्ष का पूजन करने से समस्त पाप नष्ट हो जाते हैं। ...अष्टमी तिथि के स्वामी भगवान शिव कहे गए है। अष्टमी तिथि को भगवान शिव की विधि पूर्वक पूजा करने से समस्त सिद्धियां प्राप्त होती है। ...अष्टमी को नारियल खाने से बुद्धि कमजोर होती है.... रविवार को घर से पान या घी खाकर जाने से कार्यो में श्रेष्ठ सफलता मिलती है । जानिए आज रविवार का पंचाँग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Sunday
शनिवार का पंचाग
शनिवार का पंचाग
"ऊँ नीलांजनसमाभासं रविपुत्रं यमाग्रजम । छायामार्तण्डसंभुतं नमामि शनैश्चरम"॥ आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की सप्तमी तिथि दिन शनिवार है। शनिवार के दिन प्रात: पीपल के पेड़ में दूध मिश्रित मीठे जल का अर्ध्य देने और सांय पीपल के नीचे तेल का चतुर्मुखी दीपक जलाने से कुंडली की समस्त ग्रह बाधाओं का निवारण होता है । शनिवार के दिन पीपल के नीचे हनुमान चालीसा पड़ने और गायत्री मन्त्र की एक माला का जाप करने से किसी भी तरह का भय नहीं रहता है, समस्त बिग़डे कार्य भी बनने लगते है । सप्तमी तिथि के स्वामी भगवान सूर्य है। कार्यों में सफलता, विद्द्या, तेज, मान-सम्मान की प्राप्ति के लिए सप्तमी तिथि को सूर्य देव का पूजन करते हुए आदित्य ह्रदय स्त्रोतम का पाठ अवश्य ही करें। जीवन में निरंतर शुभ फलो को नित्य पंचाँग को अवश्य ही पढे / सुने
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Saturday
जानिए आज शुक्रवार का पंचाँग
जानिए आज शुक्रवार का पंचाँग
"ॐ श्री महालक्ष्मयै नमः"॥ लिखें , बोले जय माँ लक्ष्मी॥ आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की षष्टी तिथि दिन शुक्रवार है। शुक्रवार के दिन माँ लक्ष्मी की कमल अथवा गुलाब का फूल चढ़ाकर उनकी पूजा करने , दक्षिणावर्ती शंख से भगवान विष्णु पर जल चढ़ाकर उन्हें पीले चन्दन अथवा केसर का तिलक करने से मां लक्ष्मी शीघ्र प्रसन्न होती हैं। षष्टी तिथि के स्वामी भगवान शिव के पुत्र भगवान कार्तिकेय है । षष्ठी को इनकी पूजा करने से व्यक्ति वीर, शक्ति सम्पन्न एवं यशवान बनता है। ... जिनकी कुंडली में मंगल की दशा चल रही हो या कोई जातक मुक़दमे में फंसा हो तो उसे भगवान कार्तिकेय की पूजा करने से विशेष लाभ मिलता है । ....शुक्रवार को घर से मीठा दही खा कर बाहर जाये इससे कार्यो में सफलता मिलती है जानिए आज शुक्रवार का पंचाँग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Friday
जानिए आज गुरुवार का पंचाँग
जानिए आज गुरुवार का पंचाँग
"श्री मन नारायण नारायण नारायण, हरि मन नारायण नारायण नारायण"॥ आज 7.23 तक फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की पंचमी तिथि तत्पश्चात षष्टी तिथि दिन गुरुवार है। ...गुरुवार को जगत के पालनहार भगवान विष्णु की केसर, पान , गुड़, पीले पुष्पो से पूजा करने से भगवान विष्णु के साथ माँ लक्ष्मी की कृपा भी प्राप्त होती है। ...गुरुवार के दिन तुलसी को जल में कच्चा दूध मिलाकर सींचने से घर में कभी भी धन की कमी नहीं होती है। पंचमी तिथि के स्वामी नाग देव है और षष्टी तिथि के स्वामी भगवान शंकर के पुत्र भगवान कार्तिकेय है। .....जीवन में निरंतर शुभ फलो के लिए नित्य पंचाँग को पढ़ने / सुनने को अपनी अनिवार्य दिनचर्या बनायें, इससे पापो का नाश होता है, कुंडली के ग्रहो के अशुभ फल दूर होते है, पुण्य बढ़ते है, निर्भयता और आत्मबल प्राप्त होता है, जानिए आज गुरुवार का पंचाँग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Thursday
जानिए आज बुधवार का पंचाँग
जानिए आज बुधवार का पंचाँग
"ॐ श्री महा गण गणपतये नमः"॥ जय श्री गणेश, जय श्री गणेश ॥ आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की पंचमी तिथि दिन बुधवार है । बुधवार का दिन विघ्नहर्ता गणेश का दिन हैं। इस दिन गणेशजी की पूजा अर्चना से,गणेश मन्त्र का जाप करने से जीवन से सभी विघ्न दूर होते हैं। पंचमी तिथि के स्वामी नाग देवता हैं। शास्त्रों के अनुसार इस दिन नाग देव की पूजा करने से भय तथा कालसर्प दोष दूर होता है।... पंचमी को नाग देवता का पूजन करने से घर में किसी की भी सांप काटने से मृत्यु नहीं होती है। पंचमी तिथि को पूर्णा भी कहते है। इस तिथि में कोई भी नया कार्य शुरू करने से उसमे सफलता मिलने की सम्भावना बहुत बढ़ जाती है वह कार्य बहुत लम्बे समय तक चलते है । ...बुधवार को गाय को हरी सब्जी चारा खिलाने से आर्थिक पक्ष मजबूत होता है जानिए आज बुधवार का पंचाँग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Wednesday
जानिए आज मंगलवार का पंचाँग
जानिए आज मंगलवार का पंचाँग
"निश्चय प्रेम प्रतीति ते, बिनय करैं सनमान।तेहि के कारज सकल शुभ, सिद्ध करैं हनुमान"॥ ....आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि दिन मंगलवार है। मंगलवार के दिन क्षौरकर्म अर्थात बाल, दाढ़ी काटने या कटाने से उम्र कम होती है। ...प्रत्येक मंगलवार को हनुमान जी को लाल गुलाब अर्पित करते हुए बूंदी / गुड़ चने का प्रशाद चढ़ाकर हनुमान चालीसा एवं बजरंग बाण का पाठ करने से निर्भयता आती है, संकट दूर होते है। .....चतुर्थी तिथि के स्वामी विघ्नविनाशक गणपति गणेश जी है । चतुर्थी को गणपति जी को रोली का तिलक लगाकर दूर्वा चढ़ाते हुए लड्डुओं का भोग लगाएं इससे कार्यो में विघ्न नहीं आते है। .. चतुर्थी को मूली खाने से धन-नाश होता है ...चतुर्थी तिथि में प्रारम्भ किए गए कार्यों के विशेष परिणाम प्राप्त नहीं होते हैं । जानिए आज मंगलवार का पंचाँग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Tuesday
जानिए आज सोमवार का पंचाग
जानिए आज सोमवार का पंचाग
"नागेंद्रहाराय त्रिलोचनाय भस्मांग रागाय महेश्वराय। नित्याय शुद्धाय दिगंबराय तस्मे न काराय नम: शिवाय:॥" आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की तृतीया तिथि दिन सोमवार है। हर सोमवार को शिवलिंग पर पंचामृत या मीठा कच्चा दूध एवं काले तिल चढ़ाएं , इससे भगवान महादेव की कृपा बनी रहती है परिवार से संकट, रोग दूर रहते है। तृतीया तिथि की स्वामी माँ गौरी और कुबेर जी है । ....तृतीया तिथि में माँ गौरी जी की दूध मिठाई, अक्षत और सफ़ेद फूल से पूजा अर्चना करने से जीवन में सुख सौभाग्य की,और भगवान शंकर के प्रिय मित्र कुबेर जी की पूजा करने से सुख समृद्धि और ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है। ...तृतीया तिथि को परवल खाने से शत्रुओं की वृद्धि होती है ) ...कुंडली के ग्रहो के अशुभ फल दूर करने के लिए नित पंचाग को अवश्य ही पढे/ सुने जानिए आज सोमवार का पंचाग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Monday
जानिए आज सोमवार का पंचाग
जानिए आज सोमवार का पंचाग
"नागेंद्रहाराय त्रिलोचनाय भस्मांग रागाय महेश्वराय। नित्याय शुद्धाय दिगंबराय तस्मे न काराय नम: शिवाय:॥" आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की तृतीया तिथि दिन सोमवार है। हर सोमवार को शिवलिंग पर पंचामृत या मीठा कच्चा दूध एवं काले तिल चढ़ाएं , इससे भगवान महादेव की कृपा बनी रहती है परिवार से संकट, रोग दूर रहते है। तृतीया तिथि की स्वामी माँ गौरी और कुबेर जी है । ....तृतीया तिथि में माँ गौरी जी की दूध मिठाई, अक्षत और सफ़ेद फूल से पूजा अर्चना करने से जीवन में सुख सौभाग्य की,और भगवान शंकर के प्रिय मित्र कुबेर जी की पूजा करने से सुख समृद्धि और ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है। ...तृतीया तिथि को परवल खाने से शत्रुओं की वृद्धि होती है ) ...कुंडली के ग्रहो के अशुभ फल दूर करने के लिए नित पंचाग को अवश्य ही पढे/ सुने जानिए आज सोमवार का पंचाग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Monday
 जानिए शनि की कृपा कैसे प्राप्त करें  ...
जानिए शनि की कृपा कैसे प्राप्त करें ...
अगर आज बोलेंगे शनि देव के ये नाम ,...तो निश्चित होगा आपका कल्याण, शनि हुए प्रसन्न, तो होंगे सभी ग्रह अनुकूल, जानिए शनि की कृपा कैसे प्राप्त करें ... जानिए शनि देव के उपाय,
http://www.memorymuseum.net/hindi/shanidev-ke-upay.php
जानिए आज शनिवार का पंचाँग
जानिए आज शनिवार का पंचाँग
"ॐ शं शनिचराये नमः"॥ लिखे "जय शनि देव - जय शनि देव"॥ आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की प्रतिपदा तिथि दिन शनिवार है । शनिवार के दिन क्षौरकर्म अर्थात बाल, दाढ़ी काटने या कटाने से आयु का नाश होता है । अत: शनिवार को बाल और दाढ़ी दोनों को ही नहीं कटवाना चाहिए। शनिवार को पीपल के पेड़ के नीचे शनि मन्त्र का जाप करने, शनि के 10 नामो का उच्चारण करने से शनि देव प्रसन्न होंते है, ग्रहो के अशुभ फल नहीं मिलते है। प्रतिपदा तिथि के स्वामी अग्नि देव हैं। देवताओं में सर्वप्रथम अग्निदेव की उत्पत्ति हुई थी ।अग्निदेव सब देवताओं के मुख हैं और यज्ञ में इन्हीं के द्वारा देवताओं को समस्त यज्ञ-वस्तु प्राप्त होती है। प्रतिपदा को अग्निदेव का स्मरण करने से समस्त भय दूर होते है। प्रतिपदा को कद्दू की सब्जी ना खाएं , शनिवार को शुभ फलो के लिए घर से अदरक या घी खाकर जाएँ , जानिए आज शनिवार का पंचाँग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Saturday
जानिए आज शुक्रवार का पंचाँग
जानिए आज शुक्रवार का पंचाँग
"ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं महालक्ष्मयै नम:"॥ आज माघ माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी तिथि दिन शुक्रवार है। जीवन में निरंतर आर्थिक रूप से सक्षम बने रहने के लिए हर शुक्रवार को माँ लक्ष्मी को हलुए का भोग लगाएं एवं लक्ष्मी मंदिर में सुगन्धित धुप /अगरबत्ती अर्पित करते हुए कुछ वहीँ पर जला कर माँ लक्ष्मी से स्थाई रूप से कृपा करने की प्रार्थना करें। इससे पीढ़ियाँ तक सुख समृद्धि और ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है। चतुर्दशी तिथि के स्वामी भगवान शिव है। चतुर्दशी को भोले शंकर की आराधना करने उनका अभिषेक करने से समस्त संकट दूर होते है, सभी मनाकामनाएं पूर्ण होती है। .....जीवन में अपने भाग्य को प्रबल करने के लिए, पापो का नाश करने के लिए नित्य पंचाग को अवश्य ही पढे / सुने , जानिए आज शुक्रवार का पंचाँग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Friday
जानिए आज गुरुवार का पंचाँग
जानिए आज गुरुवार का पंचाँग
"ॐ नमो नारायण, ॐ नमो नारायण", "प्रेम से लिखे जय श्री हरि , जय श्री हरि" आज माघ माह के शुक्ल पक्ष की त्रियोदशी तिथि दिन गुरुवार है । गुरुवार को शंख से भगवान विष्णु को स्नान करा के उन्हें पीले चन्दन का तिलक लगाकर , पीले फूल , नारियल, पीले मिस्ठान / गुड़ इलाइची,आदि का भोग लगाकर पूजा करने से आरोग्य और दीर्घ आयु की प्राप्ति होती है। ....गुरुवार को वस्त्र नहीं धोने चाहिए वरना लक्ष्मी रुष्ट हो जाती है। ...त्रयोदशी तिथि के स्वामी कामदेव हैं। कामदेव प्रेम के देवता माने जाते है । त्रियोदशी को इनकी पूजा करने से जातक रूपवान होता है, उसे अपने प्रेम में सफलता एवं इच्छित एवं योग्य जीवनसाथी प्राप्त होता है,वैवाहिक सुख भी पूर्णरूप से मिलता है। ....त्रियोदशी को बैगन नहीं खाना चाहिए । जानिए आज गुरुवार का पंचाँग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Thursday
जानिए आज बुधवार का पंचाँग
जानिए आज बुधवार का पंचाँग
"ॐ श्री महागणपतये नमः"॥ "प्रेम से बोलें / लिखे जय श्री गणेश"॥ आज माघ माह के शुक्ल पक्ष की द्वादशी तिथि दिन बुधवार है । बुधवार के दिन तेल का मर्दन करने से अर्थात तेल लगाने से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती है धन लाभ मिलता है। बुधवार का दिन विघ्नहर्ता गणेश का दिन हैं। इस दिन गणेशजी की पूजा अर्चना से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। द्वादशी तिथि के स्वामी श्री हरि विष्णु जी हैं। द्वादशी को इनकी पूजा, अर्चना करने से मनुष्य को समस्त सुख और ऐश्वर्यों की प्राप्ति होती है, उसे समाज में सर्वत्र आदर मिलता है। इस दिन विष्णु सहस्रनाम का पाठ करना अत्यन्त श्रेयकर होता है। द्वादशी के दिन तुलसी तोड़ना निषिद्ध है। द्वादशी के दिन यात्रा नहीं करनी चाहिए, इस दिन यात्रा करने से धन हानि एवं असफलता की सम्भावना रहती है।...जानिए आज बुधवार का पंचाँग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Wednesday
जानिए सुख, समृद्धि, ऐश्वर्य प्राप्ति का उपाय
जानिए सुख, समृद्धि, ऐश्वर्य प्राप्ति का उपाय
जीवन में शुभ समय, समस्त सुखो और ऐश्वर्य की प्राप्ति के लिए एकादशी की रात्रि में एक उपाय अवश्य ही करें। इस उपाय के बारे में विष्णु धर्मेत्तर पुराण में लिखा है कि जो व्यक्ति इस उपाय को करता है उसको जीवन में कभी भी आर्थिक संकट नहीं रहता है। यह उपाय केवल माह की दोनों एकादशी के दिन ही करना होता है। मेरूतंत्र के अनुसार इस उपाय से कुण्डली की अशुभ से अशुभ ग्रह दशाओं में भी धन की देवी माता लक्ष्मी का आशीर्वाद निश्चय ही मिलता है जीवन में धन संपत्ति की कोई भी कमी नहीं रहती है। जानिए सुख, समृद्धि, ऐश्वर्य प्राप्ति का उपाय
http://www.memorymuseum.net/hindi/daridrata-dur-karne-ke-upay.php
जानिए घर परिवार से कलह दूर करने के उपाय
जानिए घर परिवार से कलह दूर करने के उपाय
हर व्यक्ति चाहता है कि उसका सुखी संसार हो परिवार के सदस्यों के मध्य प्रेम और सहयोग का भाव हो। जिस घर के सदस्यों के मध्य प्रेम रहता है वह घर स्वर्ग के समान होता है उस घर पर देवताओं की कृपा रहती है,शुभ कार्य संपन्न होते रहते है, वहाँ के लोग संस्कारी होते है उस घर के लोग जीवन में बहुत आगे बढ़ते है समाज में उस वंश का नाम रौशन करते है । लेकिन जहाँ कलह - कलेश होता है वहाँ के लोगो का जीवन अत्यंत कष्टप्रद होता है, वहाँ रोग, निराशा, दुर्भाग्य, दरिद्रता रहती है, उस घर में नकारात्मक ऊर्जा छाई रहती है, सन्तान नियन्त्रण से बाहर हो जाती है घर छोड़ के चली जाती है वहाँ पर मनुष्य या देवता कोई भी आना पसंद नहीं करते है । जानिए घर परिवार से कलह दूर करने के उपाय
http://www.memorymuseum.net/hindi/grah-kalah-dur-karne-ke-upay.php
जानिए एकादशी के भाग्य को प्रबल करने के अचूक उपाय
जानिए एकादशी के भाग्य को प्रबल करने के अचूक उपाय
प्रेम से लिखे जय श्री विष्णु, जय श्री विष्णु, जय श्री विष्णु आज जया एकादशी है । शास्त्रो के अनुसार एकादशी के दिन कुछ उपायों को करने से भाग्य चमकता है, समस्त सांसारिक सुखो की प्राप्ति होती है । जैसे , एकादशी के दिन भगवान श्री विष्णु के मंदिर में एक नारियल व थोड़े बादाम चढ़ाएं। इस उपाय से जीवन में आर्थिक लाभ की प्राप्ति होती है कार्यों में समस्त बाधाएं भी दूर हो जाती है । जानिए एकादशी के भाग्य को प्रबल करने के अचूक उपाय
http://www.memorymuseum.net/hindi/ekadashi-ke-upay.php
जानिए आज मंगलवार का पंचाग
जानिए आज मंगलवार का पंचाग
"ऊँ हं हनुमंताय नम:"॥ आज माघ माह के शुक्ल पक्ष की जया एकादशी दिन मंगलवार है। कलयुग में हनुमान जी की पूजा शीघ्र फलदाई मानी गयी है। मंगलवार को हनुमान जी को लाल गुलाब अर्पित करके ,गुड़ चना / बूंदी का प्रसाद चढ़ाकर हनुमान चालीसा / सुन्दर काण्ड पढ़ने से समस्त भय / संकट दूर होते है । एकादशी को प्रात: जल में आँवले डाल कर नहाने से समस्त पापो का नाश होता है। एकादशी के दिन जगत के पालनहार भगवान विष्णु जी की पीले फूल, पीले फल , मिष्ठान, आँवले, नारियल से पूजा करने से भगवान विष्णु के साथ माँ लक्ष्मी की कृपा भी प्राप्त होती है। एकदाशी के दिन चावल नहीं खाने चाहिए जानिए आज मंगलवार का पंचाग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Tuesday
जानिए एकादशी के दिन क्या ना करें / एकादशी के दिन निषेध
जानिए एकादशी के दिन क्या ना करें / एकादशी के दिन निषेध
7 फरवरी मंगलवार को माघ माह की शुक्ल पक्ष की जया एकादशी है। एकादशी भगवान विष्णु की सबसे प्रिय तिथि है अत: इस दिन कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए जिससे भगवान श्री हरि की पूर्ण कृपा प्राप्त हो सके। शास्त्रों के अनुसार एकादशी को कई कार्य ऐसे है जो हमें नहीं करने चाहिए, अन्यथा मनुष्य के सभी पुण्य नष्ट हो जाते है, उसके पाप बढ़ते है। जानिए एकादशी के दिन क्या ना करें / एकादशी के दिन निषेध
http://www.memorymuseum.net/hindi/ekadashi-ke-din-kya-na-kare.php
मुख्य द्वार के वास्तु टिप्स
मुख्य द्वार के वास्तु टिप्स
वास्तुशास्त्र के अनुसार किसी भी भवन या ऑफिस के मुख्य द्वार का बहुत महत्व होता है। घर की खुशहाली के लिए परम आवश्यक है कि सबसे पहले उसके मुख्‍य द्वार की दिशा और दशा को बिलकुल ठीक किया जाए। जैसे मानव शरीर में जो महत्‍ता हमारे मुख की है, वही महत्‍ता किसी भी भवन में मुख्‍य द्वार की होती है। हम यहाँ पर आपको मुख्य द्वार के कुछ महत्वपूर्ण वास्तु के उपायों के बारे में बता रहे है जिनको अपनाकर आप निश्चय ही अपने जीवन में सुख समृद्धि ला सकते है । जानिए सुख, समृद्धि, प्रेम आरोग्य और सफलता के लिए मुख्य द्वार के वास्तु टिप्स
http://www.memorymuseum.net/hindi/mukhya-dwar-ka-vastu.php
आज सोमवार का पंचाँग
आज सोमवार का पंचाँग
"ॐ नमः शिवाय शुभं शुभं कुरू कुरू शिवाय नमः ॐ"॥ आज माघ माह के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि दिन सोमवार है। सोमवार को भगवान भोलेनाथ के शिवलिंग पर शहद, काले तिल चढ़ाने से चढ़ाने से समस्त सांसारिक सुखो की प्राप्ति होती है, रोग दूर रहते है । दशमी तिथि के स्वामी यमराज जी है, दशमी तिथि को यमराज जी की पूजा करने, इनके मन्त्र का जाप करने से नरक का भय दूर होता है, पापो का नाश होता है । जीवन में निरंतर शुभ फलो के लिए, अस्थिरताओं को दूर करने के लिए नित्य पंचाग को अवश्य ही पढे/सुने ...जानिए आज सोमवार का पंचाँग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Monday
आज सोमवार का पंचाँग
आज सोमवार का पंचाँग
"ॐ नमः शिवाय शुभं शुभं कुरू कुरू शिवाय नमः ॐ"॥ आज माघ माह के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि दिन सोमवार है। सोमवार को भगवान भोलेनाथ के शिवलिंग पर शहद, काले तिल चढ़ाने से चढ़ाने से समस्त सांसारिक सुखो की प्राप्ति होती है, रोग दूर रहते है । दशमी तिथि के स्वामी यमराज जी है, दशमी तिथि को यमराज जी की पूजा करने, इनके मन्त्र का जाप करने से नरक का भय दूर होता है, पापो का नाश होता है । जीवन में निरंतर शुभ फलो के लिए, अस्थिरताओं को दूर करने के लिए नित्य पंचाग को अवश्य ही पढे/सुने ...जानिए आज सोमवार का पंचाँग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Monday
दशमी तिथि का शुभ अशुभ मुहूर्त
दशमी तिथि का शुभ अशुभ मुहूर्त
6 फरवरी सोमवार को माघ माह की दशमी तिथि है । दशमी तिथि के स्वामी यमराज जी है। इस दिन इनके मन्त्र का जाप करने से, इनकी पूजा करने, इनसे अपने पापो के लिए क्षमा माँगने से जीवन की समस्त बाधाएं दूर होती हैं, निश्चित ही सभी रोगों से छुटकारा मिलता है, नरक के दर्शन नहीं होते है अकाल मृत्यु के योग भी समाप्त हो जाते है। दशमी को परवल की सब्ज नहीं खानी चाहिए। सोमवार को अति शुभ ,शुभ कार्य सिद्धि योग और अमृत योग भी है जानिए दशमी तिथि का समस्त पापो को,नरक के भय को दूर करने वाला यमराज जी का मन्त्र एवं शुभ अशुभ मुहूर्त
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ke-shubh-ashubh-muhurt.php?dayName=Monday
जल्दी शादी के उपाय,  शादी जल्दी करवाने के उपाय,
जल्दी शादी के उपाय, शादी जल्दी करवाने के उपाय,
शास्त्रो के अनुसार विवाह योग्य वर, कन्या का सही समय पर विवाह अवश्य ही हो जाना चाहिए । लेकिन कई बार लाख प्रयास के बाद भी अच्छा रिश्ता नहीं मिलता है, समय पर या जल्दी शादी के योग नहीं बन पाते है । यदि किसी के विवाह में विलम्ब हो रहा हो, उम्र बढ़ती जा रही हो, तो उसे श्रृद्धा से ज्योतिष के जल्दी शादी के उपाय करने चाहिए, जानिए जल्दी शादी के उपाय, शादी जल्दी करवाने के उपाय जो विवाह योग्य जातको को अवश्य ही शुभ फल देंगे । जानिए जल्दी शादी के उपाय, शादी जल्दी करवाने के उपाय, योग्य जीवन साथी के उपाय
http://www.memorymuseum.net/hindi/jaldi-shadi-ke-upay.php
जानिए एकादशी के अचूक उपाय
जानिए एकादशी के अचूक उपाय
मंगलवार 7 फरवरी को जया एकादशी है । इस एकादशी का व्रत करने से व्यक्ति नीच योनियों जैसे भूत, प्रेत, पिशाच की योनि से मुक्त हो जाता है । एकादशी के ब्रत को सभी ब्रतो में सर्वोत्तम माना जाता है । शास्त्रों के अनुसार जो जातक एकादशी के दिन भगवान विष्णु का ब्रत रखता है उनकी विधि विधानपूर्वक पूजा करता है उसे धन सम्पति की कोई भी कमी नहीं होती है उसे जीवन में सभी सुख और ऐश्वर्य प्राप्त होते है । उसे विष्णु लोक में स्थान मिलता है। मान्यता है कि इस दिन किये गए उपायों से सारे कष्ट दूर हो जाते है, जातक को भगवान विष्णु और माँ लक्ष्मी दोनों की असीम कृपा प्राप्त होती है। जानिए एकादशी के अचूक उपाय
http://www.memorymuseum.net/hindi/ekadashi-ke-upay.php
रविवार का पंचाँग
रविवार का पंचाँग
"ॐ ह्रीं घृणिः सूर्य आदित्यः क्लीं ॐ ।" आज माघ माह के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि दिन रविवार है । रविवार को भगवान सूर्य को प्रात: ताम्बे के बर्तन में लाल चन्दन, गुड़, और लाल पुष्प डाल कर अर्घ्य देना चाहिए, एवं आदित्यहृदयस्तोत्रम्‌ का पाठ करना चाहिए।....जीवन में मान सम्मान की प्राप्ति के रविवार को नमक ना खाएं, रविवार को मीठा खाने से सूर्य देव की कृपा मिलती है । ...स्कंद पुराण के अनुसार रविवार के दिन बिल्ववृक्ष का पूजन करने से बड़े से बड़े पाप भी नष्ट हो जाते हैं। ....नवमी तिथि की स्वामिनी माँ दुर्गा हैं। नवमी तिथि को दुर्गा माता का पूजन किया जाना बहुत शुभ रहता है। ....नवमी तिथि एक रिक्ता तिथि है इसलिए इस दिन कोई नए और मांगलिक कार्य ना करें। ....नवमी तिथि में लौकी और कद्दू का सेवन नहीं करना चाहिए ....जानिए आज नवमी तिथि , रविवार का पंचाँग
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Saturday
Loading...